1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. दिल्ली में कोविड-19 के 40 नए मामले, किसी भी संक्रमित की मौत नहीं, संक्रमण दर 0.08 प्रतिशत

दिल्ली में कोविड-19 के 40 नए मामले, किसी भी संक्रमित की मौत नहीं, संक्रमण दर 0.08 प्रतिशत

इस बीच पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव को फिर से एक पत्र लिखकर पराली जलाने के मुद्दे पर चर्चा के लिए एनसीआर के सभी राज्यों के साथ आपात बैठक बुलाने का अनुरोध किया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 11, 2021 19:36 IST
Delhi Records 40 New COVID-19 Cases, Zero Death In A Day- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के 40 नये मामले सामने आये।

नयी दिल्ली: दिल्ली में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के 40 नये मामले सामने आये एवं संक्रमण दर 0.08 फीसदी रही और किसी भी संक्रमित की मौत नहीं हुई है। यह जानकारी दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े से मिली। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 14,40,270 हो गई है जबकि 14.14 लाख से ज्यादा लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। दिल्ली में वायरस के कारण अबतक 25,091 लोगों की जान जा चुकी है। राष्ट्रीय राजधानी में इस महीने अबतक किसी भी संक्रमित की मृत्यु होने की सूचना नहीं है।

स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में अक्टूबर में कोविड-19 से पीड़ित चार मरीजों की मौत हुई थी जबकि सितंबर में पांच संक्रमितों की मृत्यु हुई थी। बुलेटिन के मुताबिक, बृहस्पतिवार को संक्रमण दर 0.08 प्रतिशत रही जबकि एक दिन पहले 49,912 नमूनों की जांच की गई। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को 54 नए मामले सामने आये थे तथा संक्रमण दर 0.09 फीसदी थी जबकि मंगलवार को 33 नए मरीज मिले थे और संक्रमण दर 0.06 प्रतिशत थी।

इस बीच पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव को फिर से एक पत्र लिखकर पराली जलाने के मुद्दे पर चर्चा के लिए एनसीआर के सभी राज्यों के साथ आपात बैठक बुलाने का अनुरोध किया। राय ने इस संबंध में सबसे पहले सात नवंबर को पत्र लिखा था जिस पर अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता पूर्वानुमान एजेंसी सफर के अनुसार, दिल्ली में पीएम 2.5 प्रदूषण में कम से कम 25 प्रतिशत योगदान पराली जलाने का है और यह आंकड़ा चार नवंबर से लेकर आठ दिनों तक का है। 

राय ने अपने नए पत्र में लिखा, ‘‘पड़ोसी राज्यों में अनियंत्रित और निरंतर पराली जलाने को रोकने के लिए इस स्तर पर केंद्र के हस्तक्षेप की तत्काल आवश्यकता है। पराली जलाने का असर दिल्ली की वायु गुणवत्ता पर पड़ रहा है।’’ इसमें कहा गया है, ‘‘हवा में प्रदूषक तत्वों का जमाव बढ़ गया है। पिछले हफ्ते से एनसीआर के पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने के साथ ही हालात बिगड़ गए हैं। अत: यह दोहराया जाता है कि पराली जलाने और क्षेत्र में वायु प्रदूषण नियंत्रित करने के मुद्दे पर चर्चा के लिए दिल्ली के सभी पड़ोसी राज्यों के पर्यावरण मंत्रियों के साथ एक आपात बैठक बुलायी जाए।’’ 

bigg boss 15