1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. इमरान खान के सामने अफगान राष्ट्रपति ने तालिबान के समर्थन के लिए पाकिस्तान को लताड़ा

इमरान खान के सामने अफगान राष्ट्रपति ने तालिबान के समर्थन के लिए पाकिस्तान को लताड़ा

अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी से आतंकवाद में बढ़ोतरी की संभावना को देखते हुए अफगान राष्ट्रपति अशरफ घनी ने शुक्रवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के सामने ही पाकिस्तान को लताड़ा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 16, 2021 12:52 IST
इमरान खान के सामने अफगान राष्ट्रपति ने तालिबान के समर्थन के लिए पाकिस्तान को लताड़ा- India TV Hindi
Image Source : FILE इमरान खान के सामने अफगान राष्ट्रपति ने तालिबान के समर्थन के लिए पाकिस्तान को लताड़ा

ताशकंद। अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी से आतंकवाद में बढ़ोतरी की संभावना को देखते हुए अफगान राष्ट्रपति अशरफ घनी ने शुक्रवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के सामने ही पाकिस्तान को लताड़ा है। उज्बेकिस्तान के ताशकंद में अफगान शांतिवार्ता को लेकर एक अहम बैठक हो रही है और उसी बैठक में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ घनी, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान, अफगान मामले पर अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि जाल्मई खलीलजाद समेत कई मध्य एशियाई देशों के शीर्ष नेता शामिल हैं और भारत की तरफ से विदेश मंत्री एस जयशंकर बैठक मे पंहुचे हुए हैं। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बैठक में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को लताड़ते हुए कहा है कि पाकिस्तान तालिबानी आतंकवादियों को अफगान सीमा में घुसने से रोक नहीं रहा है और साथ में पाकिस्तान तालिबान को सफल शांतिपूर्ण वार्ता के लिए भी नहीं मना सका है। अशरफ घनी ने पाकिस्तान को दो टूक कह दिया कि या तो वह अफगान शांतिवार्ता में रचनात्मक भूमिका निभाए या फिर अफगानिस्तान की सेना अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। 

संयुक्त राष्ट्र ने युद्धग्रस्त अफगानिस्तान की मदद की अपील की

अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र की मानवीय सेवा के प्रमुख ने तालिबान के हमले के प्रभाव से निपटने, देश की एक तिहाई आबादी को कुपोषण से बचाने, सूखे की गंभीर स्थिति के लिहाज से और इस साल स्वदेश आए 6,27,000 अफगानों, जिनमें से अधिकतर पड़ोसी ईरान से लौटे हैं, ऐसे लोगों की मदद के लिए बृहस्पतिवार को 85 करोड़ डॉलर की मदद की अपील की। रमीज अलकबरोव ने राजधानी काबुल से डिजिटल तरीके से बैठक के बाद संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में पत्रकारों को बताया कि कम से कम आठ करोड़ अफगानों को सहायता की आवश्यकता है और संयुक्त राष्ट्र की इनमें से कम से कम 1.57 करोड़ लोगों को मदद देने की योजना है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र ने 1.3 अरब डॉलर की अपील की थी लेकिन सिर्फ 37 प्रतिशत रकम यानी 45 करोड़ डॉलर ही जुटाए जा सके हैं। 

Click Mania
bigg boss 15