1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. अयोध्या : बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई स्पेशल कोर्ट का फैसला आज, आडवाणी, उमा, जोशी समेत 32 आरोपी

अयोध्या : बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई स्पेशल कोर्ट का फैसला आज, आडवाणी, उमा, जोशी समेत 32 आरोपी

Babri demolition case : अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में बुधवार 30 सितंबर फैसले का दिन है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: September 30, 2020 7:29 IST
Babri demolition case - India TV Hindi
Image Source : PTI Babri demolition case 

Babri demolition case : अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में बुधवार 30 सितंबर फैसले का दिन है। आज सीबीआई की विशेष अदालत विवादित ढांचे गिराए जाने को लेकर अपना अहम फैसला सुनाएगी। करीब चार दशक पुराने इस मामले में देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती जैसे कई बड़े नेता आरोपी हैं। इतने हाई प्रोफाइल मामले को देखते हुए उत्तर प्रदेश में अयोध्या और लखनऊ जैसे शहरों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बता दें कि राजजन्म भूमि विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट पिछले साल नवंबर में फैसला सुना चुका है। 

लखनऊ में पुराने हाईकोर्ट बिल्डिंग में सीबीआई की विशेष अदालत के जज सुरेंद्र यादव करीब 10.30 बजे अपना ऐतिहासिक फैसला सुनाएंगे। इस केस के फैसले को करीब चार हजार पेज में लिखा गया है। सीबीआई ने कुल 49 लोगों को आरोपी बनाया था, जिनमें 17 की मौत हो चुकी है। अब इनमें से बाकी 32 आरोपियों के खिलाफ कोर्ट से फैसला आएगा। जज सुरेंद्र यादव ने फैसला सुनाते समय केस में बचे 32 आरोपियों को कोर्ट में पेश होने के आदेश दिए हैं।

ठाकरे और सिंधिया समेत 17 आरोपियों की मौत 

28 साल चले इस मुकदमें में 351 गवाह पेश किए गए और क़रीब 600 दस्तावेज़ हुए। मामले में CBI ने कोर्ट में कुल 49 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल की थी जिसमें से 17 की मौत हो चुकी है। इनमें शिवसेना सुप्रीमो बाला साहेब ठाकरे, विश्व हिंदु परिषद के पूर्व अध्यक्ष अशोक सिंघल, गिरिराज किशोर, विष्णुहरी डालमिया, मोरेश्वर सावें, महंत अवैद्यनाथ, महामंडलेश्वर जगदीश मुनि, बैकुंठ लाल शर्मा, परमहंस रामचंद्र दास, डॉ. सतीश नागर, डीबी राय, रमेश प्रताप सिंह, हरगोविंद सिंह, लक्ष्मी नारायण दास, राम नारायण दास, विनोद कुमार और राजमाता सिंधिया हैं।

इन लोगों को प्रभावित करेगा फैसला 

वहीं, इनके अलावा कुल 32 ऐसे आरोपी है, जो अब भी केस में हैं। इनमें लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, उमा भारती, विनय कटियार, साध्वी ऋतंभरा, महंत नृत्य गोपाल दास, डॉ. राम विलास वेदांती, चंपत राय, महंत धर्मदास, सतीश प्रधान, पवन कुमार पांडेय, लल्लू सिंह, प्रकाश शर्मा, विजय बहादुर सिंह, संतोष दुबे, गांधी यादव, रामजी गुप्ता, ब्रज भूषण शरण सिंह, कमलेश त्रिपाठी, रामचंद्र खत्री, जय भगवान गोयल, ओम प्रकाश पांडेय, अमर नाथ गोयल, जयभान सिंह पवैया, महाराज स्वामी साक्षी, विनय कुमार राय, नवीन भाई शुक्ला, आरएन श्रीवास्तव, आचार्य धर्मेंद्र देव, सुधीर कुमार कक्कड़ और धर्मेंद्र सिंह गुर्जर शामिल हैं।

अयोध्या समेत यूपी में हाई अलर्ट 

अयोध्या में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।  फैसले को लेकर सुरक्षा व्यवस्था के व्यापक बंदोबस्त किए गए हैं। लखनऊ में दो अपर पुलिस अधीक्षक और 13 पुलिस उपाधीक्षकों के साथ 8 कंपनी अतिरिक्त पीएसी लगाई गई है। डीआईजी दीपक कुमार के मुताबिक, सीआईडी और एलआईयू की टीमों को सादी वर्दी में संवेदन शील इलाकों में तैनात किया गया है। बाहरी लोग अयोध्या में आकर माहौल न बिगाड़ने पाएं इसको लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है। उन्होंने बताया कि पूरे जिले में चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। बुधवार को और सख्ती बरती जाएगी।

उमा भारती ने कहा जमानत नहीं लूंगी

इस मामले में ओरोपी भाजपा नेता उमा भारती ने कहा है कि 30 सितंबर को आने वाले फैसले का सम्मान करेंगी और नतीजा जो भी हो, मगर जमानत नहीं लेंगी। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखे पत्र में उन्होंने कहा कि 30 सितंबर को सीबीआई की विशेष अदालत का फैसला आ रहा है और मुझे पेश होना है। अदालत का हर फैसला मेरे लिए भगवान का आशीर्वाद होगा। मैंने हमेशा कहा है कि अयोध्या के लिए तो फांसी भी मंजूर है। मुझे नहीं पता कि फैसला क्या होने वाला है, मगर जो भी हो मैं जमानत नहीं लूंगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment