1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. कई तरह की आपदाओं से बचाता है रुद्राक्ष, धारण करने से पहले जान लें असली है कि नकली

कई तरह की आपदाओं से बचाता है रुद्राक्ष, धारण करने से पहले जान लें असली है कि नकली

रुद्राक्ष खरीदते समय इस बातों का ध्यान जरूर रखें, जिससे कि आप सही रुद्राक्ष खरीद सके।

Shivani Singh Edited by: Shivani Singh @lastshivani
Updated on: January 21, 2022 15:50 IST
 How to Test Rudraksha how to identify original rudraksha asli nakli rudraksh ki pehchan- India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/SSHARMA_FASHION   How to Test Rudraksha how to identify original rudraksha asli nakli rudraksh ki pehchan  

Highlights

  • रुद्राक्ष धारण करने से आप कई समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं
  • जानिए कैसे करें असली रुद्राक्ष की पहचान

हिंदू धर्म में रुद्राक्ष का बहुत अधिक महत्व है। माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति भगवान शिव के आंसूओं से हुई हैं। इसलिए इन्हें धारण करना शुभ माना जाता है। इतना ही नहीं रुद्राक्ष की माला से जाप करने से मंत्र का फल कई गुना बढ़ जाता है। 

रुद्राक्ष धारण करने से व्यक्ति कई तरह की बीमारियों से भी खुद को बचा सकता है। इसके साथ ही रुद्राक्ष के पाउडर या रुद्राक्ष को पानी मे भिगोकर उस पानी का नियमित सेवन करने से ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, हृदय की बीमारियों से भी बचाव होगा। इसके साथ ही दिमाग और स्मरण शक्ति तेज होगी। 

आमतौर पर मार्केट में विभिन्न तरह के रुद्राक्ष मिलते हैं। भारत में रुद्राक्ष की करीब 33 प्रजातियां है। इसी कारण व्यापारी मुनाफा कमाने के लिए इसे नकली बनाकर भी अधिक मात्रा में बेचते हैं। बाजार में रुद्राक्ष प्लास्टिक, लकड़ी या फाइबर के आसानी से मिल जाते हैं। ऐसे में रुद्राक्ष खरीदते समय इस बातों का ध्यान जरूर रखें, जिससे कि आप सही रुद्राक्ष खरीद सके।

Garuda Purana: ऐसे काम करने वाले अगले जन्म में बनते हैं गिद्ध, जानिए क्या कहता है गरुड़ पुराण

कैसे करें सही रुद्राक्ष की पहचान

  1. अगर आपने रुद्राक्ष खरीद लिया हैं तो उसे एक पैन में डाल दें और उसमें पानी डालकर धीमी आंच में उबाल लें। अगर पानी का रंग बदल जाता है तो समझ लें कि रुद्राक्ष नकली है। 
  2. एक कटोरी में सरसों का तेल लेकर उसमें रुद्राक्ष डाल दें। अगर उसका रंग छूट रहा है तो समझ लें कि नकली है।
  3. रुद्राक्ष को लेकर किसी नुकीली चीज से कुरेदने से अगर उसमें रेशे निकल रहे हैं तो समझ लें कि वह असली रुद्राक्ष है। 
  4. तांबे का एक टुकड़ा नीचे रखकर उसके ऊपर रूद्राक्ष रख दें और फिर दूसरा तांबे का टुकड़ा रूद्राक्ष के ऊपर रख दें। इसके बाद उंगुली से हल्के से दबाए। अगर रुद्राक्ष असली होगा तो वह तुरंत नाचने लगेगा।
  5. सरसों के तेल को कटोरी मेंडालकर गर्म करें। फिर इसमें रुद्राक्ष डाल दें और धीमी आंच में पकने दें। 10 मिनट गर्म करने के बाद गैस बंद कर दें। अगर रुद्राक्ष ज्यादा चमकदार हो जाए तो वह असली है और अगर धूमिल पड़ जाए तो समझ लें कि वह नकली है। 

इंसान को बुरी आदतों की तरफ धकेलता है कुंडली में बैठा केतु, ये उपाय केतु के प्रकोप से बचाएंगे

डिस्क्लेमर- ये आर्टिकल जन सामान्य सूचनाओं और लोकोक्तियों पर आधारित है। इंडिया टीवी इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता।

 

erussia-ukraine-news