Sunday, May 19, 2024
Advertisement

दुनिया के इस शानदार शहर में चूहों ने कर दिया है लोगों का जीना हराम, अब जो होगा वो आप सोच भी नहीं सकते

न्यूयॉर्क शहर चूहों से परेशान है। चूहों का आतंक यहां ऐसा है कि शायद ही कोई जगह होगी जहां चूहों का बसेरा ना हो। अब चूहों की समस्या से निपटने के लिए पायलट योजना पर काम शुरू हो रहा है।

Edited By: Amit Mishra @AmitMishra64927
Published on: April 16, 2024 15:17 IST
न्यूयॉर्क में चूहे (फाइल फोटो)- India TV Hindi
Image Source : AP न्यूयॉर्क में चूहे (फाइल फोटो)

किसी शहर में बिजली, सड़क, पानी या फिर ट्रैफिक की समस्या के बार में आपने सुना होगा लेकिन अमेरिका के सबसे बड़े और आधुनिक शहरों में शुमार न्यूयॉर्क चूहों से परेशान है। शहर में चूहों की आबादी लगातार बढ़ रही है और इसे रोकने के उपाय नाकाफी साबित हे रहे हैं। अनुमान है कि न्यूयॉर्क में चूहों की तादाद 30 लाख की संख्या को भी पार कर गई है। चूहों की समस्या से निजात पाने के लिए जहर से लेकर जाल और सूखी बर्फ तक का नुस्खा आजमाया गया है लेकिन सफलता नहीं मिली। तमाम कोशिशों के बाद भी चूहों की गिनती लगातर बढ़ती जा रही है और परेशानी यह है कि जहर के इस्तेमाल से दूसरे जानवरों को भी खतरा पैदा हो गया है।

कैसे मिलेगी चूहों से निजात 

न्यूयॉर्क में अब चूहों की संख्या नियंत्रित करने के लिए उन्हें गर्भनिरोधक देने पर विचार किया जा रहा है। न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार बीते गुरुवार को चिड़‍ियाघर से भागा एक उल्लू मरा पाया गया था। फ्लेको नाम के इस उल्लू के भीतर से रैट पॉइजन मिला है। उल्लू के भीतर से रैट पॉइजन मिलने के बाद अब न्यूयॉर्क में चूहों को जहर देकर मारने के बजाय कोई और तरीका ढूंढा जा रहा है। एक प्रस्ताव चूहों की नसबंदी कराने का भी आया है। जहरीले केमिकल की तरह कॉन्ट्रासेप्टिव यानी बर्थ कंट्रोल का इस्तेमाल किया जाएगा। सैनिटेशन एंड सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट वाली कमेटी के चेयरमैन, शॉट अब्रू ने कहा कि कॉन्ट्रासेप्टिव बाकी तरीकों से कहीं बेहतर है।

पायलट योजना पर हो रहा है काम 

चूहों से समस्या से निजात पाने को लेकर नए प्रस्ताव के तहत शहर का स्वास्थ्य विभाग एक पायलट योजना पर काम शुरू कर रहा है। इस योजना के तहत नर और मादा दोनों चूहों को बांझ बनाने वाली नमकीन गोलियां खिलाई जाएंगी। शॉट अब्रू ने कहा कि यह प्रयास अधिक प्रभावी होगा और शहर में कम से कम 10 ब्लॉक को कवर करेंगे। अब्रू ने कहा कि इस प्रयास को जारी रखा जाएगा और सफलता मिलेग।

चूहों में बर्थ कंट्रोल

फॉक्स न्यूज के अनुसार, चूहों में बर्थ कंट्रोल के लिए कॉन्ट्रापेस्ट नाम के कॉन्ट्रासेप्टिव का प्रयोग किया जाएगा। यह कॉन्ट्रासेप्टिव नमकीन स्वाद वाले वसा (फैट) से भरे छर्रे होते हैं जिन्हें चूहों के इलाके में बिखेर दिया जाता है। यह चुहियों में ओवरियन फंक्शन को टारगेट करता है और चूहों में शुक्राणु कोशिका उत्पादन को रोक देता है। विशेषज्ञों का भी मानना है कि नमकीन गोलियां चूहों के लिए इतनी स्वादिष्ट होती हैं कि वो कहीं और भोजन की तलाश में नहीं जाएंगे।

चूहों ने पसंद की गोलियां 

गर्भनिरोधक नमकीन गोली बनाने वाली वैज्ञानिक डॉ लोरेटा मेयर ने कहा कि छर्रे वसा और नमक से भरे हुए हैं, और इतने स्वादिष्ट थे कि चूहों ने कूड़े को खोदने के बजाय उन्हें पसंद किया। विशेषज्ञों का कहना है कि यह फॉर्मूला अन्य जानवरों या लोगों के लिए खतरा पैदा करने वाला नहीं है क्योंकि यह विशेष रूप से चूहों के लिए बनाया गया है। यह मानवीय और प्रभावी दोनों है। 

यह भी पढ़ें:

'चीन से मुकाबले के लिए भारत है तैयार', जानें अमेरिकी रक्षा खुफिया अधिकारी ने और क्या कहा...

अमेरिका में हिंदुओं को बनाया जा रहा निशाना, जानें किसने कहा यह तो बस हमलों के शुरुआत है

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement