Wednesday, June 19, 2024
Advertisement

इजरायल: पीएम नेतन्याहू ने रक्षा मंत्री की बर्खास्तगी पलटी, न्यायिक सुधार को लेकर सरकार को ललकारा था

इजरायल के रक्षा मंत्री को नेतन्याहू ने पहले फायर किया था और अब अपने फैसले को उलट दिया। गैलेंट को उनके पद पर यथावत रखने के नेतन्याहू के फैसले को सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों के लिए एक बड़ी उपलब्धि के रूप में देखा जा रहा है।

Edited By: Swayam Prakash @swayamniranjan_
Published on: April 11, 2023 8:55 IST
इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू- India TV Hindi
Image Source : AP इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने सोमवार को रक्षा मंत्री योआव गैलेंट को देश में सुरक्षा संकट के बीच उनके पद पर बहाल कर दिया। योआव गैलेंट ने इजरायल सरकार द्वारा न्यायिक प्रणाली को ओवरहाल करने की योजना को फ्रीज करने के लिए सार्वजनिक आह्वान किया था। लिहाजा रक्षा मंत्री को नेतन्याहू ने पहले फायर किया था और अब अपने फैसले को उलट दिया। द टाइम्स ऑफ इज़राइल ने इस खबर को रिपोर्ट किया। गैलेंट को उनके पद पर यथावत रखने के नेतन्याहू के फैसले को सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों के लिए एक बड़ी उपलब्धि के रूप में देखा जा रहा है, जो दो सप्ताह पहले उनकी बर्खास्तगी की घोषणा के बाद रक्षा मंत्री के समर्थन में सहज प्रदर्शन कर रहे थे।

जनता के बीच बढ़ रहा नेतन्याहू के खिलाफ रोष

द टाइम्स ऑफ इज़राइल ने अनुसार, यह हालिया पोल के बाद हुआ, जिसमें सुझाव दिया गया था कि नेतन्याहू का गैलेंट को निकालने का फैसला उन्हें राजनीतिक रूप से काफी नुकसान पहुंचा रहा था। पीएम बेंजामिन नेतन्याहू कई मोर्चों पर अपने ऊपर ऐसे ही हमलों और जनता के बढ़ते गुस्से का सामना कर रहे हैं। पीएम नेतन्याहू ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "मंत्री गैलेंट और मैं सुरक्षा चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। हमारे बीच कठिन मतभेद थे लेकिन मैंने अपने मतभेदों को पीछे रखने का फैसला किया।" इसके तुरंत बाद गैलेंट ने नेतन्याहू के साथ अपनी एक तस्वीर ट्वीट की और लिखा, "इजरायल की सुरक्षा के लिए हम पूरी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं।"

विभाजनकारी न्यायिक ओवरहाल योजना पर जन विरोध
रक्षा मंत्री गैलेंट का सार्वजनिक आह्वान पिछले महीने सरकार की कटु विभाजनकारी न्यायिक ओवरहाल योजना को रोकने के लिए थी, जिसके बारे में गैलेंट ने कहा था कि यह इजरायल की सुरक्षा के लिए खतरा बन गया है। पिछले हफ्ते नेतन्याहू ने घोषणा की थी कि वह गैलेंट की बर्खास्तगी में देरी करेंगे। नेतन्याहू ने कहा, "मैंने अपने मतभेदों को भुलाने का फैसला किया है।" गौरतलब है कि नेतन्याहू ने पिछले महीने घोषणा की थी कि गैलेंट को निकाल दिया गया है। इस फैसले से जन विरोध और देश को पंगु बनाने की धमकी देने वाली एक आम हड़ताल की लहर पैदा कर दी, जिससे इजरायल के नेता को न्यायिक प्रणाली को ओवरहाल करने वाली अपनी विभाजनकारी योजना को निलंबित करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

ये भी पढ़ें-

असम की हाई-सिक्योरिटी डिब्रूगढ़ जेल भेजा गया पपलप्रीत सिंह, अमृतपाल की एंट्री को लेकर नेपाल पुलिस अलर्ट

अशोक गहलोत के खिलाफ खुलकर मैदान में सचिन पायलट, आज अनशन की तैयारी, कांग्रेस ने बताया पार्टी विरोधी 
 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement