Draupadi Murmu Oath: आज शपथ ग्रहण करेंगी द्रौपदी मुर्मू, होंगी देश की 15 वीं राष्ट्रपति

Draupadi Murmu Oath: द्रौपदी मुर्मू का शपथ ग्रहण समारोह आज सुबह करीब सवा 10 बजे संसद के केंद्रीय कक्ष में होगा, जहां प्रधान न्यायाधीश एनवी रमणा उन्हें राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाएंगे।

Sudhanshu Gaur Written By: Sudhanshu Gaur
Updated on: July 25, 2022 10:15 IST
Draupadi Murmu Oath- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV Draupadi Murmu Oath

Highlights

  • संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में दिलाई जायेगी शपथ
  • शपथ ग्रहण के बाद दी जाएगी 21 तोपों की सलामी
  • शपथ ग्रहण में पहन सकती हैं संथाली साडी

Draupadi Murmu Oath: नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज सोमवार को देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद की शपथ लेंगी। वह देश की 15वीं राष्ट्रपति बनेंगी। देश की आजादी के बाद पैदा होने वाली पहली और शीर्ष पद पर काबिज होने वाली सबसे कम उम्र की राष्ट्रपति होंगी। इसके साथ ही वह राष्ट्रपति बनने वाली दूसरी महिला होंगी। मुर्मू से पहले प्रतिभा देवी सिंह पाटिल देश की राष्ट्रपति रह चुकी हैं।

ये रहेगा कार्यक्रम 

सुबह 9:25 बजे- द्रौपदी मुर्मू गार्ड ऑफ ऑनर के लिए राष्ट्रपति भवन पहुंचेंगी।

सुबह 10:10 बजे- मौजूदा राष्ट्रपति कोविंद और नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू संसद के केंद्रीय कक्ष में पहुंचेंगे, जिसके राष्ट्रगान होगा।

सुबह 10:15 बजे- मुख्य न्यायाधीश एन. वी. रमण द्रौपदी मुर्म को राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाएंगे।

10:16 बजे- नवनिर्वाचित राष्ट्रपति को 21 तोपों की सलामी दी जाएगी।

10:20 बजे- नवनिर्वाचित राष्ट्रपति का 25 मिनट का भाषण होगा।

10:45 बजे- रामनाथ कोविंद और द्रौपदी मुर्मू संसद भवन से राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना होंगे।

सुबह 10:50 बजे- राष्ट्रपति भवन के फोरकोर्ट में हैडिंग ओवर सेरमनी होगी।

सुबह 11 बजे- रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति भवन से विदा होंगे।

शपथ ग्रहण के बाद दी जाएगी 21 तोपों की सलामी 

द्रौपदी मुर्मू का शपथ ग्रहण समारोह आज सुबह करीब सवा 10 बजे संसद के केंद्रीय कक्ष में होगा, जहां प्रधान न्यायाधीश एनवी रमणा उन्हें राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाएंगे। इसके बाद द्रौपदी मुर्मू को 21 तोपों की सलामी दी जाएगी। गौरतलब है कि राष्ट्रपति ही देश की तीनों सेनाओं का सुप्रीम कमांडर होता है, इसलिए प्रत्येक नए राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण के बाद उन्हें 21 तोपों की सलामी दी जाती है। 21 तोपों की सलामी दिए जाने के बाद राष्ट्रपति का संबोधन होगा। 

संसद के केंद्रीय कक्ष में समारोह के समापन पर राष्ट्रपति, ‘राष्ट्रपति भवन’ के लिए रवाना होंगी, जहां उन्हें ‘इंटर-सर्विस गार्ड ऑफ ऑनर’ दिया जाएगा और निवर्तमान राष्ट्रपति का शिष्टाचार सम्मान किया जाएगा। आपको बता दें कि मुर्मू ने गुरुवार को विपक्षी दलों के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को हराकर इतिहास रचा था। मुर्मू को सांसदों और विधायकों के 64 प्रतिशत से अधिक वोट मिले और उन्होंने भारी मतों के अंतर से चुनाव जीता। मुर्मू को सिन्हा के 3,80,177 वोटों के मुकाबले 6,76,803 वोट मिले।

शपथ ग्रहण में पहन सकती हैं संथाली साड़ी

द्रौपदी मुर्मू आज सोमवार को पारंपरिक संथाली साड़ी पहन कर शपथ ग्रहण कर सकती हैं। कहा जा रहा है कि मूर्मू की भाभी सुकरी टुडू पूर्वी भारत में संथाल समुदाय की महिलाओं द्वारा पहनी जाने वाली एक खास साड़ी लेकर दिल्ली आ रही हैं। उन्होंने बताया कि, वे उनके लिए पारंपरिक संथाली साड़ी ला रही हैं और उम्मीद जताई कि वह शपथ ग्रहण समारोह के दौरान इसे पहनेंगी। आपको बता दें कि द्रौपदी मुर्मू आदिवासी समाज से आती हैं और देश के सर्वोच्च पद पर पहुंचने वाली प्रथम आदिवासी महिला हैं। 

Latest India News

navratri-2022