1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. 26/11 मुंबई हमले की 13वीं बरसी पर देश कर रहा है शहीदों को नमन, 166 लोगों की हुई थी मौत

26/11 मुंबई हमले की 13वीं बरसी पर देश कर रहा है शहीदों को नमन, 166 लोगों की हुई थी मौत

मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, उपमुख्यमंत्री अजीत पवार और शिवसेना के नेता आदित्य ठाकरे ने 26/11 हमले के मृतकों को श्रद्धांजलि दी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 26, 2021 11:17 IST
26/11 मुंबई हमले की 13वीं बरसी पर देश कर रहा है शहीदों को नमन, 166 लोगों की हुई थी मौत- India TV Hindi
Image Source : PTI (FILE PHOTO) 26/11 मुंबई हमले की 13वीं बरसी पर देश कर रहा है शहीदों को नमन, 166 लोगों की हुई थी मौत (फाइल फोटो)

Highlights

  • उन सभी सुरक्षाकर्मियों के साहस को सलाम करता हूं, जिन्होंने आतंकवादियों का डटकर सामना किया-अमित शाह
  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी शहीदों को किया नमन

मुंबई: मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकवादी हमले की 13 वीं बरसी पर आज शहीदों को पूरा राष्ट्र नमन कर रहा है। आतंकियों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई में शहीद सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि देकर उनके बलिदान को याद किया जा रहा है। मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, उपमुख्यमंत्री अजीत पवार और शिवसेना के नेता आदित्य ठाकरे ने सीपी कार्यालय में 26/11 हमले के मृतकों को श्रद्धांजलि दी।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुंबई हमले के शहीदों की श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने ट्वीट कर कहा- मुंबई 26/11 आतंकी हमलों में जान गंवाने वालों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि। उन सभी सुरक्षाकर्मियों के साहस को सलाम करता हूं, जिन्होंने आतंकवादियों का डटकर सामना किया। पूरे देश को आपकी वीरता पर गर्व रहेगा। कृतज्ञ राष्ट्र सदैव आपके बलिदान का ऋणी रहेगा।'

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी 26/11 आतंकी हमले की 13वीं वर्षगांठ पर हमले में मारे गए लोगों और सुरक्षा जवानों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की।

आपको बता दें कि 26 नवंबर 2008 को लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकवादी समुद्र के रास्ते यहां पहुंचे और गोलीबारी की जिसमें 18 सुरक्षाकर्मियों समेत 166 लोग मारे गए थे तथा अनेक लोग घायल हुए थे। एनएसजी और अन्य सुरक्षाबलों ने नौ आतंकवादियों को ढेर कर दिया था तथा अजमल आमिर कसाब नाम के आतंकवादी को जिंदा पकड़ लिया गया था जिसे 21 नवंबर 2012 को फांसी दे दी गई। हमले में जान गंवाने वालों में तत्कालीन एटीएस प्रमुख हेमंत करकरे, सेना के मेजर संदीप उन्नीकृष्णन, मुंबई के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अशोक काम्टे और वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विजय सालस्कर शामिल भी थे। 

bigg boss 15