1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. ट्रंप ने वेनेजुएला की सेना से कहा, मादुरो की बात मत मानो, गुइदो का समर्थन करो

ट्रंप ने वेनेजुएला की सेना से कहा, मादुरो की बात मत मानो, गुइदो का समर्थन करो

मादुरो ने भोजन सामग्रियों को खराब हो चुकी एवं संक्रमित बताकर यह मानवीय सहायता लेने से इनकार किया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 19, 2019 11:54 IST
Donald Trump urges Venezuelan military to desert 'Cuban puppet' Maduro | AP File- India TV
Donald Trump urges Venezuelan military to desert 'Cuban puppet' Maduro | AP File

मियामी: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वेनेजुएला की सेना से विपक्षी नेता जुआन गुइदो की क्षमादान पेशकश को स्वीकार करने या ‘सब कुछ खोने’ के लिए तैयार रहने की अपील की है। राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के अत्यंत आवश्यक मानवीय सहायता लेने से इनकार करने के बाद वेनेजुएला में संकट गहरा गया है। मानवीय सहायता जुटा पाना गुइदो की स्वीकार्यता को बरकरार रखने के लिए बहुत महत्त्वपूर्ण है। गुइदो ने पिछले साल मादुरो के पुन:निर्वाचन को फर्जी बताया था और जनवरी में खुद को अंतरिम राष्ट्रपति घोषित कर दिया। उनके इस कदम को करीब 50 देशों ने मान्यता दी थी।

उन्होंने मादुरो सरकार को देश में सहायता सामग्री पहुंचने देने के लिए शनिवार तक का समय दिया है। ये सामग्रियां मुख्यत: अमेरिका की ओर से मुहैया कराई जा रही हैं। वेनेजुएला बेलगाम मुद्रास्फीति और भोजन एवं दवाओं की किल्लत के चलते मानवीय संकट की गिरफ्त में है। मियामी में वेनेजुएला के निर्वासितों एवं समर्थकों से सोमवार को ट्रंप ने कहा कि मादुरो को उनके पद पर कायम रखने वाले अधिकारियों के लिए उनके पास एक संदेश है। उन्होंने कहा, ‘आज, हर रोज और भविष्य में आने वाले हर दिन विश्व भर की नजरें आप पर होंगी।’

ट्रंप ने कहा, ‘आप उस विकल्प से बच नहीं सकते जो अब आपके सामने है। आप अपने परिवार एवं देशवासियों के साथ शांति से जीवन जीने के लिए राष्ट्रपति गुइदो के माफी के उदार प्रस्ताव को स्वीकार कर सकते हैं। या फिर आप दूसरा रास्ता चुन सकते हैं, मादुरो को समर्थन देना जारी रख सकते हैं। अगर आप यह रास्ता चुनते हैं तो आपको कोई सुरक्षित आश्रय नहीं मिलेगा, न आसान निकास और न बाहर आने का रास्ता। आप सबकुछ खो देंगे।’ गुइदो ने यह सहायता प्राप्त करने के लिए 10 लाख स्वयंसेवियों को तैयार करने का लक्ष्य रखा है जिसमें से 6,00,000 पहले ही पंजीकृत हो चुके हैं।

मादुरो ने भोजन सामग्रियों को खराब हो चुकी एवं संक्रमित बताकर यह मानवीय सहायता लेने से इनकार किया है। उन्होंने देश में उत्पन्न भोजन एवं दवाईयों की किल्लत के लिए अमेरिकी प्रतिबंधों को जिम्मेदार ठहराया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X