1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. फर्जी कॉल उठाया तो बैंक अकाउंट होगा खाली, समझिए कैसे चलता है इनका पूरा खेल

फर्जी कॉल उठाया तो बैंक अकाउंट होगा खाली, समझिए कैसे चलता है इनका पूरा खेल

अगर आपके फोन में 2G, 3G या 4G सिम को अपग्रेड करने के लिए कोई कॉल आता है तो आप सावधान हो जाइए। ये फेक कॉल हो सकता है, जिससे आपके बैंक अकाउंट से पैसा उड़ाया जा सकता है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: September 14, 2020 21:39 IST
how to remain safe from fraud bank call - India TV Hindi
Image Source : INDIA TV how to remain safe from fraud bank call 

नई दिल्ली। एक फोन कॉल आपको कंगाल बना सकती है। साइबर लुटेरे घोड़े पर नहीं कॉल पर आते हैं। आपके बैंक अकाउंट की खबर Leak हो चुकी है! आज आप मोबाइल कॉल से बैंक डकैती का कनेक्शन समझिए। अगर आपके फोन में 2G, 3G या 4G सिम को अपग्रेड करने के लिए कोई कॉल आता है तो आप सावधान हो जाइए। ये फेक कॉल हो सकता है, जिससे आपके बैंक अकाउंट से पैसा उड़ाया जा सकता है। पुणे की एक महिला चार्टेड अकाउंटेंट के साथ कुछ ऐसा ही हुआ है। हैकर्स ने महिला को पहले 4G सिम अपग्रेड करने का झांसा दिया और बाद में एकाउंट से 2 लाख 20 हज़ार रुपये साफ कर दिए। 

सबसे पहले आप समझिये कि सिम क्लोनिंग या सिम स्वैप क्या होती है और कैसी की जाती है और इससे आपके बैंक अकाउंट से पैसा कैसे निकाला जाता है। 

इसके बाद हम आपको बताएंगे कि इस तरह के फ्रॉड में आप क्या-क्या गलती करते हैं और इससे कैसे बच सकते हैं। कोरोना काल में कहीं जाने से बचने के लिए ये हैकर्स आपको निशाना बना रहे हैं। ये हजारों-लाखों का नहीं बल्कि करोड़ों अरबों रुपये का साइबर डाका है जो आपकी छोटी सी गलती और लापरवाही की वजह से हो रहा है। 

समझिए फर्जी काल का पूरा खेल

मोबाइल घंटी की आवाज
ग्राहक- हैलो 
हैकर- हैलो सर..क्या मेरी बात मनीष अग्रवाल से हो रही है 
ग्राहक- हां जी बोलिये 
हैकर- मैं एयरटेल कस्टमर केयर से निधि बोल रही हूं
ग्राहक- हां बताइये 
ठग- सर आपके एरिया में नेटवर्क प्रोब्लम को ठीक करने के लिए एयरटेल... सिम अपग्रेड प्रोसेस कर रहा है ताकी आपको 4G इंटरनेट स्पीड मिल सके 
क्या आप अपनी सिम को अपग्रेड करवान चाहेंगे सर 
ग्राहक- हां कर दीजिये 
हैकर- इसके लिए सर मैं आपके नंबर पर एक यूनिक कोड जेनेरेट कर रही हूं इसके लिए आपके मैसेज बॉक्स में लिंक आयेगा इसे आपको टाइप करना है और 121 पर भेजना है 
ग्राहक- ओके...एक मिनट..हां आ गया ....अब इसे सेंड करता हूं 121 पर 
हैकर- यस सर
ग्राहक- हां इस पर एक और मैसेज आया है 
हैकर- सर इस पर वन टाइप करके भेज दीजिये 
ग्राहक- ओके... भेज दिया 
हैकर- सर आपका सिम अपग्रेड पर डाल दिया है... अगले 24 घंटे में आपकी सिम अपग्रेड हो जाएगी
इस दौरान आपको नंबर पर नेटवर्क इश्यू आता है या नेटवर्क चला जाता है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। वेट करिएगा आपका प्रोब्लम सॉल्व हो जायेगा। एयरटेल में कॉल करने के लिए धन्यवाद...आपका दिन शुभ हो।  

जानिए क्या करते हैं सिम हैकर्स 

ये एक दिन में किया हुआ काम नहीं है इसके लिए हैकर्स पिछले महीनों से आपकी सारी इनफोरमेशन इकट्ठा कर रहा होता है जैसे आपका नाम, ईमेल आईडी, बैंक अकाउंट नंबर। इसके बाद डुप्लिकेट सिम निकालकर ये हैकर्स आपको अकाउंट साफ कर देते हैं। इस तरह सिम अपग्रेड के बहाने आपकी सिम स्वैप हो जाती है और आपका सारा डेटा हैकर्स के पास पहुंच जाता है और बैंक की सारी डिटेल हैकर्स के पास पहुंच जाती है। इस दौरान बैंक ट्रांजेक्शन से मिलने वाले OTP भी हैकर्स को आसानी मिल जाते हैं और आपके अकाउंट से पैसा निकाल लिया जाता है। आपको फोन करके आपके मोबाइल नंबर की डुप्लिकेट सिम बनवाते हैं। ऐसा करके आपकी सारी जानकारी हैकर्स के पास पहुंच जाती है। जिससे वो आपके बैंक अकांउट को बड़ी आसानी से साफ कर लेते हैं।  

ऐसे आप कर देते हैं गलती

इस पूरे केस में आपसे कहां गलती होती है इसे समझिए, इसमें पहला फेक्टर है लालच। आपको सिम अपग्रेड का लालच दिया जाता है। आपको लगा घर बैठे 4G सिम आ रही है। आपकी दूसरी गलती, कोरोना की वजह से आप घर से बाहर नहीं जा सकते लेकिन कंपनी से कंफर्म तो कर सकते हैं कि सिम अपग्रेड का ऐसा कोई ऑफर चल रहा है क्या? तीसरी गलती- हैकर्स के द्वारा भेजे गये लिंक पर रिवर्ट करना और अपनी जानकारी हैकर्स के पास भेजना।

तेजी से बढ़ रही है साइबर डकैती

साइबर डकैती के रोजाना 7 से केस सामने आ रहे हैं, यानी महीनेभर में 200 से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। जनवरी से अगस्त तक साइबर अपराध से जुड़ी 1 हज़ार 755 FIR दर्ज की गई हैं। सबसे ज्यादा बैंक फ्रॉड से जुड़े अपराध- 725 केस दर्ज किए गए हैं। बैंक फ्रॉड के लिए हैकर्स आपसे किसी न किसी बहाने से डेबिट कार्ड नंबर और पिन नंबर लेते हैं। आपके मोबाइल नंबर पर आये OTP (ONE TIME PASSWORD) पूछते हैं। KYC अपडेट की बात कहकर अंकाउट सस्पेंड की धमकी देते हैं या कैशबैक या कई तरह के ऑफर का लालच देते हैं।  

जानिए कैसे बचें ऐसे फ्राड से

अगर आपको अपना सिम अपग्रेड करवाना है तो सबसे पहले मोबाइल सब्सक्राइबर कंपनी जिसकी आप सेवा ले रहे हैं उसकी वेबसाइट चेक करनी चाहिए और देखना चाहिए कि ऐसी कोई सुविधा कंपनी दे रही है या नहीं। अपने मोबाइल सब्सक्राइबर के कस्टमर केयर नंबर पर बात करके भी जानकारी कंफर्म की जा सकती है। इसके अलावा मोबाइल कंपनी के स्टोर पर भी जाकर आप अपना सिम या ऑफर से जुड़ी जानकारी ले सकते हैं। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X