Friday, July 12, 2024
Advertisement

जी-20 में अमेरिका और रूस के विदेश मंत्रियों का हुआ सामना, US ने कहा-करते रहेंगे यूक्रेन का समर्थन; सर्गेई ने दिया ये जवाब

यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद से ही अमेरिका और रूस में तनाव का आलम चरम पर है। यूक्रेन युद्ध को लेकर दोनों देश एक दूसरे को लंबे समय से धमकी और चेतावनी देते रहे हैं। इस बीच भारत में हो रहे जी 20 सम्मेलन में पहली बार रूस और अमेरिका के विदेश मंत्रियों का आमना-सामना हुआ।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: March 03, 2023 6:27 IST
अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और रूसी विदेश मंत्री सर्गेई- India TV Hindi
Image Source : FILE अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और रूसी विदेश मंत्री सर्गेई

नई दिल्लीः यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद से ही अमेरिका और रूस में तनाव का आलम चरम पर है। यूक्रेन युद्ध को लेकर दोनों देश एक दूसरे को लंबे समय से धमकी और चेतावनी देते रहे हैं। इस बीच भारत में हो रहे जी 20 सम्मेलन में पहली बार रूस और अमेरिका के विदेश मंत्रियों का आमना-सामना हुआ। दोनों विदेश मंत्रियों ने रूस-यूक्रेन युद्ध के मसले पर काफी देर तक बातचीत की। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव के बीच बृहस्पतिवार को दिल्ली में ये संक्षिप्त मुलाकात हुई। यूक्रेन संघर्ष के बीच पिछले कुछ महीनों में दोनों देशों के बीच यह पहली उच्च स्तरीय मुलाकात थी। मगर इस दौरान अमेरिका ने रूसी विदेश मंत्री के सामने यह कहकर माहौल को गर्म कर दिया कि वह यूक्रेन का समर्थन करता रहेगा।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने लावरोव से कहा कि अमेरिका यूक्रेन का समर्थन पहले की तरह ही करना जारी रखेगा। रूस ने अमेरिका के इस रुख पर आपत्ति जाहिर की। रूस की एक अधिकारी ने कहा कि ब्लिंकन और लावरोव के बीच जी-20 विदेश मंत्रियों की बैठक से इतर संक्षिप्त बातचीत हुई। रूस की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा, ‘‘अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने जी-20 बैठक के दूसरे सत्र के दौरान विदेश मंत्री लावरोव से संपर्क करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि दोनों नेताओं की मुलाकात हुई, लेकिन कोई बैठक या वार्ता नहीं हुई। दोनों नेताओं की मुलाकात ऐसे वक्त हुई जब एक सप्ताह पहले रूस ने अमेरिका के साथ परमाणु हथियारों को लेकर ‘न्यू स्टार्ट’ संधि से अपनी भागीदारी निलंबित करने की घोषणा की थी। ब्लिंकन ने जी-20 बैठक में कहा, ‘‘हमें अंतरराष्ट्रीय शांति और आर्थिक स्थिरता के लिए रूस से अपने युद्ध को समाप्त करने और यूक्रेन से सैनिकों को हटाने का आह्वान करना जारी रखना चाहिए।

यह भी पढ़ें

रूस को हथियार भेजने के बजाय यूक्रेन से रूसी सैनिकों की वापसी के लिए दबाव बनाए चीन, जानें किसने कही यह बात?

डिफॉल्टर होने के करीब पहुंचा पाकिस्तान, भारत से साढ़े 3 गुना कमजोर हुआ रुपया, इमरान ने कहा- मुद्रा का कत्लेआम

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement