Thursday, February 22, 2024
Advertisement

महाराष्ट्र में टीपू सुल्तान के अवैध स्मारक पर चला बुलडोजर, कार्रवाई के बाद सख्त सुरक्षा व्यवस्था

महाराष्ट्र के धुले जिले में बीच सड़क पर बने अवैध टीपू सुल्तान की स्मारक पर प्रशासन ने बुलडोजर चलवा दिया है। इसका निर्माण एAIMIM विधायक ने करवाया था।

Kajal Kumari Edited By: Kajal Kumari
Updated on: June 10, 2023 10:02 IST
tipu sultan - India TV Hindi
टीपू सुल्तान मेमोरियल पर चला बुलडोजर

महाराष्ट्र: धुले शहर में बीच चौक पर बने टीपू सुल्तान के एक अवैध स्मारक पर बुलडोजर चला दिया गया है। स्थानीय हिंदू संगठनों की ओर भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के पदाधिकारियों  ने शिकायत की थी कि ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के स्थानीय विधायक फारूक अनवर शाह ने धुले चौक में बीच सड़क पर टीपू सुल्तान का अवैध रूप से स्मारक बनवा दिया था। इस शिकायत के बाद स्मारक पर बुलडोजर चला दिया गया है। यह स्मारक 100 फीट रोड वडजाई सड़क के चौराहे बनाया गया था।

भाजयुमो ने स्मारक हटाने की मांग की थी

भारतीय जनता युवा मोर्चा ने इस स्मारक को हटाने की मांग करते हुए गृहमंत्री और राज्य के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को पत्र लिखा गया था. इसी के साथ एसपी और नगर निगम धुले के आयुक्त को भी पत्र लिखा था। शिकायत के बाद अधिकारियों ने कार्रवाई के निर्देश दिए थे। कार्रवाई के बाद शहर में सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी गई है। 

धुले शहर में नगर निगम ने डी मार्ट से बायपास हाइवे तक 100 फीट की सड़क बनवाई है और उसी सड़क के बीच में टीपू सुल्तान का स्मारक बनवा दिया गया था। भाजपा युवा मोर्चा ने स्मारक को लेकर शिकायत की और कहा था कि टीपू सुल्तान के स्मारक को वहां से हटाया जाना चाहिए। इसके साथ ही भाजयुमो ने पत्र में विधायक फारूक शाह के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की थी।

बता दें कि कुछ दिन पहले धुले के एक मंदिर में तोड़फोड़ कर दी गई थी, जिसके बाद शहर के लोगों ने नाराजगी देखने को मिली थी। वहीं अब स्मारक हटाए जाने के बाद धुले में सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। 

डीएम-एसपी ने कहा-ठेकेदार ने खुद हटा लिया

जिला कलेक्टर जलज शर्मा ने बताया कि शहर में चौराहे पर बने स्मारक के निर्माण को ठेकेदार ने शुक्रवार सुबह खुद ही हटा दिया था। उन्होंने कहा कि इस विवाद को सुलझाने में विधायक फारूक शाह की भूमिका अहम है।

वहीं, पुलिस अधीक्षक संजय बरकुंड ने कहा कि टीपू सुल्तान का स्मारक बनाने वाले ठेकेदार ने खुद इसे हटा दिया है। इसको लेकर विरोध हो रहा था, क्योंकि टीपू सुल्तान के स्मारक के निर्माण को लेकर नियमानुसार अनुमति नहीं थी। एसपी ने अपील की है कि अफवाहों पर विश्वास ना करें और शांति बनाए रखें।

ये भी पढ़ें:

तेजी से बढ़ रहा है चक्रवाती तूफान बिपरजॉय, 11 से 14 जून तक देश के इन राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट

ये क्या बोल गए कांग्रेस विधायक-'राम को लंका तक पहुंचाने वाले आदिवासी थे, मैं तो कहता हूं हनुमान भी...'

 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें महाराष्ट्र सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement