Thursday, July 25, 2024
Advertisement

एक साथ दो-दो साइक्लोन, मिलकर मचाएंगे तबाही? चक्रवाती तूफान 'तेज' और 'हामून' पर IMD का लेटेस्ट अपडेट

एकसाथ दो-दो चक्रवाती तूफान, जो विरले ही आते हैं। हमास और तेज दोनों बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में तब्दील हो गए हैं। मौसम विभाग ने इसे लेकर चेतावनी जारी की है। जानिए आईएमडी का लेटेस्ट अपडेट-

Edited By: Kajal Kumari @lallkajal
Updated on: October 24, 2023 8:45 IST
cyclone tej and hamoon- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO चक्रवाती तूफान तेज और हामून

Cyclone Latest Update: अरब सागर और बंगाल की खाड़ी, भारत के आसपास दो-दो चक्रवाती तूफान मंडरा रहे हैं, जो एक दुर्लभ घटना कही जा रही है। आईएमडी ने दोनों चक्रवाती  तूफानों को गंभीर श्रेणी का बताया है और इसे लेकर चेतावनी जारी की है। इससे पहले साल 2018 में लुबान और तितली के रूप में दो तूफान आए थे जो उत्तरी हिंद महासागर से उठे थे और अब इसके बाद अब तेज और हमास आने वाले हैं। भारत की पश्चिमी मध्य सीमा  में एत गहरा दबाव हना गै डो चक्रवाती तूफान "हैमून" ते रूप में बेहद गंभीर श्रेणी में तब्दील हो गया है और सोमवार की शाम 17.30 बजे पारादीप (ओडिशा) से लगभग 230 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व, दीघा (पश्चिम बंगाल) से 360 किमी दक्षिण और खेपुपारा (बांग्लादेश) के दक्षिण-पश्चिम में केंद्रित था।  

आईएमडी ने पश्चिम बंगाल, ओडिशा, मिजोरम और मेघालय सहित देश के सात राज्यों में बारिश की चेतावनी जारी की है।

चक्रवाती तूफान को लेकर आईएमडी ने कही ये बात

मौसम विभाग के ताजा अपडेट के मुताबिक बहुत गंभीर श्रेणी के चक्रवाती तूफान तेज ने 24 अक्टूबर को 2.30 के दौरान अल ग़ैदा के दक्षिण में यमन तट को पार किया, इस दौरान अधिकतम निरंतर हवा की गति 125-135 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 150 किमी प्रति घंटे तक पहुंच गई। आईएमडी के मुताबिक अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान तेज के लिए भूस्खलन की प्रक्रिया जारी है और कुछ घंटों के भीतर ये लैंडफॉल की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। इसके बाद तूफान के अल-ग़ैदा के दक्षिण के करीब यमन तट को पार करने की बहुत संभावना है।

पश्चिम मध्य अरब सागर के ऊपर चक्रवाती तूफान तेज 23 अक्टूबर को 23.30 बजे पश्चिम मध्य अरब सागर के ऊपर यमन तट के बहुत करीब, अल ग़ैदाह (यमन) से लगभग 30 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व में केंद्रित था। 

बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान बना हैमून

चक्रवाती तूफान "हैमून" की बात करें तो बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी के ऊपर एक गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है। चक्रवाती तूफान हैमून के अगले 6 घंटों के दौरान उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है। इसके लगभग उत्तर-उत्तरपूर्व की ओर बढ़ने और डीप डिप्रेशन के रूप में 25 अक्टूबर की दोपहर के आसपास खेपुपारा और चटगांव के बीच बांग्लादेश तट को पार करने की बहुत संभावना है।

चक्रवाती तूफान हामून उत्तर-पश्चिम और पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर पिछले 6 घंटों के दौरान 18 किमी प्रति घंटे की गति के साथ उत्तर-पूर्व में दीघा (पश्चिम बंगाल) के दक्षिण-दक्षिणपूर्व में बढ़ा और 23 अक्टूबर को 23.30 बजे उसी क्षेत्र में पारादीप (ओडिशा) से लगभग 200 किमी दक्षिण-पूर्व में, 290 किमी दूर केंद्रित था। आईएमडी ने कहा कि गहरे दबाव के रूप में 25 अक्टूबर की शाम के आसपास खेपुपारा और चटगांव के बीच बांग्लादेश तट को पार करने की उम्मीद है। 

मौसम विभाग ने जारी किया है अलर्ट

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को कहा कि दक्षिण-पश्चिम अरब सागर के ऊपर बन रहा चक्रवात तेज एक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है। इस बीच, हामून बंगाल की खाड़ी में बन रहा है। हामून का नाम ईरान ने रखा है. यह एक फ़ारसी शब्द है जो अंतर्देशीय रेगिस्तानी झीलों या दलदली भूमि को संदर्भित करता है, जो हेलमंद बेसिन से सटे क्षेत्रों में प्राकृतिक मौसमी जलाशयों के रूप में बनती हैं। 

 इस बीच, चक्रवात तेज, 25 अक्टूबर की शुरुआत में अल ग़ैदाह (यमन) और सलालाह (ओमान) के बीच यमन-ओमान तटों को पार करेगा। मौसम विभाग ने मछुआरों और तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों को इस दौरान बाहर न निकलने की चेतावनी जारी की है। जून में, अरब सागर से उठा चक्रवात 'बिपरजॉय' गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र के कुछ हिस्सों से होकर गुजरा और तबाही का मंजर छोड़ गया था।

ये भी पढ़ें:

"अगर बिजली गई तो हम बच्चों को किसी भी वक्त खो सकते हैं" इजराइल-हमास जंग के बीच गाजा हॉस्पिटल ने दुनिया से मांगी मदद

फिर हिली नेपाल की धरती, काठमांडू में महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके, 4.1 मापी गई तीव्रता

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement