1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. HSRP: नकली हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट! पुलिस ने 3 को किया गिरफ्तार

HSRP: नकली हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट! पुलिस ने 3 को किया गिरफ्तार

पूछताछ के दौरान, आरोपियों ने खुलासा किया कि प्लेटें बनाने के लिए मशीनरी, प्लेट और उपकरण दिल्ली से लाए गए थे और प्लेटें बनाकर विभिन्न दुकान मालिकों को बेच रहे थे। इनके खरीदारों को भी यह पता नहीं था कि ये प्लेटें नकली थी।

IANS IANS
Published on: February 14, 2021 10:49 IST
High Security Registration Plate fake three arrested HSRP: नकली हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट! पु- India TV Hindi
Image Source : IANS HSRP: नकली हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट! पुलिस ने 3 को किया गिरफ्तार

मेरठ. मेरठ में नकली High Security Registration Plate (HSRP) बनाने और बेचने के आरोप में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मोहनपुरी इलाके में शुक्रवार को देर रात पुलिस ने छापेमारी कर लगभग 400 तैयार प्लेटें और 300 से अधिक खाली प्लेटें बरामद कीं। इन खाली प्लेटों पर नंबर लिखा जाना बाकी था।

पढ़ें- कब लॉन्च हो सकते हैं एप्पल एयरटैग्स और आईपैड प्रो? रिपोर्ट में किया गया ये दावा

सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी अब्दुल रहमान सिद्दीकी ने कहा, "हमने मैन्यूफेक्च रिंग करने वाली यूनिट के मालिक तनुज अग्रवाल, उनके सहयोगी श्रीराम और संदीप कुमार (विक्रेता) को गिरफ्तार किया है। हमने उन्हें गुरुद्वारा रोड से पकड़ा और तलाशी में उनके पास से कम से कम 18 नकली प्लेटें मिलीं। पुलिस अब चौथे आरोपी मोहम्मद वसीम की तलाश कर रही है। हमने इन नकली नंबर प्लेटों को बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाली हाइड्रोलिक प्रेस, नकली होलोग्राम, डाई आदि मशीनों और उपकरणों को भी जब्त कर लिया है।"

पढ़ें- चीन और पाकिस्तान की टेंशन बढ़ी! आज सेना को मिलने वाला है अर्जुन MK-1A टैंक

पूछताछ के दौरान, आरोपियों ने खुलासा किया कि प्लेटें बनाने के लिए मशीनरी, प्लेट और उपकरण दिल्ली से लाए गए थे और प्लेटें बनाकर विभिन्न दुकान मालिकों को बेच रहे थे। इनके खरीदारों को भी यह पता नहीं था कि ये प्लेटें नकली थी। गिरोह खुदरा विक्रेताओं को ये प्लेटें 300 रुपये में बेचते थे और वे कस्टमर्स से इसकी 600 रुपये कीमत वसूलते थे। 

पढ़ें- आंध्र प्रदेश में भीषण सड़क हादसा, मिनी बस और ट्रक की टक्कर में 14 की मौत

क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों में भारी भीड़ के कारण कानूनी नंबर प्लेटें मिलने में देरी हो रही थी, इसके कारण इनका व्यापार तेजी से बढ़ा। एसपी (सिटी) ए.एन. सिंह ने कहा, "इस नंबर प्लेट में केवल बारकोड नहीं था, इसके अलावा यह एकदम असली प्लेट जैसी थी। ग्राहकों ने इस बात पर ध्यान नहीं दिया।"

पढ़ें- #PulwamaAttack: पुलवामा के शहीदों को नमन, भारतवासी बोले- न भूलेंगे, न माफ करेंगे

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X