ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. एशेज सीरीज में डेविड वार्नर को हल्के में नहीं लेंगे जेम्स एंडरसन

एशेज सीरीज में डेविड वार्नर को हल्के में नहीं लेंगे जेम्स एंडरसन

बाएं हाथ के बल्लेबाज वार्नर का 2019 में ज्यादा अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा था, उस समय उन्होंने 9.5 की औसत से सिर्फ 95 रन बनाए थे।

India TV Sports Desk Edited by: India TV Sports Desk
Published on: December 02, 2021 16:16 IST
James Anderson, David Warner, Ashes series, Australia vs England - India TV Hindi
Image Source : GETTY David Warner

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन आठ दिसंबर से शुरू होने वाले एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को गेंदबाजी करेंगे। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के ओपनर बल्लेबाज डेविड वॉर्नर के मन में उनके लिए बहुत सम्मान है। एंडरसन ने कहा कि वार्नर के पास अभी भी "ऑस्ट्रेलिया के लिए बहुत कुछ" है और "हम उसे हल्के में नहीं लेने जा रहे हैं"। 

एंडरसन ने फॉक्स स्पोर्ट्स को बताया "ऑस्ट्रेलिया टीम में उनका रिकॉर्ड सवश्रेष्ठ है, इसलिए हम जानते हैं कि यह एक अलग खिलाड़ी है जिसका हमने 2019 की गर्मियों में हुए मैचों में सामना किया था। हमने वार्नर के साथ बहुत से मैच खेले है।"

यह भी पढ़ें- एशेज सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम में एलेक्स कैरी को मिली जगह

बाएं हाथ के बल्लेबाज वार्नर का 2019 में ज्यादा अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा था, उस समय उन्होंने 9.5 की औसत से सिर्फ 95 रन बनाए थे। स्टुअर्ट ब्रॉड ने उन्हें सात बार आउट किया। वार्नर ने कुल 7,311 टेस्ट रन बनाए हैं, जिसमें उन्होंने अपने 45 टेस्ट मैचों में 63.20 के औसत से 18 शतक बनाए हैं, जिसमें 335 का सर्वोच्च स्कोर है।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान ग्रेग चैपल ने भी चेतावनी दी थी कि वॉर्नर को इंग्लैंड टीम कभी भी कम करके नहीं आंके।

उन्होंने कहा, "कई लोगों ने उन्हें टी20 विश्व कप से पहले लिखा था, केवल उन्हें यह साबित करने के लिए कि वह शीर्ष क्रम में कितने महत्वपूर्ण हैं," उन्होंने कहा, वार्नर ऑस्ट्रेलिया को खिताब दिलाने के लिए फिर से फॉर्म में वापस आ गए हैं।

यह भी पढ़ें- ओमिक्रोन से चिंतित हैं विराट कोहली, साउथ अफ्रीका दौरे के लिए BCCI से करेंगे बात

चैपल ने कहा, "मुझे लगता है कि टेस्ट लाइनअप में वह और भी महत्वपूर्ण हैं।" "एक ओपनर बल्लेबाज खेल को स्थापित करने में अमूल्य हो सकता है।

वार्नर ने 10 साल पहले ब्रिस्बेन में अपने टेस्ट मैचों की शुरुआत की थी, लेकिन इसके बाद दूसरे मैच में वार्नर का बल्ला इतना आक्रामक हो गया कि वह उन्हें शतक की ओर ले गया। इससे बाद अन्य खेलों में भी उन्होंने मैचों में अपनी अहम भूमिका निभाते हुए टीम में अपनी जगह बनाई।

बता दें कि वार्नर का नाम 2018 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ केप टाउन में तीसरे टेस्ट के दौरान कैमरन बैनक्रॉफ्ट और स्टीव स्मिथ के साथ गेंद को बदलने की साजिश में आया था।

लाइव स्कोरकार्ड

uttar-pradesh-elections-2022
elections-2022