Tokyo Olympics 2020-2021
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. भारतीय खिलाड़ियों के नाम रहा टोक्यो ओलंपिक 2020 का 6ठां दिन, मैरी कॉम का टूटा सपना

भारतीय खिलाड़ियों के नाम रहा टोक्यो ओलंपिक 2020 का 6ठां दिन, मैरी कॉम का टूटा सपना

टोक्यो ओलंपिक 2020 का 6ठां दिन भारतीय खिलाड़ियों के नाम रहा। पीवी सिंधू, पुरुष हॉकी टीम समेत सतीश कुमार ने क्वाटरफाइनल में जगह बनाई, मगर मैरी कॉम अपने प्री क्वाटरफाइनल में कोलंबिया की बॉक्सर से हार गई।

Bhasha Bhasha
Published on: July 29, 2021 18:26 IST
Tokyo Olympics 2020 29th July PV Sindhu mary Kom Indian Men Hockey Team Satish Kumar- India TV Hindi
Image Source : AP Tokyo Olympics 2020 29th July PV Sindhu mary Kom Indian Men Hockey Team Satish Kumar

टोक्यो। रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधू, चार दशक बाद पदक की कवायद में जुटी पुरुष हॉकी टीम और मुक्केबाज सतीश कुमार ने गुरुवार को यहां क्वार्टर फाइनल में पहुंचकर टोक्यो ओलंपिक खेलों में भारतीय उम्मीदों को पंख लगाये लेकिन छह बार की विश्व चैंपियन एम सी मैरी कॉम की हार दिल तोड़ गयी। तीरंदाज अतनु दास ने भी अपनी पत्नी दीपिका कुमारी की तरह प्री क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी भारतीय खेमे में खुशी पहुंचायी जबकि गोल्फ में अनिर्बान लाहिड़ी ने दमदार शुरुआत की। 

भारत की नजरें हालांकि सिंधू, हॉकी और मैरीकॉम पर टिकी थी जिसमें आशा और निराशा दोनों हाथ लगी। पदक तालिका में भारत के नाम पर एक रजत पदक दर्ज है और वह अभी 46वें स्थान पर है। सिंधू ने महिला एकल के एकतरफा प्री क्वार्टर फाइनल मुकाबले में डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट को सीधे गेम में 21-15, 21-13 से हराया। छठी वरीय सिंधू की डेनमार्क की दुनिया की 12वें नंबर की खिलाड़ी के खिलाफ छह मैचों में यह पांचवीं जीत है। विश्व चैंपियन सिंधू क्वार्टर फाइनल में जापान की चौथी वरीय अकाने यामागुची से भिड़ेगी। 

जापान की दुनिया की पांचवें नंबर की खिलाड़ी के खिलाफ सिंधू ने 18 में से 11 मुकाबले जीते हैं जबकि सात में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने आखिरी क्षणों में शानदार खेल दिखाकर मौजूदा चैंपियन अर्जेंटीना को 3-2 से हराकर अंतिम आठ में अपनी जगह सुरक्षित की। भारतीय टीम ने अभी तक तीन मैच जीते हैं जबकि एक मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा। भारत के लिये वरूण कुमार ने 43वें, विवेक सागर प्रसाद ने 58वें और हरमनप्रीत सिंह ने 59वें मिनट में गोल दागे। अर्जेंटीना ने 48वें मिनट में माइको केसेला के गोल के दम पर बराबरी की। भारत ने हॉकी में आखिरी पदक मास्को ओलंपिक 1980 में स्वर्ण पदक के रूप में जीता था। 

मुक्केबाजी में भारत के लिये गुरुवार का दिन मिश्रित सफलता वाला रहा। ओलंपिक में भाग ले रहे भारत के पहले सुपर हैवीवेट मुक्केबाज सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक) ने जमैका के रिकार्डो ब्राउन को 4-1 से हराकर अंतिम आठ में प्रवेश किया लेकिन लंदन ओलंपिक 2012 की कांस्य पदक विजेता मैरीकॉम कोलंबिया की इंग्रिट वालेंसिया से 2-3 से हार गयी। मैरीकॉम ने दो राउंड में जीत दर्ज की लेकिन कुल स्कोर में वह अपनी प्रतिद्वंद्वी से पिछड़ गयी जिससे इस 38 वर्षीय मुक्केबाज की ओलंपिक यात्रा भी समाप्त हो गयी। वालेंसिया ने शुरूआती राउंड 4-1 से अपने नाम कर दबदबा बना लिया। 

मैरीकॉम ने दूसरे और तीसरे राउंड को 3-2 से अपने नाम किया पर शुरूआती राउंड की बढ़त से वालेंसिया इस मुकाबले को जीतने में सफल रहीं। इससे पहले सतीश को ब्राउन के खराब फुटवर्क का फायदा मिला । उन्हें हालांकि मुकाबले में माथे पर खरोंच भी आयी। अब सतीश का सामना उजबेकिस्तान के बखोदिर जालोलोव से होगा जो मौजूदा विश्व और एशियाई चैम्पियन हैं। तीरंदाजी में अतनु अपनी पत्नी के नक्शेकदम पर चलते हुए तीसरे दौर में पहुंच गये हैं। उन्होंने दूसरे दौर के बेहद रोमांचक मुकाबले में दो बार के ओलंपिक चैंपियन दक्षिण कोरिया के ओह जिन हयेक को शूट आफ में 6-5 से हराया। 

शूट आफ में लंदन ओलंपिक खेलों के व्यक्तिगत स्वर्ण पदक विजेता जिन हयेक ने नौ अंक जुटाए जिसके बाद दुनिया के नौवें नंबर के खिलाड़ी दास ने 10 अंक पर निशाना साधकर अगले दौर में प्रवेश सुनिश्चित किया। दास ने इससे पहले अपने से कम रैंकिंग वाले चीनी ताइपे के यू चेंग डेंग पर पहले दौर में 6-4 से जीत दर्ज की थी। अगले दौर में दास का सामना जापान के ताकाहारू फुरुकावा से होगा जो लंदन ओलंपिक के व्यक्तिगत रजत पदक विजेता हैं। निशानेबाजी में मनु भाकर और राही सरनोबत महिला 25 मीटर पिस्टल क्वालीफिकेशन (प्रिसीजन) में क्रमश: पांचवें और 25वें स्थान पर चल रही हैं। 

मनु ने असाका निशानेबाजी रेंज पर 44 प्रतिभागियों के बीच क्वालीफिकेशन के प्रिसीजन दौर में 30 निशानों के बाद 292 अंक जुटाए हैं जबकि उनकी हमवतन राही 287 अंक ही जुटा सकी। क्वालीफिकेशन का दूसरा चरण रेपिड दौर शुक्रवार को होगा। क्वालीफिकेशन में शीर्ष आठ में जगह बनाने वाले निशानेबाज फाइनल में प्रवेश करेंगे। गोल्फ में लाहिड़ी ने पहले दौर में चार अंडर 67 का कार्ड खेलकर मजबूत शुरूआत की। एशियाई टूर के पूर्व नंबर एक गोल्फर लाहिड़ी ने छह बर्डी लगायी, पर दो बोगी भी कर बैठे। 

वह संयुक्त रूप से आठवें स्थान पर चल रहे हैं। एक अन्य भारतीय गोल्फर उद्यन माने ने आठ होल में दो अंडर का स्कोर बनाया था लेकिन अंत में उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा जिससे वह पांच ओवर 76 के कार्ड से सबसे निचले स्थान पर थे। भारतीय नौकायन खिलाड़ी अर्जुन लाल जाट और अरविंद सिंह लाइटवेट डबल स्कल्स स्पर्धा में 11वें स्थान पर रहे जो इस स्पर्धा में ओलंपिक में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। 

भारतीय जोड़ी ने 6 : 29.66 का समय निकालकर फाइनल बी में पांचवां स्थान हासिल किया जो पदक का दौर नहीं था। सेलिंग (पाल नौकायन) में केसी गणपति और वरूण ठक्कर की भारतीय सेलिंग (पाल नौकायन) जोड़ी पुरूषों की स्किफ 49अर स्पर्धा की पांचवीं और छठी रेस में क्रमश: 16वें और सातवें स्थान पर रही लेकिन वे कुल 17वें स्थान से निचले पायदान पर चल रहे हैं। एक अन्य भारतीय विष्णु सरवनन लेजर स्पर्धा में 138 नेट अंक से 35 सेलर में 23वें स्थान पर थे। वह गुरूवार को सातवीं और आठवीं रेस में क्रमश: 27वें और 23वें स्थान पर रहे। नेत्रा कुमानन महिला लेजर रेडियल की सातवीं और आठवीं रेस में 22वें और 20वें तथा कुल मिलाकर 31वें स्थान पर रही।

तैराक साजन प्रकाश पुरुषों की 100 मीटर बटरफ्लाई स्पर्धा में अपनी हीट में दूसरे स्थान पर रहे लेकिन सेमीफाइनल में जगह नहीं बना पाये। प्रकाश ने 53.45 सेकेंड का समय निकाला जबकि सेमीफाइनल के लिये कट 51.74 सेकेंड पर गया। इससे तैराकी में भारतीय चुनौती भी समाप्त हो गयी। 

लाइव स्कोरकार्ड

Click Mania
uttar pradesh chunav manch 2021