T20 World Cup: 15 साल बाद जोगिंदर का खुलासा, 2007 वर्ल्ड कप फाइनल में धोनी ने कही थी ये बात

T20 World Cup: 2007 टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में पाकिस्तान पर भारतीय क्रिकेट टीम की जीत के शनिवार को पूरे 15 साल हो गए हैं।

India TV Sports Desk Written By: India TV Sports Desk
Published on: September 24, 2022 21:51 IST
T20 World Cup- India TV Hindi
Image Source : GETTY T20 World Cup

Highlights

  • 2007 की जीत को जोगिंदर ने किया याद
  • धोनी ने आखिरी ओवर में कही थी ये बात
  • 15 साल बाद किया बड़ा खुलासा

T20 World Cup: दक्षिण अफ्रीका के जोहान्सबर्ग में 24 सितंबर 2007 को पहला टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में पाकिस्तान पर भारतीय क्रिकेट टीम की जीत के शनिवार को पूरे 15 साल हो गए। यह 24 सालों में भारत का पहला वर्ल्ड कप खिताब था और फैंस के दिमाग में उसकी यादें अभी भी जीवित हैं। पूर्व तेज गेंदबाज जोगिंदर शर्मा से बेहतर इसे कौन जानता है। मीडियम पेसर गेंदबाज ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ भारत को पांच रन से जीत दिलाने में मदद की थी।

जोगिंदर ने आखिरी ओवर में किया था कमाल

 158 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान को आखिरी 6 गेंदों पर जीत के लिए 13 रन चाहिए थे। इन-फॉर्म मिस्बाह-उल-हक मैच और खिताब को भारत से दूर ले जाना चाह रहे थे। ऐसी परिस्थितियों में धोनी ने एक जुआ खेला और अंतिम ओवर फेंकने के लिए वह जोगिंदर शर्मा की ओर गए और फिर जोगिंदर ने मिस्बाह को आउट कर भारत को वर्ल्ड चैंपियन बना दिया।

धोनी ने कही थी ये बात

जोगिंदर शर्मा ने अब खुलासा किया है कि 15 साल पहले उस रात आखिरी ओवर में गेंदबाजी करते हुए कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ उनकी क्या बातचीत हुई थी। वर्तमान में लीजेंड्स लीग में खेल रहे जोगिंदर ने कहा, "अंतिम ओवर से पहले चर्चा यह नहीं थी कि मुझे किस लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी करनी चाहिए या मेरी गेंदबाजी की रणनीति क्या होनी चाहिए। माही ने मुझसे कहा कि तुम किसी भी तरह का दबाव मत लो। अगर हम हारते हैं, तो यह मेरे ऊपर आएगा।"

आखिरी ओवर में नहीं था दवाब

उन्होंने कहा, "यहां तक कि जब मिस्बाह ने दूसरी गेंद पर मुझे छक्का लगाया, तब भी हम दबाव में नहीं थे। किसी भी समय, हमने चर्चा नहीं की कि हमें क्या करने की आवश्यकता है। तीसरी गेंद डालने से ठीक पहले मैंने देखा कि मिस्बाह स्कूप खेलने के लिए तैयार हो रहे हैं। इसलिए मैंने लेंथ में बदलाव किया और धीमी गेंदबाजी की और मिस्बाह इसे ठीक से हिट नहीं कर पाए। श्रीसंत ने कैच लपका और बाकी जैसा कि वे कहते हैं कि इतिहास है।"

जोगिंदर ने कहा कि 2007 टी20 वर्ल्ड कप फाइनल की यादें अभी भी उनके दिमाग में ताजा है और हमेशा रहेगी।

Latest Cricket News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन

लाइव स्कोरकार्ड