Congress Bharat Jodo Yatra : कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' 3500 किमी की दूरी तय करेगी, 23 अगस्त को लॉन्च होगा लोगो

Congress Bharat Jodo Yatra : समाजिक सौहार्द का संदेश देने के साथ-साथ ‘संविधान, धर्मनिरपेक्षता और सरकारी संपत्तियों को बचाने’ का भी आह्वान किया जाएगा। 23 अगस्त को कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा का लोगो ( Logo), नारा (tag line) और वेबसाइट रिलीज करेगी। जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी इसे रिलीज कर सकते हैं।

Vijai Laxmi Reported By: Vijai Laxmi @vijai_laxmi
Updated on: August 17, 2022 18:17 IST
Representational Image- India TV Hindi News
Image Source : FILE Representational Image

Highlights

  • सात सितंबर से शुरू होगी कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा'
  • 12 राज्य और दो केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी

Congress Bharat Jodo Yatra : देश में ‘धार्मिक ध्रुवीकरण की राजनीति’ के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी का मुकाबला करने के मकसद से निकाली जाने वाली कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ लगभग 3500 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और इसमें समाजिक सौहार्द का संदेश देने के साथ-साथ ‘संविधान, धर्मनिरपेक्षता और सरकारी संपत्तियों को बचाने’ का भी आह्वान किया जाएगा। 23 अगस्त को कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा का लोगो ( Logo), नारा (tag line) और वेबसाइट रिलीज करेगी। जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी इसे रिलीज कर सकते हैं।

सात सितंबर से शुरू होगी यात्रा

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा सात सितंबर से शुरू होगी। यह यात्रा 12 राज्य और दो केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी।लगभग डेढ़ सौ दिन में पूरी होगी यात्रा। रूट इस तरह से बनाया गया है की पैदल मार्च किया जा सके। प्राप्त जानकारी के मुताबिक केरल से यह यात्रा 15 दिनों में गुजरेगी, कर्नाटक में 29 दिनों में पूरी होगी, तेलंगाना में 15 दिन, तमिलनाडु में 3 दिन, महाराष्ट्र में 16 से 17 दिन और मध्य प्रदेश में भी 16 से 17 दिनों में यह यात्रा पूरी होगी।

विघटनकारी शक्तियां प्रबल 

कांग्रेस का मानना है कि देश को ऐसे कार्यक्रमों की बेहद जरूरत है क्योंकि आजकल विघटनकारी शक्तियां प्रबल हैं और केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा इन शक्तियों को संरक्षण मिला हुआ है। पार्टी की ओर से कहा गया कि भारत एक अहम दौर से गुजर रहा है जब विघटनकारी और सांप्रदायिक ताकतें इसे धार्मिक आधार पर तोड़ने का अभियान चला रही हैं। कांग्रेस ने कहा कि उसने अंग्रेजों के विरुद्ध लड़ाई लड़ी थी और वह इस समय मूक दर्शक बनकर नहीं रह सकती। 

पार्टी के अंदर कई बदलाव देखने को मिल सकते हैं-सूत्र

सूत्रों का यह भी कहना है कि इस यात्रा को निकालने की तैयारी के साथ ही ‘उदयपुर नवसंकल्प’ में किए गए निर्णयों को अमलीजामा पहनाने के लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं तथा पार्टी की मीडिया एवं संचार से जुड़ी रणनीति में आमूलचूल परिवर्तन किया जाएगा। संगठन में 50 प्रतिशत स्थान 50 साल से कम उम्र के लोगों के देने के फैसले पर भी अमल शुरू हो सकता है।

Latest India News

navratri-2022