Mahananda Navami 2022: महानंदा नवमी के दिन जरूर करें ये उपाय, मां लक्ष्मी आपकी सभी मनोकामनाएं करेंगी पूरी

Mahananda Navami 2022: नवरात्रि की तरह ही माघ मास में पड़ने वाली गुप्त नवरात्रि की नवमी का बड़ा महत्व होता है। गुप्त नवरात्रि की नवमी को महानंदा नवमी कहते हैं। इस दिन मां नन्दा की विशेष रूप से उपासना की जाती है।

Written By : Acharya Indu Prakash Edited By : Sushma KumariPublished on: November 30, 2022 18:48 IST
महानंदा नवमी 2022- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK महानंदा नवमी 2022

Mahananda Navami 2022: 1 दिसंबर को महानंदा नवमी है। नन्दा, देवी दुर्गा का ही एक रूप हैं। नवरात्रि की तरह ही माघ मास में पड़ने वाली गुप्त नवरात्रि की नवमी का बड़ा महत्व होता है। गुप्त नवरात्रि की नवमी को महानंदा नवमी कहते हैं। इस दिन मां नन्दा की विशेष रूप से उपासना की जाती है। कहा जाता है कि इस दिन जो भक्त मां लक्ष्मी की पूजा और व्रत करते हैं उनकी आर्थिक समस्याएं दूर होती हैं।  इनकी उपासना से व्यक्ति को अप्रतिम शक्तियां मिलती हैं, जीवन में भौतिक सुख-सुविधाओं की प्राप्ति होती है, साथ ही शत्रु से विजय प्राप्त करने में मदद हासिल होती है। ऐसे में आइए आचार्य इंदु प्रकाश से जानते हैं इस दिन किए जाने वाले कुछ खास उपायों के बारे में।

  1. अगर आप बहुत दिनों से अपने लिये एक अच्छी पत्नी की तलाश में हैं, तो इस दिन आपको दुर्गा सप्तशती के इस विशेष मंत्र का 21 बार जप करना चाहिए। मंत्र है -पत्नीं मनोरमां देहि मनोवृत्त अनुसारिणीम् तारिणीं दुर्ग संसार सागरस्य कुलोद्भवाम्।। इस प्रकार मंत्र जप के साथ ही आपको देवी मां के मन्दिर में सोलह श्रृंगार का सामान भेंट करना चाहिए। ऐसा करने से आपकी जल्द ही एक अच्छी पत्नी की तलाश पूरी होगी।
  2. अगर आप अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही सुख-सौभाग्य, अच्छा रूप और जीवन में जीत हासिल करना चाहते हैं, तो इल दिन आपको 108 मखानों से हवन करना चाहिए। साथ ही इस विशेष मंत्र का जप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है - देहि सौभाग्यं आरोग्यं देहि में परमं सुखम्‌। रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषोजहि॥ ऐसा करने से आपको अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही सुख-सौभाग्य, अच्छा रूप और जीवन में जीत हासिल होगी।
  3. अगर आपको कोई शत्रु परेशान कर रहा है, तो उससे बचने के लिए इस दिन आपको देवी मां के इस अति विशिष्ट मंत्र का 11 बार जप करना चाहिए। मंत्र है - ‘ऊं ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे। ऊँ ग्लौं हुं क्लीं जूं सः ज्वालय ज्वालय ज्वल ज्वल प्रज्वल प्रज्वल ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे ज्वल हं सं लं क्षं फट् स्वाहा।।' इस प्रकार मंत्र जप के साथ ही आपको धान के लावे से, यानी धान को भूनकर, उससे हवन करना चाहिए। ये उपाय करने से आप शत्रुओं से होने वाली परेशानियों से बचे रहेंगे। 
  4. अगर आप अपने दाम्पत्य संबंधों में प्यार बनाये रखना चाहते हैं, तो इस दिन आपको देवी मां को पोशाक चढ़ानी चाहिए। साथ ही ‘ऊं ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे।‘ इस मंत्र का 108 बार जप करना चाहिए।  ऐसा करने से आपके दाम्पत्य संबंधों में प्यार बना रहेगा।
  5. अगर आप जीवन में सुख-शांति, खुशहाली और यश-कीर्ति की प्राप्ति करना चाहते हैं, तो इस दिन आपको अपने घर में दुर्गा बीसा यंत्र की विधि-पूर्वक स्थापना करनी चाहिए और मां दुर्गा के अर्गला स्तोत्र का पाठ करना चाहिए।  ऐसा करने से आपके जीवन में सुख-शांति और खुशहाली बनी रहेगी। साथ ही आपको यश और कीर्ति की प्राप्ति होगी।
  6. अगर आप आर्थिक रूप से मजबूत बने रहना चाहते हैं, तो इस दिन आपको सिद्धकुंजिका स्रोत का पाठ करना चाहिए। साथ ही यथा शक्ति कन्याओं को भोजन खिलाना चाहिए और भोजन खिलाने के बाद उन्हें भेंट स्वरूप कुछ देकर उनका आशीर्वाद लेना चाहिए। ऐसा करने से आप आर्थिक रूप से मजबूत बने रहेंगे।
  7. अगर आप अपने बिजनेस में सफलता पाना चाहते हैं, तो इस दिन आपको देवी मां के निमित्त जौ और गुग्गुल से हवन करना चाहिए। हवन के लिए आप जितनी मात्रा में जौ लें, उतनी ही मात्रा में गुग्गुल भी लें। दोनों की बराबर मात्रा में आहुति देनी चाहिए। ऐसा करने से आपको अपने बिजनेस में सफलता मिलेगी।

(आचार्य इंदु प्रकाश देश के जाने-माने ज्योतिषी हैं, जिन्हें वास्तु, सामुद्रिक शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र का लंबा अनुभव है। इंडिया टीवी पर आप इन्हें हर सुबह 7.30 बजे भविष्यवाणी में देखते हैं)  

ये भी पढ़ें - 

Budh Gochar 2022: बुध गोचर से इन राशियों के शुरू होंगे बुरे दिन, सोच समझकर करें खर्चे वरना पाई-पाई को होंगे मोहताज

Vastu Tips: घर की इस दिशा में पानी से भरी सुराही रखने पर नहीं होगी पैसों की कमी, धन-धान्य से भरा रहेगा घर

Chanakya Niti: जीवन में कभी किसी को न बताएं अपने ये राज, लोग उठाएंगे फायदा, बनाएंगे मजाक 

 

 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Festivals News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन