छाती में जमे कफ की समस्या से निजात पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय, जल्द मिलेगी राहत

बदलते मौसम के कारण अधिकतर लोगों को सर्दी-जुकाम की समस्या का सामना करना पड़ता है। जिसके कारण अधिकतर कफ की समस्या होती है, जिसके कारण सांस लेने में तकलीफ के साथ-साथ छाती में कुछ जमा सा महसूस होता है।

India TV Lifestyle Desk Written by: India TV Lifestyle Desk
Published on: May 17, 2021 11:11 IST
छाती में जमे कफ की समस्या से निजात पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय, जल्द मिलेगी राहत- India TV Hindi News
Image Source : FREEPIK छाती में जमे कफ की समस्या से निजात पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय, जल्द मिलेगी राहत

बदलते मौसम के कारण अधिकतर लोगों को सर्दी-जुकाम की समस्या का सामना करना पड़ता है। जिसके कारण अधिकतर कफ की समस्या होती है, जिसके कारण सांस लेने में तकलीफ के साथ-साथ छाती में कुछ जमा सा महसूस होता है। इतना ही नहीं कोरोना मरीजों में भी ऐसी समस्याएं देखी गई हैं। अगर शुरुआत में ही इसे ध्यान दे देंगे तो यह आपके लिए खतरनाक साबित नहीं होगा। 

बलगम की समस्या से निजात पाने के लिए विभिन्न तरह की दवाओं का सेवन करते हैं। आप चाहे तो नैचुरल तरीके से भी इस समस्या से निजात पा सकते हैं। जानिए ऐसे ही कुछ उपाय जिसके द्वारा आप आसानी से कफ की समस्या से निजात पा सकते हैं।    

शहद

औषधिय गुणों से भरपूर शहद बलगम की समस्या से निजात दिलाने में काफी कारगर है। रात को सोने से पहले करीब 1 चम्मच शहद का सेवन करे। इससे आपको अच्छी नींद भी आएगी। आप चाहे तो नींबू और शहद को मिलाकर खा सकते हैं। 

कोरोना रिकवरी के बाद सिरदर्द की समस्या, स्वामी रामदेव से जानें इंफेक्शन के बीच कैसे मिटेगी माइग्रेन की समस्या

करें इस आयुर्वेदिक पानी का सेवन
कफ की समस्या से निजात पाने के लिए तुलसी, अदरक और लौंग काफी कारगर है। इसके लिए 1 लीटर पानी नें 5-6 तुलसी की पत्तियां, थोड़ी सी अदरकऔर 2-3 लौंग डालकर उबाल लें। इसके बाद इसका धीरे-धीरे सेवन करे। 

हल्दी
औषधिय गुणों से भरपूर हल्दी में एंटीसेप्टिक गुए पाए जाते हैं जो बलगम को कम करने में मदद करता है। यह गले में मौजूद बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है। रोजाना सोने से पहले दूध के साथ हल्दी और शीलाजीत पिएं। आप चाहे तो सिर्फ हल्दी वाला दूध पी सकते हैं। 

बढ़े हुए क्रिएटिनिन लेवल को कम करने के लिए करें इन चीजों का सेवन, किडनी भी रहेगी हेल्दी

जलनेति
यह जल द्वारा किया जाने वाली एक क्रिया है। इससे नैजल ट्रैक की सफाई ठीक ढंग से हो जाती है। इस जल में आप चाहे तो थोड़ा सा सेंधा नमक भी डाल सकते है। इसके लिए एक तरफ से नाक के होल में पानी डाला जाता है वह दूसरी तरह के होल  से आसानी से निकल आता है। इसके साथ ही आपको बता दें कि इस क्रिया को करने के लिए खास पात्र की आवश्यकता होती है।  इस क्रिया को करते समय गर्दन को तिरछी रखकर मुंह से सांस लेना है। कभी भी इस क्रिया को करते समय नाक से सांस न लें। ऐसा करने से पानी दिमाग में चल जाएगा।

Latest Health News

navratri-2022