1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. क्राइम
  4. रांची में हमलावरों ने हथौड़े और चाकू से की भाई-बहन की हत्या, मां की हालत नाजुक

Jharkhand: रांची में हमलावरों ने हथौड़े और चाकू से की भाई-बहन की हत्या, मां की हालत नाजुक

Jharkhand: राजधानी रांची में शनिवार तड़के तीन अपराधियों ने कथित रूप से एक 17 वर्षीय किशोरी और उसके भाई की हथौड़े और चाकू से हमला कर हत्या कर दी। हमले का आरोप लड़की की घायल मां ने अपनी लड़की श्वेता के प्रेमी पर लगाया है।

Akash Mishra Edited by: Akash Mishra @Akash25100607
Published on: June 18, 2022 18:24 IST
File Photo- India TV Hindi
Image Source : PTI File Photo

Highlights

  • हमलावरों ने सुबह 4 बजे दिया था वारदात को अंजाम
  • हमले में लड़की श्वेता की मौके पर ही हुई मौत
  • घायल मां ने बेटी के प्रेमी पर लगाया हमले का आरोप

Jharkhand: झारखंड की राजधानी रांची के पंडरा थाना क्षेत्र के जनक नगर में शनिवार तड़के तीन अपराधियों ने कथित रूप से एक 17 वर्षीय किशोरी और उसके भाई की हथौड़े और चाकू से हमला कर हत्या कर दी। इस हमले में उनकी मां गंभीर रूप से घायल हो गईं। रांची के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र कुमार झा ने बताया कि तड़के लगभग चार बजे 17 वर्षीय 12वीं की छात्रा श्वेता सिंह और उसके 14 वर्षीय भाई प्रवीण कुमार उर्फ ओम की उनके घर में घुसकर हथौड़े और चाकू से हमला कर हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि अपराधियों के हमले में मृतकों की मां चंदा देवी (40 वर्ष) भी गंभीर रूप से घायल हो गयीं। जिन्हें राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है लेकिन उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। झा ने बताया कि मारे गये भाई-बहन के पिता संजीव कुमार सिंह अबू धाबी में नौकरी करते हैं। श्वेता और प्रवीण अपनी मां चंदा देवी के साथ जनक नगर स्थित एक किराए के मकान में रहते थे। 

पुलिस की जांच में सामने आया प्रेम प्रसंग का मामाला

पुलिस की चल रही जांच में हत्या को लेकर प्रेम प्रसंग का मामला भी सामने आया है। रांची शहर के पुलिस अधीक्षक अंशुमान कुमार ने कहा, "फोरेंसिक की एक टीम मौके पर काम कर रही है। प्रथम दृष्टया यह कि लड़की और आरोपी के बीच प्रेम संबंध का मामला लगता है, लेकिन हम अन्य एंगल से भी जांच कर रहे हैं।" हमले में गंभीर रूप से घायल मां ने पुलिस को बयान दिया है कि उनकी बेटी के प्रेमी ने ही इस घटना को अंजाम दिया है। पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार सुबह 4 बजे तीन हत्यारे चंदा देवी के घर पहुंचे और दरवाजा खटखटाया। पुलिस ने बताया कि श्वेता के दरवाजा खोलने पर हत्यारों ने हथौड़े से ताबड़तोड़ हमला कर उसे, उसके भाई प्रवीण और मां चंदा देवी को गंभीर रूप से घायल कर दिया। इस हमले में श्वेता की मौके पर ही मौत हो गई। 

हत्यारों की खोज में पुलिस कर रही है लगातार छापेमारी

मोहल्ले वालों ने जब मेन गेट से खून निकलता देखा तो उन्होंने चंदा देवी के पिता रामाधार सिंह को सूचना दी। इसके बाद वे भागे-भागे मौके पर पहुंचे तो उस समय चंदा देवी और प्रवीण की सांसें चल रही थीं। इसके बाद आनन-फानन में दोनों को अस्पताल भेजा गया, लेकिन अस्पताल में प्रवीण की भी मौत हो गई। पुलिस को जांच में यह भी पता चला है कि लड़के के साथ श्वेता का प्रेम प्रसंग चल रहा था, उसके साथ पूर्व में विवाद भी हुआ था। विवाद थाने तक भी पहुंचा था लेकिन इस मामले में सुलह हो गई थी। पुलिस ने एक व्यक्ति को हिरासत में भी लिया है। सभी हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।