Viral Disease: वायरल बुखार के साथ पैर पसार रहा कोरोना, स्वामी रामदेव से जानिए इन बीमारियों को दूर रखने के लिए योग और प्राणायाम

Swami Ramdev Tips for Avoid Viral Disease: बारिश के मौसम में डेंगू और मलेरिया के साथ कई तरह की बीमारियां तेजी से फैल रही हैं। लेकिन योग और प्राणायाम की मदद से इनसे बचा जा सकता है।

India TV Lifestyle Desk Written By: India TV Lifestyle Desk
Published on: August 17, 2022 11:08 IST
Swami Ramdev - India TV Hindi News
Image Source : TWITTER_PATANJALIYOGPEETH Swami Ramdev

Highlights

  • वायरल बुखार को हल्के में ना लें
  • कोरोना भी पसार रहा है पैर
  • जानिए योग और प्राणायाम से कैसे रहें स्वस्थ

Swami Ramdev Tips for Avoid Viral Disease: इन दिनों धूप-छांव के बीच बरसात भी लगातार आंख मिचौली खेल रही है। इसी मौसम में बेहद सावधान रहने की ज़रूरत है। क्योंकि हर पल बदलते मौसम के ये तेवर सेहत पर भारी पड़ रहे हैं। लोग वायरल फीवर और बैक्टीरियल इंफेक्शन की चपेट में आ रहे हैं। नतीजा यह है कि 24 घंटे सिरदर्द रहता है, सर्दी-खांसी, बॉडीपेन और पेट में भयंकर दर्द होता है। लूज़ मोशन-वॉमिट के साथ मरीज़ मांसपेशियों में अकड़न की शिकायत कर रहे हैं। इस वायरल में प्लेटलेट्स भी तेज़ी से गिरने लगते हैं जिससे खतरा और बढ़ जाता है। ऐसे में आज स्वामी रामदेव से जानिए कैसे योग, प्राणायाम और आयुर्वेद की मदद से इन बीमारियों को दूर भगाया जा सकता है।   

कोरोना भी कर रहा है वार

डरने वाली बात तो ये भी है कि वायरल फीवर की आड़ में छिपकर कोरोना वायरस भी वार कर रहा है। हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि लक्षण एक जैसे होने की वजह से लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि उन्हें वायरल हुआ है या कोरोना। बच्चों पर तो इन दोनों ही बीमारियों का ज़बरदस्त अटैक हो रहा है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक जो बच्चे मार्च-अप्रैल में पॉज़िटिव हुए थे वो दोबारा इन्फेक्टेड हो रहे हैं। तो डेंगू, मलेरिया और वायरल फीवर भी बड़ों के साथ-साथ बच्चों को भी अपना निशाना बना रहे हैं।

Heart Disease: युवाओं के दिल पर मंडरा रहा बीमारियों का खतरा, स्वामी रामदेव से जानिए बचने के उपाय

हैंड फुट और माउथ डिज़ीज़ भी जोरों पर 

सेहत पर मंडराता खतरा तो कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। इन दिनों बच्चों में हैंड फुट और माउथ डिज़ीज़ भी तेज़ी से फैल रही है। इसमें अचानक बच्चों के मुंह में छाले हो जाते हैं। हाथ पैर पर लाल लाल दाने निकल आते हैं और ये बीमारी एक बच्चे से दूसरे बच्चों में फैलने का खतरा भी बना रहता है। 

इन सीजनल बीमारियों से कैसे बचें 

ऐसे में सवाल ये उठता है कि बच्चे और बड़े सीज़नल बीमारियों के अटैक से कैसे बचे? कैसे इम्यूनिटी इतनी स्ट्रॉन्ग बनाएं कि कोरोना, बैक्टीरियल इंफेक्शन, वायरल फीवर शरीर के डिफेंस सिस्टम को ना भेद पाए? तो जवाब ये है कि बीमारियां जितनी खतरनाक हैं, योग-आयुर्वेद में इनसे बचाव के तरीके उतने ही आसान हैं। 

सेहत को कैसे रखें सालों-साल तक तंदुरुस्त, स्वामी रामदेव से जानिए सेहतमंद रहने के उपाय

क्या हैं बीमारियों के लक्षण 

वायरल फीवरः वायरल फीवर में मरीज को सर्दी, खांसी, शरीर में दर्द, कमजोरी, पेट दर्द एवं दस्त हो सकते हैं। 5-7 दिनों में ये ठीक हो जाता है। 

बैक्टेरियल फीवरः बैक्टेरियल फीवर में बुखार, शरीर में दर्द और उल्टी होती है।  

मलेरियाः बुखार, सिरदर्द, जाड़ा देकर बुखार आना।

ये हैं आयर्वेदिक औषधियां

1 गिलोय, तुलसी, अश्वगंधा बेहद फायदेमंद हैं। 

2 अर्जुन की छाल-दालचीनी का काढ़ा पीएं, 2-3 ग्राम अर्जुन छाल पानी में पकाएं, काढ़ा पूरी तरह उबल जाने पर पीएं। 

अच्छी सेहत के लिए, क्या खाएं

  • नाश्ते में अंकुरित खाएं
  • मल्टीग्रेन दलिया डायजेशन के लिए बहुत अच्छा
  • लौकी, गाजर का जूस जरूर लें 
  • ज्यादा फैट वाले खाने से दूर रहें 
  • डाइट में दूध या दही-छाछ शामिल करें
  • रात का भोजन 7 बजे से पहले करें

डायजेशन के लिए ये करें उपाय 

  • बेल का पाउडर खाली पेट लें
  • व्हीट ग्रास-एलोवेरा जूस लें 
  • हल्का खाना खाएं,समय पर खाएं
  • मिर्च-मसाला,तला-भुना कम खाएं
  • डाइट में दूध या दही-छाछ जरूर लें 
  • सौंफ,अजवाइन का गुनगुना पानी पीएं 

ये योगासन हैं रामबाण, बुखार का होगा काम तमाम

सूर्य नमस्कार 

  • इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग करता है
  • एनर्जी लेवल बढ़ाने में सहायक
  • वजन घटाने में मददगार 
  • शरीर को डिटॉक्स करता है
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है
  • पाचन तंत्र बेहतर होता है
  • शरीर को ऊर्जा मिलती है
  • फेफड़ों तक पहुंचती है ज्यादा ऑक्सीजन 

 सर्वांगासन

  • तनाव और चिंता से मुक्ति मिलती है
  • एकाग्रता बढ़ाता है 
  • याद की हुई चीजें भूलते नहीं 
  • सिरदर्द ठीक करता है

सिंहासन 

  • गले और फेफड़ों को मजबूत बनाता है 
  • चेहरे की एक्सरसाइज़ होती है 
  • पैरों की ऐंठन को कम करता है

मंडूकासन

  • डायबिटीज को दूर करता है 
  • पेट और हृदय के लिए भी लाभकारी
  • पेट और हृदय के लिए भी लाभकारी
  • पाचन तंत्र सही होता है 
  • लिवर, किडनी को स्वस्थ रखता है

ताड़ासन

  • ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है
  • घुटने, टखने मजबूत बनते हैं
  • दर्द-थकान मिटाने में मददगार
  • रोज अभ्यास से लंबाई बढ़ती है 
  • दिल को मजबूत बनाता है

तिर्यक ताड़ासन

  • शरीर लचीला रहता है
  • वजन घटाने के लिए कारगर
  • ये आसन लंबाई बढ़ाता है 
  • दिल को मजबूत बनाता है
  • रोज करने से शरीर काफी लचीला होता है
  • कमर की चर्बी पूरी तरह खत्म हो जाती है
  • कद बढ़ाने में भी मदद मिलती है
  • वजन घटाने में मदद मिलता है
  • मन को शांत रखने में सहायक

दंड-बैठक के लाभ 

  • मसल्स को मजबूत बनाता है
  • सीना और भुजाएं चौड़ी होती हैं
  • हृदय रोग से बचा जा सकता है
  • पैरों और जांघों को मजबूती मिलती है
  • दंड बैठक से डिप्रेशन दूर होता है
  • शरीर के मसल्स मजबूत होते हैं

सर्वांगासन

  • तनाव और चिंता से मुक्ति मिलती है
  • एकाग्रता बढ़ाता है 
  • याद की हुई चीजें भूलते नहीं 
  • सिरदर्द ठीक करता है
  • तनाव और चिंता से मुक्ति मिलती है
  • दिल तक शुद्ध रक्त पहुंचता है
  • एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है

वज्रासन

  • ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है
  • रीढ़ की हड्डी और कंधे सीधे होते हैं
  • पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं 
  • हार्ट के लिए फायदेमंद 
  • पेट के लिए बेहद कारगर आसन

यूथ पर बीमारी क्यों है भारी ? जानिए स्वामी रामदेव से पूरा देश को सेहतमंद बनाने के कारगर उपाय

Latest Health News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन