1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. दिल्ली में बढ़ते कोरोना के बीच केजरीवाल सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को लेकर लिया ये बड़ा फैसला

दिल्ली में बढ़ते कोरोना के बीच केजरीवाल सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को लेकर लिया ये बड़ा फैसला

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार ने गुरुवार को प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना मरीजों को लेकर बड़ा फैसला लिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: April 08, 2021 22:58 IST
दिल्ली में बढ़ते कोरोना के बीच केजरीवाल सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को लेकर लिया ये बड़ा फैसला- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO दिल्ली में बढ़ते कोरोना के बीच केजरीवाल सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को लेकर लिया ये बड़ा फैसला

नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने गुरुवार को प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना मरीजों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली सरकार ने दिल्ली के 115 निजी अस्पतालों को निर्देश दिया है कि वे अपने कुल आईसीयू और वार्ड बेड्स का 50 प्रतिशत कोरोना वायरस के मरीजों के लिए आरक्षित रखें। 

सर गंगाराम अस्पताल के 37 डॉक्टर संक्रमित

कोविड-19 की मौजूदा लहर में दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल (एसजीआरएच) में 37 डॉक्टर संक्रमित हो गए हैं और उनमें से पांच को उपचार के लिए भर्ती कराया गया है। सूत्रों ने गुरुवार को इस बारे में बताया। राष्ट्रीय राजधानी में पिछले कुछ हफ्ते में कोरोना वायरस के मामलों में तेज बढ़ोतरी हुई है और पहली बार 7,000 से ज्यादा मामले आए हैं। अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि कोविड-19 महामारी की हालिया लहर में 37 डॉक्टरों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

निजी अस्पताल सर गंगा राम हॉस्पिटल के एक सूत्र ने बताया, ‘‘अस्पताल में कोविड-19 के मरीजों का उपचार करते हुए 37 डॉक्टर संक्रमित हुए हैं। इन डॉक्टरों में से अधिकतर में कोरोना के हल्के लक्षण मिले हैं। कुल 32 डॉक्टर पृथक-वास में हैं और बाकी पांच को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।’’ पिछले एक साल से महामारी के दौरान सर गंगाराम अस्पताल ने कोविड-19 के उपचार में अग्रणी भूमिका निभायी है।

जानिए दिल्ली में कोरोना के क्या हैं आकंड़े

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। गुरुवार (8 अप्रैल) को दिल्ली में कोरोना के नए मामले 7 हजार के पार पहुंच गए हैं। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, गुरुवार (8 अप्रैल) को पिछले 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 7437 नए मामले सामने आए हैं, जो पिछले साल 19 नवंबर के बाद 1 दिन में सबसे ज्याद नए मामले हैं। पिछले साल 19 नवंबर को 7546 नए मामले रिपोर्ट हुए थे। वहीं दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 24 लोगों की मौत भी हुई है और पॉजिटिविटी रेट 8 फीसदी के पार पहुंच चुका है। गुरुवार को दिल्ली में कोरोना संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 6,98,005 हो गए हैं। इनमें अबतक 6,63,667 लोग ठीक हो चुके हैं। इसके अलावा दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 11,157 हो गई है। दिल्ली में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 23,181 हो गई है। इसमें से 4212 अस्पतालों में भर्ती है जबकि होम आईसोलेशन में 11,367 रोगियों का और कोविड केंद्रों में 165 मरीजों का इलाज किया जा रहा है।

दिल्ली में गुरुवार को 83 हजार से अधिक लोगों को टीका लगाया गया 

दिल्ली में गुरुवार (8 अप्रैल) को 83 हजार से अधिक लाभार्थियों ने कोविड-19 का टीका लगवाया। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि शाम 6 बजे तक कम से कम 83,437 लोगों को टीके की खुराक दी जा चुकी है। उन्होंने बताया कि इनमें से 72,267 लाभार्थियों को पहली खुराक दी गयी और 11,170 को दूसरी खुराक लगाई गयी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। दिल्ली में बढ़ते कोरोना के बीच केजरीवाल सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को लेकर लिया ये बड़ा फैसला News in Hindi के लिए क्लिक करें दिल्ली सेक्‍शन
Write a comment
X