1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. गुजरात
  4. गुजरात: वैक्सीन नहीं लगवाने की सजा, साबरमती रिवरफ्रंट सहित 5 जगहों घूमने की मनाही!

गुजरात: वैक्सीन नहीं लगवाने की सजा, साबरमती रिवरफ्रंट सहित 5 जगहों घूमने की मनाही!

जिन स्थानों पर वैक्सीन न लेने वाले लोगों को जाने से रोका गया है उसमें एएमटीएस, बीआरटीएस, कांकरिया लेक फ्रंट, कांकरिया जू और साबरमती रिवरफ्रंट शामिल हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: November 12, 2021 15:34 IST
गुजरात: वैक्सीन नहीं...- India TV Hindi
Image Source : SABARMATIRIVERFRONT.COM गुजरात: वैक्सीन नहीं लगवाने की सजा, साबरमती रिवरफ्रंट सहित 5 जगहों घूमने की मनाही!

अहमदाबाद। देश 100 करोड़ कोरोना वैक्सीन के लक्ष्य को पिछले महीने ही पार कर चुका है। लेकिन इसके बाद भी देश में अभी भी बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्होंने अभी भी कोरोना की दोनों डोज नहीं लगवाई हैं। अब इस स्थिति को देखते हुए राज्य सरकारों ने कड़ा रुख अपनाना शुरू कर दिया है। ताजा घोषणा गुजरात सरकार की ओर से की गई है। इसके तहत कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाने वालों के लिए कई साबरमती रिवर फ्रंट सहित कई पर्यटन स्थलों पर जाने से रोक लगा दी गई है। 

जिन स्थानों पर वैक्सीन न लेने वाले लोगों को जाने से रोका गया है उसमें एएमटीएस, बीआरटीएस, कांकरिया लेक फ्रंट, कांकरिया जू और साबरमती रिवरफ्रंट शामिल हैं। गुजरात सरकार द्वारा जारी आदेश के अनुसार शुक्रवार 12 नवंबर से यह रोक लागू कर दी गई है। सरकार के मुताबिक वे लोग जिनकी उम्र 18 साल से अधिक है और कोरोना वैक्सीन लेने के योग्य हैं, यदि उन्होंने कोरोना से बचाव के लिए पहली या दूसरी डोज नहीं ली है, उन्हें इन स्थलों पर जाने की अनुमति नहीं होगी। 

दिवाली की छुट्टियों के बाद बढ़ने लगे कोरोना के केस 

अक्टूबर तक काफी हद तक काबू में आ चुके कोरोना के मामले नवंबर में एक बार फिर से बढ़ने लगे हैं। दिवाली की छुट्टी खत्म होने के बाद पिछले दो दिनों में गुजरात में 40 से 42 केस सामने आए हैं। जबकि दिवाली से पहले औसतन 5- 10 केस रोजाना आ रहे थे। अहमदाबाद की बात करें तो जहां शहर में 0-2 केस आ रहे थे वहीं अब पिछले दो दिनों में 16 और 14 केस दर्ज हुए हैं। कल सामने आये 14 केसेज़ में से 13 केस सिर्फ मणिनगर और इसनपुर इलाकों से थे। इसनपुर की एक सोसाइटी को माइक्रो कन्टेनमेंट ज़ोन में रखा गया है। बता दें कि 4 महीने बाद अहमदाबाद में पहली बार माइक्रो कन्टेनमेंट जोन को दोबारा शुरू किया गया है। अहतियातन कॉर्पोरेशन ने टेस्टिंग बढ़ा दी है और बाहर से आने वाले यात्रियों की भी टेस्टिंग शुरू की गयी है। डॉक्टर लोगों को अगले 15 दिन सतर्क रहने की हिदायत दे रहे हैं। 

bigg boss 15