Friday, July 12, 2024
Advertisement

18 महीने की बच्ची को पिता ने नहर में फेंका, कांवड़िए ने बचाई जान, सामने आई ये कहानी

हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में एक शख्स ने अपनी 18 महीने की बच्ची को जान लेने के इरादे से नहर में फेंक दिया था, लेकिन एक कांवड़िए ने उसे बचा लिया।

Edited By: Vineet Kumar Singh @JournoVineet
Published on: July 18, 2023 7:10 IST
Kanwariya Saves Girl, Girl Thrown in Canal, Daughter in Canal- India TV Hindi
Image Source : PTI REPRESENTATIONAL आरोपी अपनी दोनों बेटियों को नहर में फेंकना चाहता था।

कुरुक्षेत्र: हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में एक शख्स को अपनी 18 महीने की बच्ची को कथित तौर पर नहर में फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस द्वारा सोमवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, बच्ची को एक कांवड़िये ने बचा लिया। पुलिस ने बताया कि पेहवा के निवासी बलकार सिंह ने 12 जुलाई को ज्योतिसार के पास अपनी बेटी को कथित रूप से नहर में फेंक दिया था। उसने बताया कि बलकार सिंह के साथ-साथ उसके भाई कुलदीप सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

कांवड़िये ने नहर में कूदकर बचाई बच्ची की जान

पुलिस के मुताबिक, जब बलकार सिंह अपनी बच्ची को नहर में फेंक रहा था, उसी समय एक कांवड़िया भी वहीं मौजूद था। कांवडिये ने देखा कि नरवाना शाखा नहर के सरस्वती फीडर में कोई बच्चे को गिराकर भाग रहा है। पुलिस ने बताया कि कांवड़िये ने नहर में कूदकर बच्चे को बचा लिया। उसने राउगढ़ गांव के ‘कांवड़िया केंद्र’ के प्रभारी को बच्ची को सौंप दिया, जहां से बच्ची को ज्योतिसार में पुलिस के पास पहुंचा दिया गया। पुलिस ने बताया कि बच्ची का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

दोनों बेटियों को नहर में फेंकना चाहता था आरोपी
ज्योतिसार चौकी प्रभारी महिंदर सिंह ने सोमवार को बताया कि बलकार सिंह की दूसरी पत्नी से 2 बेटियां थीं और वह दोनों को फेंक देना चाहता था। आरोपी ने अपनी छोटी बेटी को कथित तौर पर नहर में फेंकने के बाद अपनी पत्नी को फोन किया जो लुधियाना गई थी और उसे बताया कि उसने क्या किया है। उसने कथित तौर पर पत्नी से लोगों को यह बताने के लिए कहा कि उन्होंने अपनी बेटी को किसी को गोद दे दिया है। आरोपी ने अपनी पत्नी को सच बताने पर कथित तौर पर जान से मारने की धमकी भी दी।

आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा गया
पुलिस ने कहा कि आरोपी दोनों बेटियों को फेंकना चाहता था लेकिन बड़ी बेटी ने रोना शुरू कर दिया और बलकार सिंह भाग गया। पत्नी ने वापस आकर अपने ससुर और अन्य रिश्तेदारों को जानकारी दी, जिसके बाद पुलिस को मामले की सूचना दी गयी। इसके बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को अदालत के सामने पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया। (भाषा)

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हरियाणा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement