1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. मुरादनगर की घटना से मुख्यमंत्री योगी बेहद नाराज, अफसरों पर कड़ी कार्रवाई की तैयारी

Ghaziabad Shamshan Ghat Hadsa: मुरादनगर की घटना से मुख्यमंत्री योगी बेहद नाराज, अफसरों पर कड़ी कार्रवाई की तैयारी

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद स्थित मुरादनगर में श्‍मशान घाट की छत गिरने से 25 लोगों की मौत की घटना से मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ अफसरों से बेहद नाराज हैं। मुख्‍यमंत्री ने मामले में जिम्‍मेदार अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के संकेत दिए हैं। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 04, 2021 22:28 IST
Yogi Adityanath warns official over Muradnagar incident, may take action- India TV Hindi
Image Source : PTI मुरादनगर में श्‍मशान घाट की छत गिरने से 25 लोगों की मौत की घटना से मुख्‍यमंत्री योगी अफसरों से बेहद नाराज हैं।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद स्थित मुरादनगर में श्‍मशान घाट की छत गिरने से 25 लोगों की मौत की घटना से मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ अफसरों से बेहद नाराज हैं। मुख्‍यमंत्री ने मामले में जिम्‍मेदार अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के संकेत दिए हैं। कमिश्‍नर और गाजियाबाद के डीएम समेत कई बड़े अधिकारियों पर कार्रवाई की गाज गिर सकती है। मुरादनगर की घटना से व्यथित और नाराज मुख्यमंत्री सोमवार को अधिकारियों पर जम कर बरसे। घटना को अफसरों की गंभीर लापरवाही करार देते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि इस तरह की लापरवाही अक्षम्य है। ऐसे अपराध करने वाले अफसरों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें: Covid-19 के बीच इन दो राज्यों में फैला एक और खतरनाक वायरस, पेड़ से गिर रहे मरे हुए कौवे, मचा हड़कंप

योगी ने कहा कि हर मंडलीय समीक्षा बैठकों में अफसरों को साफ तौर पर यह निर्देश दिया गया था कि जिलों में हो रहे 50 लाख से अधिक की लागत के निर्माण कार्यो की गुणवत्ता की जांच टास्क फोर्स गठित कर हर हाल में करवा ली जाए। मुरादनगर की घटना अफसरों की लापरवाही का परिणाम है। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में जहां भी निर्माण कार्य हो रहे हैं या हो चुके हैं, उनकी गुणवत्ता की जांच कर अधिकारी रिपोर्ट भेजें। एक भी निर्माण कार्य की गुणवत्ता में कमी मिली तो इसकी पूरी जिम्मेदारी जिले के आला अधिकारियों की होगी।

ये भी पढ़ें: इस राज्य में स्कूल खुलते ही दो शिक्षक पाए गए कोरोना पॉजिटिव, छात्रों की संख्या रही अच्छी

मुरादनगर की घटना को लेकर मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश के अधिकारियों को सख्त लहजे में दो टूक संदेश दे दिया है। मुख्यमंत्री ने चेतावनी के लहजे में कहा है कि इस तरह की घटनाओं के लिए जिम्मेदार अफसरों के लिए शासन में कोई जगह नहीं है। मुख्यमंत्री ने घटना को लेकर गाजियाबाद के जिलाधिकारी और मेरठ की मंडलायुक्त समेत अन्य जिम्मेदार अधिकारियों की भूमिका की जांच के संकेत भी दिए हैं।

ये भी पढ़ें: कोरोना से बचाने वाली दवा बिगाड़ सकती है आपकी ‘सेक्स लाइफ’, हो सकती है यह गंभीर बीमारी, WHO की चेतावनी

गौरतलब है कि गाजियाबाद के मुरादनगर में रविवार की दोपहर श्मशान घाट के प्रवेशद्वार के साथ बने गलियारे की छत गिरने से मलबे में दबकर 24 लोगों की मौत हो गई और 15 घायल हो गए। मामले में पुलिस ने ईओ निहारिका सिंह, जेई सीपी सिंह, सुपरवाइजर आशीष को गिरफ्तार कर लिया है। ठेकेदार अजय त्यागी समेत कुछ अन्य लोग फरार हैं।

आरोपियों पर आईपीसी धारा 304 (गैर इरादतन हत्या), धारा 337 (किसी व्यक्ति को खतरा पहुंचाना), धारा 338 (व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरा पैदा करने वाली चोट), धारा 409 (धन का गबन, सरकारी कर्मचारी द्वारा विश्वास का आपराधिक हनन) और धारा 427 (बुरी नीयत से कार्य) के तहत मुकदमा दर्ज हुआ।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X