Shoaib Akhtar Statement : 'बल्लेबाजों के सिर पर गेंद मारकर खुश होता था,' पाकिस्तानी गेंदबाज शोएब अख्तर ने कबूला बड़ा सच

शोएब अख्तर के नाम क्रिकेट की दुनिया में सबसे तेज गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने पाकिस्तान के लिए 2011 वर्ल्ड कप में आखिरी मुकाबला खेला था।

Priyam Sinha Written by: Priyam Sinha @PriyamSinha4
Published on: June 02, 2022 10:54 IST
शोएब अख्तर को पसंद था...- India TV Hindi
Image Source : TWITTER शोएब अख्तर को पसंद था बल्लेबाजों के सिर पर गेंद मारना

Highlights

  • शोएब अख्तर ने बाउंसर गेंदों पर कबूला बड़ा सच
  • रावलपिंडी एक्सप्रेस बोले- पसंद था बल्लेबाजों के सिर पर गेंद मारना
  • अख्तर के नाम है सबसे तेज गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड

पाकिस्तान के स्टार तेज गेंदबाज रहे शोएब अख्तर अपनी गति के लिए पूरे करियर के दौरान सुर्खियों में रहते थे। उनके नाम क्रिकेट के इतिहास की सबसे तेज गेंद फेंकने का रिकॉर्ड भी दर्ज है जो उन्होंने 2003 वर्ल्ड कप में 161.3 किमी/घंटे की रफ्तार से फेंकी थी। उनकी बाउंसर के आगे अच्छे-अच्छे बल्लेबाज मुश्किल में पड़ जाते थे। इसी को लेकर रावलपिंडी एक्सप्रेस नाम से मशहूर अख्तर ने एक बड़ा सच कबूला है। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा कि, उन्हें बल्लेबाजों के सिर पर गेंद मारकर खुशी मिलती थी।

अख्तर ने कबूला बड़ा सच

शोएब अख्तर ने एक स्पोर्ट्स वेबसाइट के यूट्यूब चैनल पर भारत के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ के साथ बातचीत की। इस दौरान उन्होंने बताया कि, उन्हें शॉर्ट पिच बॉल फेंकना पसंद था और उन्हें अच्छा लगता था कि जब कोई बल्लेबाज उनकी गेंद पर बंदर की तरह कूदता था। उन्होंने कैफ से कहा कि,"मैं बाउंसर फेंकता था क्योंकि बल्लेबाजों को बंदरों की तरह कूदते देखकर मैं बहुत खुश होता था। झूठ नहीं बोल रहा, मैं बल्लेबाजों को सिर पर मारना चाहता था, क्योंकि मेरे पास गति थी। यह एक तेज गेंदबाज होने का लाभ है।"

क्यों ऐसा करते थे शोएब अख्तर?

इसके बाद अख्तर ने यह भी बताया कि आखिर वह ऐसा क्यों करते थे। अख्तर बोले कि, वह बल्लेबाजों के शरीर पर इसलिए प्रहार करते थे, ताकि जब भी कोई बल्लेबाज शीशे में अपना चेहरा देखे तो उसकी नजरों के सामने अख्तर का चेहरा घूमे। शोएब ने मोहम्मद कैफ को यह बताया, ‘यार होता यह है कि जोश चढ़ा है, बाल उड़ रहे हैं, 150 या उससे ज्यादा की रफ्तार से गेंद जा रही है। गेंद लगे, आपके जिस्म पर आलू-शालू पड़े। रात को यदि आप शीशे में खुद को देखें तो मैं याद आऊं। ये मोहब्बत होती है।’

सौरव गांगुली ने खुद बताई अपने ट्वीट की सच्चाई, BCCI छोड़ने की अफवाह पर क्या बोले दादा?

रावलपिंडी एक्सप्रेस के करियर पर एक नजर

शोएब अख्तर ने 1997 में पाकिस्तान के लिए क्रिकेट खेलना शुरू किया था। सबसे पहले उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से डेब्यू किया था फिर 1998 में उन्हें वनडे कैप मिली। टी20 डेब्यू अख्तर ने साल 2006 में किया था। वह आखिरी बार पाकिस्तान के लिए 2011 वर्ल्ड में खेलते नजर आए थे जिसमें भारतीय टीम वर्ल्ड चैंपियन बनी थी। शोएब ने अपने करियर के दौरान 46 टेस्ट में 178 विकेट लिए हैं। वहीं 163 एकदिवसीय मैच में 247 विकेट उनके नाम दर्ज हैं। इसके अलावा 15 टी20 इंटरनेशनल में भी उन्होंने 19 विकेट अपने नाम किए हैं।

Latest Cricket News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन

लाइव स्कोरकार्ड