1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. क्या कोरोना का संक्रमण दोबारा हो सकता है? स्टडी में सामने आई बड़ी जानकारी

कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर 6 महीने तक दोबारा नहीं होता है संक्रमण: स्टडी

आम लोगों के बीच एक सवाल बहुत ही कॉमन है कि क्या कोरोना वायरस का संक्रमण दोबारा हो सकता है। ब्रिटेन में हुई एक स्टडी में इस सवाल का जवाब तलाशने की कोशिश की गई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: November 21, 2020 22:59 IST
Coronavirus reinfection, COVID-19 immunity, Coronavirus immunity, Coronavirus immunity 6 months- India TV Hindi
Image Source : AP FILE अध्ययन में बताया गया है कि पिछले 6 महीने में संक्रमित हुए अधिकतर लोगों को दोबारा कोविड-19 होने की संभावना नहीं है।

लंदन: आम लोगों के बीच एक सवाल बहुत ही कॉमन है कि क्या कोरोना वायरस का संक्रमण दोबारा हो सकता है। ब्रिटेन में हुई एक स्टडी में इस सवाल का जवाब तलाशने की कोशिश की गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ब्रिटेन में एक नए अध्ययन में कहा गया है कि कोविड-19 से पहले संक्रमित हो चुके लोगों को पहले संक्रमण के बाद कम से कम 6 महीने तक दोबारा यह बीमारी होने की बहुत कम संभावना होती है। इस स्टडी में बड़ी संख्या में स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया गया था, जिसमें यह बात सामने आई थी।

‘यह वाकई अच्छी खबर है’

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय तथा ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय अस्पताल (OUH) के NHS फाउंडेशन ट्रस्ट के बीच साझेदारी के तहत अध्ययन किया गया जिसमें अग्रिम पंक्ति में रहकर काम करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया गया है। अध्ययन में बताया गया है कि पिछले 6 महीने में संक्रमित हुए अधिकतर लोगों को दोबारा कोविड-19 होने की संभावना नहीं है। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के नफील्ड डिपार्टमेंट ऑफ पॉपुलेशन हेल्थ के प्रोफेसर डेविड आयरे ने कहा, ‘यह वाकई अच्छी खबर है क्योंकि हम भरोसा कर सकते हैं कि कोविड-19 ग्रस्त हो चुके अधिकतर लोग कम से कम कुछ समय के लिए दोबारा संक्रमित नहीं होंगे।’

‘किसी में संक्रमण नहीं दिखा’
शोधपत्र प्रकाशन के पूर्व के चरणों में है और इसके लेखकों में शामिल आयरे ने कहा, ‘इस अध्ययन में बड़ी संख्या में स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल किया गया। इसमें सामने आया है कि कोविड-19 कम से कम 6 महीने तक अधिकतर लोगों को पुन: संक्रमण से बचाता है। जिन प्रतिभागियों में एंटीबॉडी पाए गए, उनमें से किसी को लक्षण के साथ कोई संक्रमण नहीं दिखाई दिया।’ बता दें कि पिछल कुछ समय में अलग-अलग देशों से ऐसी खबरें आई थीं कि कोरोना वायरस से एक बार संक्रमित हो चुके लोग दोबारा इसकी चपेट में आ रहे हैं, ऐसे में इस स्टडी की अहमियत बढ़ जाती है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment