1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला- गुजरात, MP, हरियाणा, पंजाब से आने वालों का कोरोना टेस्ट जरूरी

राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला- गुजरात, MP, हरियाणा, पंजाब से आने वालों का कोरोना टेस्ट जरूरी

कोरोना वायरस महामारी के फिर से बढ़ते खतरे को देखते हुए राजस्थान सरकार ने बड़ा निर्णय लेते हुए कुछ राज्य से आने वाले लोगों के लिए कोरोना टेस्ट दिखाना जरूरी कर दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 07, 2021 0:01 IST
राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला- गुजरात, MP, हरियाणा, पंजाब से आने वालों का कोरोना टेस्ट जरूरी- India TV Hindi
Image Source : PTI राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला- गुजरात, MP, हरियाणा, पंजाब से आने वालों का कोरोना टेस्ट जरूरी

जयपुर: कोरोना वायरस महामारी के फिर से बढ़ते खतरे को देखते हुए राजस्थान सरकार ने बड़ा निर्णय लेते हुए कुछ राज्य से आने वाले लोगों के लिए कोरोना टेस्ट दिखाना जरूरी कर दिया है। राजस्थान सरकार ने गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा और पंजाब से आने वाले लोगों के लिए राजस्थान में प्रवेश करने पर कोविड आरटी-पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट दिखानी अनिवार्य कर दी है।

राज्य गृह विभाग ने बताया, "गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा और पंजाब से आने वाले लोगों को राजस्थान में प्रवेश करने के लिए कोविड आरटी-पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट दिखानी होगी।" गौरतलब है कि राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण के शनिवार को 243 नए कोविड-19 मामले सामने आए, जिसके साथ ही कुल संक्रमतों की संख्या 3,21,356 हो गई।

राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 243 नए कोरोना केस मिलने के अलावा, 114 लोग कोरोना को हराकर ठीक हो गए, इसके साथ ही राज्य में कुल ठीक होने वाले लोगों की संख्या 3,16,864 हो गई। फिलहाल, राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 1,703 है। यहां अभी तक कुल 2,789 लोगों की संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है।

राजस्थान में शनिवार को 75 वर्षीय समाजवादी नेता और भरतपुर के पूर्व सांसद पंडित रामकिशन उन लोगों में शामिल थे, जिन्हें कोविड-19 वैक्सीन दी गई। अभियान के तहत 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और 45 साल से अधिक उम्र के उन लोगों को वैक्सीन दी गई, जो कई जटिल रोगों से ग्रस्त हैं। पूर्व सांसद रामकिशन ने जयपुर के एक निजी अस्पताल में वैक्सीन की पहली खुराक ली।

राज्य में तीसरे चरण के इनोक्यूलेशन ड्राइव में वरिष्ठ नागरिकों ने बड़ी संख्या में वैक्सीन लगवाई। पिछले पांच दिनों में सात लाख से अधिक लोगों ने टीका लगवाया। राज्यपाल कलराज मिश्र, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित कई वीआईपी लोगों को पिछले कुछ दिनों में वैक्सीन की पहली खुराक ले चुके हैं।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, राजस्थान में 60 से अधिक आयु के 2.35 लाख लोग और 45 से 59 वर्ष की आयु में गंभीर बीमारी से पीड़ित 17,000 से अधिक लोगों को टीका लगाया गया है।

(इनपुट- ANI और IANS)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X