ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. PM Modi Startup Interaction: 150 से अधिक स्टार्टअप कारोबारियों के साथ पीएम मोदी का संवाद, इन विषयों पर चर्चा

PM Modi Startup Interaction: 150 से अधिक स्टार्टअप कारोबारियों के साथ पीएम मोदी कर रहे हैं संवाद, इन विषयों पर चर्चा

पीएमओ ने कहा, “यह 2016 में फ्लैगशिप पहल स्टार्टअप इंडिया के लॉन्च में रिफ्लेक्ट हुआ था। सरकार ने स्टार्टअप के विकास और विकास को बढ़ावा देने के लिए एक सक्षम माहौल प्रदान करने पर काम किया है।”

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 15, 2022 12:07 IST
PM Modi- India TV Hindi
Image Source : PTI PM Modi

Highlights

  • 150 से अधिक स्टार्टअप को 6 कार्य समूहों में विभाजित किया गया- पीएमओ
  • "इनोवेशन चलाकर स्टार्टअप देश की जरूरतों में कैसे योगदान दे सकते"

PM Modi interact With startups: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज एग्रीकल्चर (Agriculture) और हेल्थ (Health) सहित अलग-अलग क्षेत्रों के 150 से अधिक स्टार्टअप कारोबारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जुड़ेंगे। एग्रीकल्चर और हेल्थ के अलावा इंटरप्राइज सिस्टम, स्पेस, उद्योग 4.0, सुरक्षा, फिनटेक और पर्यावरण सेक्टर के अलग-अलग स्टार्टअप इस कार्यक्रम के हिस्से होंगे। 

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने अपने एक बयान में कहा, “150 से अधिक स्टार्टअप को 6 कार्य समूहों में विभाजित किया गया है, जिनमें जड़ों से बढ़ना (Growing from Roots), डीएनए को कुतरना (Nudging the DNA), स्थानीय से वैश्विक तक (From Local to Global), भविष्य की तकनीक, निर्माण में चैंपियन बनाना और सतत विकास शामिल हैं।”

दरअसल, पीएम मोदी की बातचीत का उद्देश्य यह समझना है कि देश में इनोवेशन चलाकर स्टार्टअप देश की जरूरतों में कैसे योगदान दे सकते हैं। बयान में कहा गया है, “आजादी का अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में, एक सप्ताह तक चलने वाले कार्यक्रम, ‘सेलिब्रेटिंग इनोवेशन इकोसिस्टम’ का आयोजन 10 से 16 जनवरी तक डीपीआईआईटी, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है।

 
पीएमओ ने कहा है कि प्रधानमंत्री देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए स्टार्टअप की क्षमता में विश्वास रखते हैं। पीएमओ ने कहा, “यह 2016 में फ्लैगशिप पहल स्टार्टअप इंडिया के लॉन्च में रिफ्लेक्ट हुआ था। सरकार ने स्टार्टअप के विकास और विकास को बढ़ावा देने के लिए एक सक्षम माहौल प्रदान करने पर काम किया है।”

 

elections-2022