1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कब और कैसे लगेगी Covid-19 Vaccine, कितने दिन में करेगी असर; सरकार ने किया साफ

कब और कैसे लगेगी Covid-19 Vaccine, कितने दिन में करेगी असर; सरकार ने किया साफ

कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण का पहला चरण 16 जनवरी से शुरू हो रहा है। इसके लिए ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन कोविशील्ड के निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने वैक्सीन की पहली खेप भेज दी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 12, 2021 23:21 IST
When and how to take Covid-19 Vaccine, govt clarifies- India TV Hindi
Image Source : PTI कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण का पहला चरण 16 जनवरी से शुरू हो रहा है।

नयी दिल्ली: कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण का पहला चरण 16 जनवरी से शुरू हो रहा है। इसके लिए ऑक्‍सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्‍सीन कोविशील्‍ड के निर्माता सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया ने वैक्‍सीन की पहली खेप भेज दी है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने आज एक प्रेस कान्‍फ्रेंस में बताया कि कोविड-19 का टीका 28 दिनों के अंतर पर लगेगा और दूसरा टीका लगने के 14 दिनों के बाद उसका असर शुरू होगा। केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि टीका का असर खुराक पूरा होने के 14 दिनों बाद दिखना शुरू होगा। 

टीके की दो खुराक के बीच 28 दिनों का अंतर होगा

उन्होंने कहा, ‘‘हम लोगों से अनुरोध करते हैं कि वे कोविड-19 से जुड़े प्रोटोकॉल का पालन करना जारी रखें।’’ भूषण ने कहा कि टीके की दो खुराक के बीच 28 दिनों का अंतर होगा। भारत में कोविड-19 का टीकाकरण 16 जनवरी से शुरू हो रहा है और पहले चरण में करीब तीन करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों और कोरोना योद्धाओं को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाया जाएगा। 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि भारत ने हाल ही में दो टीकों के आपात उपयोग की अनुमति दी है। ये टीके हैं ऑक्सफोर्ड का कोविशील्ड जिसका उत्पादन भारत में पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में हो रहा है और दूसरा है भारत बायोटेक का कोवैक्सीन। मंत्रालय के अनुसार, दोनों टीकों के सुरक्षित और प्रभावी होने की पुष्टि हुई है। 

दोनों टीके हैं सुरक्षित
नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वी. के. पॉल ने कहा कि इन दोनों टीकों का हजारों लोगों पर परीक्षण किया गया है और दोनों सुरक्षित हैं और उनसे कोई खतरा नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें इसपर कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि जिन दो टीकों को मंजूरी दी गई है वे सबसे सुरक्षित हैं। दोनों टीकों का हजारों लोगों पर परीक्षण किया गया है और इसके साइड इफेक्ट नगण्य हैं। कोई बड़ा खतरा नहीं है।’’ 

भूषण ने पहले कहा था कि कोविड-19 का टीकाकरण चरणबद्ध तरीके से होगा। उन्होंने कहा, ‘‘स्वास्थ्य कर्मी (करीब एक करोड़) सर्वोच्च प्राथमिकता होंगे, उसके बाद अन्य कोरोना योद्धा (करीब दो करोड़), आयु के हिसाब से (करीब 27 करोड़)। स्वास्थ्य कर्मियों और कोरोना योद्धाओं को टीका लगाने पर आने वाला खर्च केन्द्र सरकार वहन करेगी।’’ 

ये भी पढ़ें
1000 'गर्लफ्रेंड' वाले इस्लामिक प्रचारक को मिली 1000 साल से ज्यादा की सजा, जानें क्या है मामला

चीन ने पूर्वी लद्दाख में LAC से वापस बुलाये अपने 10 हजार सैनिक, जानें वजह
कैफे में दिया सैंडविच का ऑर्डर, सामने आया तो उड़ गए होश; वीडियो वायरल

81 वर्षीय महिला ने 35 साल के युवक से की शादी, सामने आई ये मुसीबत
MG Hector का यह खास मॉडल भारत में हुआ लॉन्च, जानें इसकी कीमत और खूबियां

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment