Ankita Murder Case: अंकिता हत्याकांड के तीनों आरोपियों को SIT लेगी रिमांड पर, रीक्रिएट किया जाएगा सीन

Ankita Murder Case: मामले में अधिक जानकारी जुटाने के लिए परिजनों और उसके दोस्तों से भी पूछताछ की जा रही है। इस मामले को लेकर पुलिस कोई भी कोताही नहीं बरतना चाह रही है, जिसके लिए राज्य पुलिस के प्रमुख हर रोज मामले को लेकर अधिकारियों के साथ जांच को लेकर हर दिन समीक्षा करेंगे।

Sudhanshu Gaur Written By: Sudhanshu Gaur @SudhanshuGaur24
Updated on: September 26, 2022 8:12 IST
Ankita Murder Case- India TV Hindi
Image Source : FILE Ankita Murder Case

Highlights

  • रविवार को मौका ए वारदात पर की गई जांच
  • पुलकित के रिजॉर्ट में नौकरी करती थी अंकिता
  • मृतका पर शारीरिक संबंध बनाने के लिए बनाया जा रहा था दबाव

Ankita Murder Case: उत्तराखंड के अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले की जांच कर रही स्पेशल टास्क फोर्स जल्द ही तीनों आरोपियों को अपनी कस्टडी में लेगी। आरोपियों को रिमांड पर लेने के लिए SIT आज सोमवार को कोर्ट में आवेदन कर सकती है। एसआईटी ने रविवार को कई लोगों से पूछताछ की है। एसआईटी की एक टीम अंकिता द्वारा नहर में फेंके गए पुलकित के मोबाइल की भी तलाश कर रही है। मामले की जांच को लेकर SIT की टीम कल रविवार को घटनास्थल पर भी गई थी, जहां उन्होंने कई पहलुओं को जानने की कोशिश की। 

मामले में अधिक जानकारी जुटाने के लिए परिजनों और उसके दोस्तों से भी पूछताछ की जा रही है। इस मामले को लेकर पुलिस कोई भी कोताही नहीं बरतना चाह रही है, जिसके लिए राज्य पुलिस के प्रमुख हर रोज मामले को लेकर अधिकारियों के साथ जांच को लेकर हर दिन समीक्षा करेंगे। बता दें कि, अंकिता के हत्यारोपियों को 23 सितंबर को ही कोर्ट ने न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया था।

रविवार को मौका ए वारदात पर की गई जांच 

एसआईटी ने शनिवार को मौके पर जाकर छानबीन की थी। इसके अलावा चीला पावर हाउस के पास भी एसआईटी ने कई लोगों से जानकारी ली है। एसआईटी रविवार को घटनास्थल पर भी गई थी। पोस्टमार्टम की प्राथमिक रिपोर्ट में अंकिता को मृत्यु के पहले की चोट लगने का खुलासा हुआ है। इसके लिए एसआईटी ने मौके पर जाकर स्थिति को देखा। वहां पर पता लगाने की कोशिश की गई कि कैसे अंकिता को धक्का दिया गया होगा। उसे चोट लगी तो कैसे लगी। इन सब बातों के लिए एसआईटी अब आरोपियों को पुलिस कस्टडी रिमांड (पीसीआर) में भी लेगी, ताकि उनसे इस मामले में पूछताछ की जा सके।

वायरल हो रहा एक ऑडियो 

अंकिता भंडारी मर्डर केस के आरोपी पुलकित का कथित ऑडियो टेप वायरल हो रहा है। इसमें वह अंकिता के दोस्त पुष्प को गुमराह करते हुए सुनाई दे रहा है। दरअसल, अंकिता जब लापता हुई थी तो उसके दोस्त पुष्प ने पुलकित को फोन किया था और उससे अंकिता के बारे में पूछा था। इस पर पुलकित ने कहा कि अंकिता ऋषिकेश से साथ लौटी और रिजॉर्ट में सोने चली गई। लेकिन सुबह वह अपने रूम में नहीं मिली। अंकिता मर्डर केस में पुलकित आर्य मुख्य आरोपी है।

पुलकित के रिजॉर्ट में नौकरी करती थी अंकिता

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 19 साल की अंकिता (Ankita Bhandari) ने 12वीं की पढ़ाई पूरी कर ली थी और वह कॉलेज जाना चाहती थी। लेकिन पिता की नौकरी छूटने के बाद अंकिता (Ankita Bhandari) ने बीते महीने के आखिर में ये फैसला लिया कि वह एक रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के तौर पर काम करेगी। इस रिजॉर्ट का मालिक पुलकित आर्य है, जोकि गिरफ्तार हो चुका है। पुलकित पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य का पुत्र है। अंकिता ने अपने घर के आर्थिक हालात को देखते हुए ये फैसला किया था कि वो नौकरी करेगी। 

अंकिता पर शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाया जा रहा था

अंकिता भंडारी हत्याकांड (Ankita Bhandari Murder) मामले में डीजीपी अशोक कुमार ने कई चौंका देने वाले खुलासे किए थे। डीजीपी अशोक कुमार की मानें तो बीजेपी नेता का बेटा और रिजॉर्ट मालिक पुलकित आर्य ने अंकिता भंडारी पर अपने भाई अंकित आर्य को स्पेशल सर्विस देने के लिए दबाव बनाया था। डीजीपी अशोक कुमार के कहा था कि अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) के मोबाइल से मिले स्क्रीनशॉट से पुलिस को कुछ अहम सबूत मिले हैं। इसके आधार पर कहा जा सकता है कि अंकिता पर शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। इसी गलत काम के दबाव को लेकर आपस में झगड़ा हुआ होगा और उसके बाद इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया गया।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन