1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कई शहरों में हल्की से मध्यम वर्षा के साथ ओलावृष्टि की आशंका, जानें अन्य राज्यों के मौसम का हाल

IMD Alert: कई शहरों में हल्की से मध्यम वर्षा के साथ ओलावृष्टि की आशंका, जानें अन्य राज्यों के मौसम का हाल

मौसम एक बार फिर करवट ले रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ एक बार फिर भारत के मौसम पर असर डालेगा। यही नहीं देश के कई राज्यों में पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखाई दे रहा है। उत्तर भारत से लेकर दक्षिण और मध्य भारत के कई हिस्सों में बारिश का पूर्वानुमान है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 17, 2021 16:41 IST
IMD alert weather forecast updates rains with thunderstorm hail storm uttar pradesh madhya pradesh- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV मौसम एक बार फिर करवट ले रहा है। 

नई दिल्ली: मौसम एक बार फिर करवट ले रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ एक बार फिर भारत के मौसम पर असर डालेगा। यही नहीं देश के कई राज्यों में पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखाई दे रहा है। उत्तर भारत से लेकर दक्षिण और मध्य भारत के कई हिस्सों में बारिश का पूर्वानुमान है। इसके चलते उत्‍तराखंड में बारिश और बर्फबारी हो सकती है। एक साथ कई मौसमी सिस्टम सक्रिय हो गए हैं जिसके कारण पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिणी और दक्षिण-पूर्वी उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के कुछ इलाकों में बीते 24 घंटों में वर्षा दर्ज भी की गई है।

मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट

महाराष्ट्र की बात करें तो राज्य के कई इलाकों में तूफान और बारिश का अनुमान है। मौसम विभाग ने महाराष्ट्र के मौसम को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक तीन दिन यानी 16,17 और 18 फरवरी को राज्य के विभिन्न हिस्सों में हल्की से तेज बारिश हो सकती है। IMD से प्राप्त जानकारी के मुताबिक महाराष्‍ट्र के हिंगोली, नांदेड़, कोल्‍हापुर, सांगली, सतारा, परभणी, अकोला, अमरावती, बुलढाणा, भंडारा, चंद्रपुर, गढ़चिरोली, नागपुर, वाशिम, वर्धा, यवतमाल में गरज के साथ हल्‍की से तेज बारिश होने की आशंका है। वहीं मौसम विभाग ने 16 फरवरी के लिए हिंगोली और नांदेड़ जिले में बारिश और तूफान के संबंध में येलो अलर्ट जारी किया है।

ओडिशा के ऊपर बना हुआ है विपरीत चक्रवाती क्षेत्र
18 फरवरी से उत्तर प्रदेश के पूर्वी भागों में बारिश की संभावना कम हो जाएगी और मौसम साफ होने लगेगा। जबकि झारखंड छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के विदर्भ, मराठवाड़ा, मध्य महाराष्ट्र में बारिश की गतिविधियां कम से कम 19 फरवरी तक जारी रहेंगी। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार एक विपरीत चक्रवाती क्षेत्र ओडिशा के ऊपर बना हुआ है। साथ ही महाराष्ट्र के विदर्भ पर इस समय एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र भी सक्रिय है। इस चक्रवाती सिस्टम से केरल तक एक ट्रफ बनी हुई है। इन सभी मौसमी सिस्टमों का संयुक्त प्रभाव देखने को मिल रहा है और उम्मीद है कि यह सिस्टम अगले 3 दिनों तक सक्रिय रहेंगे जिससे मध्य और पूर्वी भारत के कई शहरों में यह बारिश होने की संभावना है।

दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश में गरज के साथ हल्की बौछार की संभावना
सर्दियों के शुष्क महीनों के बाद, मौसम विभाग ने शुक्रवार और शनिवार को दो दिनों के लिए दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना जताई है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, "दक्षिण तटीय आंध्रप्रदेश के दूरदराज के इलाकों में गरज के साथ बारिश या हल्की बौछार होने की संभावना है।" अचानक अप्रत्याशित वर्षा की संभावना ऐसे समय में जताई गई है, जब धान की रबी फसल एक महत्वपूर्ण स्तर पर है और कई किसान अपने झींगा और मछली तालाबों में व्यस्त रहते हैं। इस बीच, दक्षिणी राज्य में सर्दी धीरे-धीरे घट रही है क्योंकि दिन का तापमान हर दिन बढ़ रहा है।

IMD alert weather forecast updates rains with thunderstorm hail storm uttar pradesh madhya pradesh

Image Source : IMD
मौसम एक बार फिर करवट ले रहा है। 

पंजाब और हरियाणा में न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक
पंजाब और हरियाणा में मंगलवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अधिकारियों के अनुसार दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 10.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पंजाब के अमृतसर में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि लुधियाना और पटियाला में न्यूनतम तापमान क्रमश: 10.8 डिग्री सेल्सियस और 8.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हरियाणा के अंबाला में न्यूनतम तापमान नौ डिग्री सेल्सियस जबकि हिसार में 7.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं नारनौल में 8.2 डिग्री, रोहतक में 11.6 डिग्री, भिवानी में 10.5 डिग्री सेल्सियस और सिरसा में 9.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से अधिक है।

कहीं-कहीं पर तेज़ बारिश के बीच ओलावृष्टि की भी आशंका
उम्मीद है कि अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर प्रदेश के तमाम दक्षिणी इलाकों में विशेष रूप से दक्षिण-पूर्वी शहरों, झारखंड के पश्चिमी भागों, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र में कई जगहों पर हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है। इस दौरान बारिश के साथ बादलों की तेज़ गर्जना और कहीं-कहीं पर तेज़ बारिश के बीच ओलावृष्टि की भी आशंका है। इन सभी क्षेत्रों में वर्षा की गतिविधियां 17 फरवरी तक जारी रह सकती हैं।

ये भी पढ़ें

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X