1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. सर्दी आते ही सताने लगा है जोड़ों का दर्द? स्वामी रामदेव से जानिए अर्थराइटिस का कारगर इलाज

सर्दी आते ही सताने लगा है जोड़ों का दर्द? स्वामी रामदेव से जानिए अर्थराइटिस का कारगर इलाज

अर्थराइटिस के मरीजों के लिए सर्दी की ठंडी हवाएं दुश्मन की तरह होती हैं। जानिए योग और आयुर्वेद के द्वारा कैसे बनाएं हड्डियों को मजबूत।

India TV Health Desk India TV Health Desk
Updated on: November 23, 2021 9:27 IST
winter come with joint pain swami ramdev share yoga poses and ayurvedic remedies to get rid arthriti- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV winter come with joint pain swami ramdev share yoga poses and ayurvedic remedies to get rid arthritis pain naturally

Highlights

  • देश में करीब 18 करोड़ गठिया के मरीज
  • सर्दियों में जोड़ों के दर्द के साथ सूजन-अकड़न की समस्या बढ़ जाती है
  • योग और प्राणायाम के द्वारा अर्थराइटिस का इलाज संभव

सर्दियों के शुरू होते ही देश की करीब 18 करोड़ जनता टेंशन में आ जाती है। इन लोगों के टेंशन में आने की वजह है हड्डियों का दर्द। जो सर्दियों के मौसम में इस कदर बढ़ जाता है कि चलना फिरना, उठना बैठना सब मुश्किल हो जाता है, साथ में अकड़न और सूजन दिक्कत को कई गुना बढ़ा देता है। 

एक स्टडी के अनुसार ठंड के मौसम में अर्थराइटिस और हड्डियों से जुड़ी परेशानी के मामले 50 परसेंट तक बढ़ जाते हैं और इसकी वजह है ब्लड वेसल में सिकुड़न। 

दरअसल तापमान गिरता है तो ब्लड वेसल सिकुड़ते हैं । ब्लड सर्कुलेशन स्लो हो जाता है। नतीजा दर्द बढ़ जाता है।  सर्दियों में धूप कम निकलती है,  जिसकी वजह से विटामिन-डी कम हो जाता है और सीधा असर हड्डियों पर पड़ता है। 

हाई बीपी के कारण किडनी हो सकती है फेल, स्वामी रामदेव से जानिए बिना डायलिसिस कैसे करें क्योर?

कार्टिलेज से जुड़ी परेशानी वालों के लिए सर्दी की ठंडी हवाएं तो दुश्मन की तरह होती हैं। सर्दी को आने से तो रोक नहीं सकते। दिन भर घरों में बंद होकर भी नहीं रह सकते और साइड इफेक्ट से भरी दर्द वाली दवाएं खाना भी ऑप्शन नहीं है। इसलिए स्वामी रामदेव से जानिए योग और आयुर्वेद के द्वारा कैसे अर्थराइटिस की समस्या को कंट्रोल कर सकते हैं। 

अर्थराइटिस के लक्षण

  1. ज्वाइंट्स में दर्द  
  2. जोड़ों में अकड़न
  3. घुटनों में सूजन
  4. स्किन लाल होना

अर्थराइटिस की वजह 

  1. मोटापा
  2. ज्वाइंट्स में चोट
  3. जेनेटिक
  4. कैल्शियम की कमी
  5. विटामिन D की कमी
  6. खराब इम्यूनिटी

योग से पाएं परफेक्ट लंबाई, स्वामी रामदेव से जानिए अच्छी ग्रोथ के शानदार टिप्स 

अर्थराइटिस की समस्या से निजात पाने के लिए योगासन

सूक्ष्म व्यायाम

  1. ऊर्जा, स्फूर्ति का संचार करता है। 
  2. बॉडी एक्टिव करे
  3. शरीर पूरा दिन चुस्त रहता है
  4. शरीर की थकान दूर हुआ

उष्ट्रासन

  1. कंधों और पीठ दर्द में लाभकारी
  2. स्लिप डिस्क, कमर दर्द में लाभकारी
  3. किडनी को स्वस्थ रखे
  4. मोटापा दूर करने में लाभाकारी
  5. शरीर को पोश्चर ठीक करे
  6. कंधों और पीठ को करे मजबूत

मकरासन

  1. पीठ दर्द और कमर दर्द से राहत दिलाए
  2. कूल्हों की मांसपेशियों को करे खिंचाव
  3. साइटिका और सर्वाइकल में लाभकारी

भुजंगासन

  1. किडनी में लाभकारी
  2. कमर दर्द में लाभकारी
  3. शरीर को सुंदर और सुडौल बनाए
  4. तनाव और चिंता को करे कम

शलभासन

  1. अस्थमा रोगों में लाभकारी
  2. नर्वस सिस्टम को करे मजबूत
  3. खून को साफ करे
  4. शरीर को मजबूत और लचीला बनाएं
  5. कंधों और कमर दर्द को करे मजबूत
  6. खून को साफ करे

धनुरासन

  1. गैस और कब्ज में लाभकारी
  2. मोटापा कम करने में करे मदद
  3. रीढ़ की हड्डी को करे मजबूत

मर्कटासन

  1. रीढ़ की हड्डी को करे मजबूत
  2. कमर दर्द में लाभकारी
  3. फेफड़ों के लिए अच्छा
  4. पेट संबंधी समस्याओं में लाभकारी
  5. गैस और कब्ज से दिलाए निजात
  6. लिवर, फेफड़ों को रखे हेल्दी

कोणासन

  1. मोटापा में फायदेमंद
  2. डायबिटीज को करे दूर
  3. ब्लड प्रेशर को करे कंट्रोल
  4. शरीर को लचीला बनाए
  5. कमर और पेट की चर्बी करे कम

चक्की आसन

  • पीठ की अच्छी एक्सरसाइज करे
  • जोड़ों को दर्द के लिए लाफदायक
  • पेट कम करने में फायदेमंद 

उत्तानपादासन

  1. रीढ़ की हड्डी को दें ताकत
  2. भोजन पचाने में कारगर
  3. लिवर और किडनी को रखें हेल्दी
  4. शरीर को सुंदर और सुडौल बनाए
  5. तनाव और डिप्रेशन से दिलाए छुटकारा
  6. बीपी को करें कंट्रोल

नौकासन

  1. शरीर की ऑक्सीजन बढ़ाए
  2. डायबिटीज को करे कंट्रोल
  3. टीबी, निमोनिया को करे ठीक
  4. शरीर में ऑक्सीजन का स्तर संतुलित रहता है
  5. नियमित अभ्यास से मोटापे में कमी
  6. पाचन शक्ति अच्छी रहती हैं
  7. पेट, कमर, पीठ मजबूत बनती है

पवनमुक्तासन

  1. फेफड़े स्वस्थ और मजबूत रहते हैं
  2. अस्थमा, साइनस में लाभकारी
  3. किडनी को स्वस्थ रखता है
  4. ब्लड प्रेशर को सामान्य रखता है
  5. पेट की चर्बी को दूर करता है
  6. मोटापा कम करने में मददगार
  7. हृदय को सेहतमंद रखता है
  8. ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है
  9. रीढ़ की हड्डी मज़बूत होती है

मंडूकासन

  1. डायबिटीज को  करे कंट्रोल
  2. पेट और हृदय के लिए भी लाभकारी
  3. कंसंट्रेशन की क्षमता बढ़ती है
  4. पाचन तंत्र सही करने में सहायक
  5. लिवर, किडनी को स्वस्थ रखता है
  6. वजन घटाने में मदद करता है
  7. पैन्क्रियाज से इंसुलिन रिलीज करता है

गोमुखासन 

  1. फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है
  2. पीठ, बांहों को मजबूत बनाता है
  3. रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है
  4. शरीर को लचकदार बनाता है
  5. सीने को चौड़ा करने में सहायक
  6. शरीर के पॉश्चर को सुधारता है
  7. थकान, तनाव, चिंता दूर करता है
  8. दृढ़ इच्छाशक्ति का विकास करता है
  9. लिवर-किडनी की समस्या में लाभकारी

शीर्षासन

  1. शीर्षासन से डिप्रेशन दूर होता है
  2. चेहरे में चमक आती है, सुंदरता बढ़ती है
  3. त्वचा मुलायम और खूबसूरत बनती है
  4. मानसिक शांति और स्मरण शक्ति बढ़ती है
  5. दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है 
  6. आंखों की रोशनी बढ़ाने में कारगर

सर्वांगासन

  1. दिल तक शुद्ध रक्त पहुंचता है
  2. एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है
  3. याद की हुई चीजें भूलते नहीं
  4. ब्रेन में एनर्जी का फ्लो बेहतर
  5. आंखों पर चश्मा नहीं चढ़ेगा
  6. थायराइड  ग्लैंड एक्टिव होता है
  7. हाथ-कंधे मजबूत बनते हैं
  8. ब्रेन को पर्याप्त ब्लड मिलता है
  9. हार्ट मसल्स एक्टिव होता है

हलासन

  1. इस आसन से दिमाग शांत होता है 
  2. थायराइड की बीमारी ठीक होती है 
  3. स्ट्रेस और थकान मिटाता है
  4. रीढ़ की हड्डी में खिंचाव आता है 
  5. डायबिटीज़ की परेशानी दूर होती है

अर्थराइटिस  से निजात पाने के लिए प्राणायाम

  1. कपालभाति
  2. अनुलोम विलोम
  3. भ्रामरी प्राणायाम
  4. उद्गीथ प्राणायाम
  5. भस्त्रिका

अर्थराइटिस से निजात पाने के लिए औषधियां

  1. एलोवेरा जूस का सेवन करें। 4-5 चम्मच एलोवेरा जूस को गुनगुने पाी में डालकर पिएं।
  2. हल्दी, मेथी, सौंठ का सेवन करें
  3. वातारि चूर्ण, लाक्षादि गुग्गुल का सेवन करें। 
  4. खाने से पहले पीड़ानिल गोल्ड और खाने के बाद आर्थोग्रिड का सेवन करें।
  5. खाली पेट लहसुन का सेवन करें
  6. जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाने में हल्दी, मेथी, सौंठ, सुराजान, अश्वगंधा काफी मदद कर सकते हैं। रोजाना इसका पाउडर बनाकर सेवन करे। 
  7. गोखरू का पानी पीने से शरीर के विषाक्त तत्व बाहर निकल  जाते हैं। इसके साथ ही यूरिक एसिड भी कंट्रोल हो जाएगी। जिससे हड्डियों संबंधी समस्या से भी छुटकारा मिल जाएगा। 
  8. रोजाना सुबह के समय वर्जिन कोकोनट 1-2 चम्मच पी लें। 
  9. हमेशा तिल के तेल से ही खाना बनाएं। इससे हड्डियां मजबूत रहेगी।
  10. प्रोटीन के लिए दूध, पनीर आदि का सेवन करे। 
  11. विटामिन जी के लिए सिघांड़ा, चौलाई, रागी, जौ आदि का आटा खाएं। इसमें कैल्शियम और आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। 

Disclaimer: यह जानकारी आयुर्वेदिक नुस्खों के आधार पर लिखी गई है। इंडिया टीवी इनके सफल होने या इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लें।  

bigg boss 15