1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. टीम की जरूरत के मुताबिक खेलना रूतुराज गायकवाड़ की सबसे बड़ी ताकत

टीम की जरूरत के मुताबिक खेलना रूतुराज गायकवाड़ की सबसे बड़ी ताकत

भारतीय टीम के लिए पहली बार चुने गये सलामी बल्लेबाज रूतुराज गायकवाड़ ने शुक्रवार को कहा कि वह श्रीलंका के आगामी दौरे पर परिस्थितियों से जल्दी सामांजस्य बिठाने की अपनी क्षमता पर भरोसा जताएंगे। 

Bhasha Bhasha
Published on: June 11, 2021 16:22 IST
टीम की जरूरत के...- India TV Hindi
Image Source : IPLT20.COM टीम की जरूरत के मुताबिक खेलना रूतुराज गायकवाड़ की सबसे बड़ी ताकत

पुणे। भारतीय टीम के लिए पहली बार चुने गये सलामी बल्लेबाज रूतुराज गायकवाड़ ने शुक्रवार को कहा कि वह श्रीलंका के आगामी दौरे पर परिस्थितियों से जल्दी सामांजस्य बिठाने की अपनी क्षमता पर भरोसा जताएंगे। महाराष्ट्र का 24 साल का यह बल्लेबाज 13 जुलाई से 25 जुलाई तक श्रीलंका दौरे पर तीन एकदिवसीय और इतने ही टी20 मैचों की श्रृंखला के लिए शिखर धवन की अगुवाई में चुनी गयी 20 सदस्यीय टीम में छह नये चहरों में से एक है।

गायकवाड़ ने यहां अभ्यास सत्र के बाद पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘ मैं काफी खुश हूं। जिस क्षण से मुझे इसके बारे में पता चला, मेरी आंखों के सामने अपने करियर की यात्रा आ गयी कि मैंने कहा से अपना सफर शुरू किया था और मैं कहां पहुंचना चाहता हूं। अभी भावनाओं से भरा हुआ हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ आप उन लोगों के बारे में सोचते हैं जिन्होंने पूरी यात्रा में आपका साथ दिया है, चाहे वह मेरे माता-पिता हों, दोस्त हों या कोच। तो जाहिर तौर पर सभी के लिए गर्व की अनुभूति और सभी के लिए खुशी की बात है।’’ दाएं हाथ के बल्लेबाज का 59 लिस्ट ए मैचों में 47 से अधिक का औसत है और टी20 प्रारूप में उनका स्ट्राइक रेट 130 से अधिक है। गायकवाड़ को लगता है कि खेल में किसी भी स्थिति में ढलना उनकी ‘मूल ताकत’ है।

उन्होंने कहा, ‘‘ मेरी ताकत टीम के जरूरत के मुताबिक खेलना है चाहे वह आक्रामक तरीके से हो या स्थिति के अनुसार। कई बार यह सुनिश्चित करना होता है कि टीम मुश्किल परिस्थिति से बाहर निकले। मैं आक्रामक और रक्षात्मक दोनों स्थितियों के अनुकूल हूं, यही मुझे लगता है कि यह मेरी ताकत है।’’ आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के साथ सफलता हासिल करने के बाद तेजी से उभरे इस युवा खिलाड़ी ने कहा कि वह फिर से राहुल द्रविड़ के साथ फिर से जुड़ना चाहते हैं, जो टीम के मुख्य कोच होंगे। द्रविड़ इससे पहले भारतीय अंडर-19 और ए टीमों को कोचिंग दे चुके हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ इस दौरे पर सीमित अवसर मिलेगा लेकिन मैं इस यात्रा से जितना हो सके सीखने की उम्मीद कर रहा हूं। टीम में अनुभवी खिलाड़ी हैं और जाहिर है एक बार फिर मुझे राहुल सर के साथ जुड़ने का मौका मिलेगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ ‘भारत ए’ का आखिरी दौरा लगभग डेढ साल पहले हुआ था, ऐसे में एक बार फिर से उनके (राहुल द्रविड) मिलने और बात करने का मौका मिलेगा। इसलिए यह प्रदर्शन और स्कोरकार्ड के आंकड़ों से काफी अधिक है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ जाहिर है अगर मुझे मौका मिलता है, तो उम्मीद है कि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ दे सकूं और भारत के लिए मैच जीत सकूं। मेरा सबसे बड़ा लक्ष्य भारतीय टीम या अपने देश के लिए जीत हासिल करना है।’’

गायकवाड़ चेन्नई सुपर किंग्स की टीम में फाफ डु प्लेसिस और महेन्द्र सिंह धोनी जैसे दिग्गजों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा कर चुके हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ माही भाई के साथ की बात करू तो, जाहिर तौर पर वह जो कुछ भी बोलते हैं, वह हमेशा अनुसरण करने लायक होता है। मैंने सुना था कि उन्होंने मैच के बाद की प्रस्तुति में मेरे बारे में बात की थी। मैं उनके साथ ज्यादा बात नहीं करता, उन्हें पता है कि मैं शांत और शर्मीला खिलाड़ी हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ धोनी को जब भी लगता कि मैं दबाव हूं तो वह मेरे पास सबसे पहले आते थे और कहते थे कि चिंता की कोई बात नहीं।’’ गायकवाड़ अब चंदू बोर्डे और केदार जाधव जैसे महाराष्ट्र के उन शानदार क्रिकेटरों की सूची में शामिल हो सकते हैं जो भारत की तरफ से खेले। उन्होंने कहा कि जाधव ने उनकी यात्रा में प्रभावशाली भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा, ‘‘केदार (जाधव) मेरी यात्रा की शुरुआत से मेरे साथ हैं, जब से मेरा प्रथम श्रेणी करियर शुरू हुआ और मुझे लगता है कि वह पूरी यात्रा में बहुत प्रभावशाली रहे हैं । वह हमेशा मुझे प्रोत्साहित करते रहे हैं।’’ 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

X