ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. पूर्व सीएम एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या किसी जानकार ने की: सूत्र

पूर्व सीएम एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या किसी जानकार ने की: सूत्र

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मौत के मामले में नया मोड़ आ गया है।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: April 20, 2019 0:01 IST
ND Tiwari and Rohit Shekhar Tiwari File Photo- India TV Hindi
ND Tiwari and Rohit Shekhar Tiwari File Photo

नई दिल्ली: उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मौत गला दबाने और मुंह एवं नाक बंद करने के चलते दम घुटने से हुई थी। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक रोहित की हत्या घर के किसी पारिवारिक सदस्य या जानकार ने की है। रोहित के मौत के दिन / रात में किसी भी बाहरी शख्स का घर में गलत तरीके से प्रवेश नहीं हुआ है। रोहित के घर मे लगे सीसीटीवी फुटेज की तफ्तीश के बाद मिली है यह जानकारी मिली है। सूत्रों के मुताबिक इस मामले में करीब 2 दिनों के अंदर खुलासा हो सकता है। 

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि यहां एम्स में पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने बृहस्पतिवार को हत्या का एक मामला दर्ज किया और यह मामला जांच के लिए अपराध शाखा के पास भेज दिया। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के पांच वरिष्ठ चिकित्सकों के एक मेडिकल बोर्ड ने शव परीक्षण किया। 

एम्स फॉरेंसिक विभाग के प्रमुख डॉ सुधीर गुप्ता ने बताया कि मेडिकल बोर्ड सर्वसम्मति से इस निष्कर्ष पर पहुंचा है कि इस मामले में गला दबाने और मुंह और नाक बंद करने के चलते दम घुटने से मौत हुई है। यह अचानक से हुई अस्वभाविक मौत है, जो हत्या की श्रेणी में आता है। अधिकारी ने बताया कि यह मामला अपराध शाखा के पास भेज दिया गया है और उसने मामले की जांच शुरू कर दी है। गौरतलब है कि रोहित शेखर तिवारी की मंगलवार को मौत हो गई थी। उन्हें दक्षिण दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स अस्पताल में मृत हालत में लाया गया था। 

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) विजय कुमार ने बताया कि दक्षिण दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी निवासी रोहित को शाम करीब पांच बजे अस्पताल लाया गया और चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। रोहित 2017 के उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुए थे और उन्होंने हाल ही में संकेत दिया था कि वह कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। गौरतलब है कि रोहित के पिता नारायण दत्त तिवारी की पिछले साल 18 अक्टूबर को मृत्यु हो गई थी। वह 93 वर्ष के थे।

elections-2022