1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. प्रतिबंधित खालिस्तानी संगठन Sikhs for Justice कर रहा है भारतीय सेना के सिख जवानों को भड़ाने की कोशिश, सेना अलर्ट

प्रतिबंधित खालिस्तानी संगठन Sikhs for Justice कर रहा है भारतीय सेना के सिख जवानों को भड़ाने की कोशिश, सेना अलर्ट

SFJ द्वारा हाल ही में भारतीय सेना की सिख यूनिट के जवान को भी प्रोपेगेंडा कॉल की गई है। 

Manish Prasad Manish Prasad @manishindiatv
Published on: July 27, 2020 16:09 IST
SFJ propaganda vocie call to ary sikh unit jawan । प्रतिबंधित खालिस्तानी संगठन Sikhs for Justice कर - India TV Hindi
Image Source : PTI (FILE) Representational Image

नई दिल्ली. पाकिस्तान पंजाब में आतंकवाद को फिर से पानी देने की पूरी कोशिश कर रहा है। पाकिस्तान समर्थित खालिस्तानी संगठनों द्वारा खालिस्तानी प्रोपेगेंडा को हवा देने के भरसक प्रयास किए जा रहा हैं। Sikhs For Justice नाम के पाकिस्तान समर्थित खालिस्तानी संगठन द्वारा लगातार भारत के खिलाफ सोशल मीडिया पर कैंपेन तो चलाया ही जा रहा है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इस संगठन द्वारा हाल ही में भारतीय सेना की सिख यूनिट के जवान को भी प्रोपेगेंडा कॉल की गई है। ये एक प्री-रिकॉर्डेड कॉल थी, जिसे नार्थ अमेरिका के Massachusetts के नंबर से किया गया था।

इन कॉल्स में भारतीय सेना के सिख सैनिकों से कहा जा रहा है कि वो भारत के लिए शहादत न दें। इन कॉल्स में सिख जवानों को यह कहकर भड़काया जा रहा है कि भारत द्वारा सिख कभी भी सिखों का समर्थन नहीं किया गया है, इसलिए वो भारतीय सेना छोड़ दें। इतना ही नहीं, SFJ द्वारा सिख जवानों से कहा जा रहा है कि अगर वो भारतीय सेना छोड़कर इस भड़काऊ भारत विरोधी कैंपन से जुड़ेंगे तो उन्हें उनकी वर्तमान सैलरी से 5 हजार रुपये ज्यादा वेतन दिया जाएगा।

इन मैसेजों में खालिस्तान रेफरेंडम 2020 की भी बात की जा रही है जो 4 जुलाई 2020 शुरू हुई। आपको बता दें कि पंजाब पुलिस द्वारा 18 जून 2020 को अमेरिका में बसे गुरपतवंत सिंह पन्नून के खिलाफ देशद्रोह, गैरकानूनी गतिविधियां और पंजाब के युवाओं को रेफरेंडम 2020 के लिए भड़काने के आरोप मुकदमा दर्ज किया गया है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X