1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. मध्य-प्रदेश
  4. ग्वालियर
  5. कांग्रेस छोड़ते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ कथित जमीन घोटाले की जांच शुरू, EWO ने फिर खोला केस

कांग्रेस छोड़ते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ कथित जमीन घोटाले की जांच शुरू, EWO ने फिर खोला केस

ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामते ही अब मध्य प्रदेश सरकार ने 6 साल पुरानी जांच फिर से शुरू कर दी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 13, 2020 10:43 IST
jyotiraditya Scindia- India TV Hindi
jyotiraditya Scindia

ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामते ही अब मध्य प्रदेश सरकार ने 6 साल पुरानी जांच फिर से शुरू कर दी है। मध्यप्रदेश पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने गुरुवार को सिंधिया के खिलाफ की गई एक शिकायत के तथ्यों का फिर से सत्यापन करने का निर्णय लिया है। यह मामला करीब 10 हजार करोड़ की जमीन के घोटाले का है। यहां एक ही जमीन को कई बार बेचने का आरोप है। सरकारी जमीन को भी बेचने का आरोप है। 2014 में मामले की जांच हो चुकी है। 

बता दें कि ग्वालियर में एक शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया था कि सिंधिया ने एक संपत्ति के दस्तावेजों में हेरफेर कर 6,000 फुट की जमीन का हिस्सा शिकायतकर्ता को बेचा था। ईओडब्लयू की प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि सुरेन्द्र श्रीवास्तव ने सिंधिया और उनके परिवार के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई कि उन्होंने एक रजिस्ट्री दस्तावेज में हेरफेर कर वर्ष 2009 में ग्वालियर के महलगांव में 6,000 फुट जमीन उसे बेची थी। 

ईओडब्ल्यू ने कहा कि पहली दफा यह शिकायत 26 मार्च 2014 में की गई थी. जिसकी जांच के बाद हमने इसे 2018 में बंद कर दिया गया था। शिकायतकर्ता ने  12 मार्च, 2020 को फिर से हमें आवेदन दिया है। उस आधार पर हम शिकायत के तथ्यों को फिर से सत्यापित करेंगे। 

गौरतलब है कि 18 साल की राजनीतिक पारी के बाद 11 मार्च को ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस को अलविदा कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा है। इसके साथ ही मध्य प्रदेश सरकार के 22 कांग्रेसी विधायक भी उनके साथ पार्टी छोड़ने के लिए तैयार बैठे हैं। जिसके चलते कमलनाथ सरकार से सत्ता छिनने की आशंका भी पैदा हो गई है। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। gwalior News in Hindi के लिए क्लिक करें मध्य-प्रदेश सेक्‍शन
Write a comment
X