'भारत जोड़ो यात्रा राष्ट्रीय राजनीति के लिए क्रांतिकारी क्षण, इससे लोगों को एक विकल्प मिलेगा'- जयराम रमेश

जयराम रमेश ने कहा कि यात्रा के दौरान आर्थिक असमानता, ध्रुवीकरण और राजनीतिक तानाशाही जैसे मुद्दों को उजागर किया गया। यात्रा में बेरोजगारी और गरीबी जैसे जरूरी मुद्दे उठाए गए हैं।

Sudhanshu Gaur Edited By: Sudhanshu Gaur @SudhanshuGaur24
Published on: November 20, 2022 17:55 IST
भारत जोड़ो यात्रा- India TV Hindi
Image Source : FILE भारत जोड़ो यात्रा

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने रविवार को कहा कि भारत जोड़ो यात्रा राष्ट्रीय राजनीति और पार्टी के लिए एक क्रांतिकारी क्षण है तथा इसे चुनावी सफलता में तब्दील करने में कुछ समय लगेगा। महाराष्ट्र में पदयात्रा के अंतिम दिन मीडिया से बात करते हुए जयराम रमेश ने कहा कि, "लोग एक विकल्प की तलाश कर रहे हैं तथा भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से निजात पाना चाहते हैं।" 

'यात्रा की सफलता को चुनावी सफलता में तब्दील करने में कुछ वक्त लगेगा'

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस एकमात्र विचारधारा है, जो भाजपा और आरएसएस का विकल्प प्रस्तुत करती है। भारत जोड़ो यात्रा राष्ट्रीय राजनीति के लिए एक क्रांतिकारी क्षण है, एक कार्यक्रम नहीं।’’ रमेश ने कहा कि यात्रा की सफलता को चुनावी सफलता में तब्दील करने में कुछ वक्त लगेगा। उन्होंने कहा कि यात्रा महाराष्ट्र में 21 और 22 नवंबर को रुकी रहेगी और 23 नवंबर को मध्य प्रदेश की ओर बढ़ेगी।

भारत जोड़ो यात्रा

Image Source : PTI
भारत जोड़ो यात्रा

पार्टी ने इससे पहले कहा था कि यात्रा रविवार को मध्य प्रदेश की ओर बढ़ेगी और बुरहानपुर में रात्रि विश्राम करेगी। कांग्रेस के पहले के कार्यक्रम के मुताबिक, यात्रा को सोमवार को विश्राम दिया जाएगा। चुनाव प्रचार के लिए राहुल गांधी के सोमवार को गुजरात का दौरा करने का कार्यक्रम है। रमेश ने यात्रा के लिए अत्यधिक अच्छी व्यवस्था करने को लेकर कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के नेतृत्व का शुक्रिया अदा किया। 

भारत जोड़ो यात्रा से नई कांग्रेस उभर रही 

उन्होंने कहा कि पार्टी की प्रदेश इकाई यात्रा की सफलता के जरिये 2024 के लोकसभा और विधानसभा चुनाव में सफल होने के लिए राज्य के सभी छह राजस्व संभागों में छह रैलियां आयोजित करेगी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र कांग्रेस का गढ़ रहा है और यात्रा की सफलता पार्टी के चुनाव चिह्न ‘हाथ’ का राज्य में हर जगह नजर आना सुनिश्चित करेगी। उन्होंने कहा कि महिलाएं, युवक और किसान यात्रा के मुख्य भागीदार हैं। उन्होंने कहा, ‘‘दलित और ओबीसी संगठनों के साथ अपनी बातचीत में राहुल गांधी ने कहा कि जाति आधारित जनगणना की तत्काल जरूरत है। ’’ उन्होंने दावा किया कि यात्रा ने एक प्रेरक संदेश दिया है और एक ‘नयी कांग्रेस’ उभर रही है। उन्होंने कहा, ‘‘पार्टी के आलोचकों की आवाज अब शांत हो गई है।’’ उन्होंने कहा कि संगठन में भविष्य में बदलाव यात्रा के अनुभवों के आधार पर किये जाएंगे। 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन