1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पश्चिम बंगाल
  4. सिर्फ बंगाल की पार्टी नहीं रहेगी TMC, पूर्वोत्तर में काम करने पर विचार: सुष्मिता देव

सिर्फ बंगाल की पार्टी नहीं रहेगी TMC, पूर्वोत्तर में काम करने पर विचार: सुष्मिता देव

कांग्रेस छोड़कर TMC में आने वाली सुष्मिता देव ने बुधवार को कहा कि TMC पूर्वोत्तर राज्यों में काम करने की सोच रही है, इसके साथ ही वह सिर्फ पश्चिम बंगाल की पार्टी नहीं रहेगी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 15, 2021 21:07 IST
सिर्फ बंगाल की पार्टी नहीं रहेगी TMC, पूर्वोत्तर में काम करने पर विचार: सुष्मिता देव- India TV Hindi
Image Source : PTI सिर्फ बंगाल की पार्टी नहीं रहेगी TMC, पूर्वोत्तर में काम करने पर विचार: सुष्मिता देव

नई दिल्ली/कोलकाता: कांग्रेस छोड़कर TMC में आने वाली सुष्मिता देव ने बुधवार को कहा कि TMC पूर्वोत्तर राज्यों में काम करने की सोच रही है, इसके साथ ही वह सिर्फ पश्चिम बंगाल की पार्टी नहीं रहेगी। सुष्मिता देव ने कहा, "ममता बनर्जी ने नया इतिहास रचा है, उन्होंने पूर्वोत्तर के किसी राजनीतिक व्यक्ति को पश्चिम बंगाल से राज्यसभा में बैठने का मौका दिया। इसमें राजनीतिक संदेश ये है कि TMC अब सिर्फ पश्चिम बंगाल की पार्टी नहीं रहेगी वो पूर्वोत्तर राज्यों में काम करने की सोच रही है।"

गौरतलब है कि TMC ने 14 सितंबर को ट्वीट कर यह जानकारी दी कि पार्टी ने सुष्मिता देव को राज्यसभा के लिए नामांकित किया है। पार्टी ने ट्वीट में लिखा, "सुष्मिता देव को संसद के उच्च सदन के लिए नामांकित करते हुए हमें अत्यंत प्रसन्नता हो रही है। ममता बनर्जी की महिलाओं को सशक्त बनाने और राजनीति में उनकी अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित करने की दृष्टि हमारे समाज को और अधिक हासिल करने में मदद करेगी!"

बता दें कि कांग्रेस छोड़कर 16 अगस्त को सुष्मिता देव पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुई थीं। कांग्रेस छोड़ने से पहले तक वह अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष और कांग्रेस प्रवक्ता की जिम्मेदारी निभा रहीं थी, फिर उन्होंने 15 अगस्त को पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेजे दिया और फिर 16 अगस्त को कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी की उपस्थिति में पार्टी में शामिल हो गईं। 

सुष्मिता ने अपने त्यागपत्र में कांग्रेस छोड़ने के कारण का कोई उल्लेख नहीं किया था। हालांकि उन्होंने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने के साथ ही खुद को मिले मार्गदर्शन एवं सहयोग के लिए सोनिया गांधी और पार्टी नेतृत्व का धन्यवाद किया था। उन्होंने कहा था, ‘‘मैं आशा करती हूं जब मैं सार्वजनिक जीवन में नया अध्याय शुरू करने जा रही हूं तो आपकी शुभकामनाएं मेरे साथ होंगी।’’

Click Mania