ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. 'मन की बात' में मोदी ने कहा- पीएम पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है, मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं

'मन की बात' में मोदी ने कहा- पीएम पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है, मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं

पीएम मोदी ने कहा-'मैं आज भी सत्ता में नहीं हूं और भविष्य में भी सत्ता में जाना नहीं चाहता हूं | मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 28, 2021 13:12 IST
'मन की बात' में मोदी ने कहा- पीएम पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है, मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहत- India TV Hindi
Image Source : PTI 'मन की बात' में मोदी ने कहा- पीएम पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है, मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं

Highlights

  • Start-Up की दुनिया में आज भारत विश्व में एक प्रकार से नेतृत्व कर रहा है-पीएम मोदी
  • अब लोग सिर्फ Job seekers बनने का सपना नहीं देख रहे बल्कि job creators भी बन रहे हैं-पीएम मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम में कहा कि मेरे लिए प्रधानमंत्री का पद सेवा के लिए है सत्ता के लिए नहीं, मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं। पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में आयुष्मान योजना का उल्लेख करते हुए इसके लाभार्थियों से बात कर रहे थे। इसी दौरान लाभार्थी ने इस योजना की खूबियां गिनाते हुए पीएम मोदी को शुभकामनाएं दी और ये कहा कि वह चाहता है कि आप यूं ही सत्ता में बने रहे। लाभार्थी के इस जवाब पर पीएम मोदी ने उपर्युक्त बातें कही।

पीएम मोदी ने कहा-'मैं आज भी सत्ता में नहीं हूं और भविष्य में भी सत्ता में जाना नहीं चाहता हूं | मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं, मेरे लिए ये पद, ये प्रधानमंत्री सारी चीजें ये सत्ता के लिए है ही नहीं, सेवा के लिए है।'

प्राकृतिक संसाधनों को बचाएं, इसी में हम सबका हित

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में प्राकृतिक संसाधनों को बचाने की भी अपील की। उन्होंने कहा कि हमारे आस-पास जो भी प्राकृतिक संसाधन है, हम उन्हें बचाएं, उन्हें फिर से उनका असली रूप लौटाएँ | इसी में हम सबका हित है, जग का हित है। उन्होंने कहा-'जब हम प्रकृति का संरक्षण करते हैं तो बदले में प्रकृति हमें भी संरक्षण और सुरक्षा देती है! प्रकृति से हमारे लिये खतरा तभी पैदा होता है जब हम उसके संतुलन को बिगाड़ते हैं या उसकी पवित्रता नष्ट करते हैं। प्रकृति माँ की तरह हमारा पालन भी करती है और हमारी दुनिया में नए-नए रंग भी भरती है।'

विश्व मंच पर भारत की स्थिति और मज़बूत बनेगी-पीएम मोदी
उन्होंने Start-Up और युवाओं का जिक्र करते हुए कहा-' आज कल हम चारों तरफ सुनते हैं Start-Up, Start-Up, Start-Up | सही बात है, ये Start-Up  का युग है, और ये भी सही है कि Start-Up की दुनिया में आज भारत विश्व में एक प्रकार से नेतृत्व कर रहा है | साल-दर-साल Start-Up को record निवेश मिल रहा है। ये हमारे देश के युवाओं का ये सामर्थ्य ही है कि कोई भी बड़ी चुनौती उठा लेते हैं और रास्ते खोज रहें हैं! जहाँ अब लोग सिर्फ Job seekers बनने का सपना नहीं देख रहे बल्कि job creators भी बन रहे हैं। इससे विश्व मंच पर भारत की स्थिति और मज़बूत बनेगी।

elections-2022