1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. क्राइम
  4. शाहरुख खान से मिलाने का झांसा देकर बंगाल से नाबालिग की तस्करी, रेलवे पुलिस ने किया रेस्क्यू

शाहरुख खान से मिलाने का झांसा देकर बंगाल से नाबालिग की तस्करी, रेलवे पुलिस ने किया रेस्क्यू

पश्चिम बंगाल से 17 साल की मासूम लड़की को बॉलीवुड के किंग यानी शाहरुख खान से मिलाने का झांसा देकर बहला फुसलाकर मुंबई लाने वाले गिरोह का भांडाफोड़ करते हुए दादर जीआरपी ने पीड़िता को रेस्क्यू करा लिया है।

Jayprakash Singh Jayprakash Singh @jayprakashindia
Published on: July 21, 2021 15:39 IST
Minor girl smuggled on pretext of meeting Shahrukh Khan rescued by railway police- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV पश्चिम बंगाल से 17 साल की मासूम लड़की को मुंबई लाने वाले गिरोह का भांडाफोड़ करते हुए रेस्क्यू करा लिया है।

मुंबई: पश्चिम बंगाल से 17 साल की मासूम लड़की को बॉलीवुड के किंग यानी शाहरुख खान से मिलाने का झांसा देकर बहला फुसलाकर मुंबई लाने वाले गिरोह का भांडाफोड़ करते हुए दादर जीआरपी ने पीड़िता को रेस्क्यू करा लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक लड़की को ट्रैफिकिंग के तहत मुंबई लाया गया था। पीड़िता को झांसा दिया गया था कि शाहरुख के उनके बान्द्रा स्थित बंगला पर मिलाएंगे। लड़की आरोपी के झांसे में आ गई और मुंबई आ गयी। 12वीं क्लास में पढ़ने वाली पीड़िता को आरोपी ने इवेंट मैनेजर बताया था और वादा किया था कि उसके कॉन्टेक्ट शाहरुख खान से है। 

खुद को इवेंट मैनेजर बताने वाले शुभन शेख को मीरा रोड से पुलिस ने गिरफ्तार किया। पीड़िता कोलकत्ता से 150 किलोमीटर दूर पालशिपारा नामक इलाके की रहने वाली है। कोलकत्ता पुलिस मुंबई पहुंच कर पीडिता को वापस लेकर गई साथ ही आरोपी की कस्टडी लेकर आगे की पूछताछ के लिए कलकत्ता लेकर गई है।

43 वर्षीय आरोपी शेख ने पीड़ित लड़की को फेसबुक के जरिये अपने जाल में फसाया था। इसने अपनी उम्र छुपाने के लिए अपने बेटे की फ़ोटो फेसबुक पर प्रोफाइल पिक के तौर पर लगाई हुई थी ताकि लड़की को शक न हो। जब लड़की झांसे में आ गई तो इसने लड़की को यह कहा कि वो कोविड से संक्रमित है और तुम्हें लेने नहीं आ पाऊंगा इसलिए तुम मेरे पिता के साथ मुंबई आ जाओ। उन्हें भेज रहा हूँ। आरोपी फिर पालशिपारा गया जहां लड़की कोचिंग में पढ़ती थी। वहां से उसे लेकर कोलकात्ता स्टेशन पहुचा। 

इस दौरान लड़की के सिम कार्ड को तोड़ कर फेंक दिया जिससे कि लोकेशन ट्रैक न हो सके। जब कुछ घण्टे तक बेटी घर नहीं आई तो लड़की के परिवार वालों ने स्थानिय पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने सभी रेलवे स्टेशनों को इसकी सूचना दी और साथ ही जब रेलवे स्टेशन का सीसीटीवी खंगाला तो देखा आरोपी लड़की के साथ हावड़ा मेल में सवार हुए हैं। उसके बाद दादर जीआरपी को सूचना दी गई। जैसे ही ट्रेन दादर पहुचीं लड़की को रेस्क्यू करा लिया गया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।

दादर जीआरपी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक ध्यानेश्वर काटकर के मुताबिक हावड़ा जक्शन पर सीसीटीवी फुटेज में लड़की दिखने के बाद पुलिस ने सभी रेलवे स्टेशन को अलर्ट किया जहां हमनें समय रहते जैसे ही आरोपी ट्रेन से लड़की को लेकर पहुंचा हमने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अब यह जानने में जुटी है कि क्या लड़की की तस्करी के लिए मुंबई लाया गया था या फिर कोई और वजह थी।

ये भी पढ़ें

Click Mania
Modi Us Visit 2021