1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कश्मीर: हिजबुल मुजाहिद्दीन के शीर्ष कमांडर का Encounter, डोडा में सुरक्षाबलों ने मार गिराया

कश्मीर: हिजबुल मुजाहिद्दीन के शीर्ष कमांडर का Encounter, डोडा में सुरक्षाबलों ने मार गिराया

जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले में बुधवार को सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ के दौरान हिजबुल मुजाहिदीन के एक शीर्ष आतंकवादी को मार गिराया जबकि उसका एक साथी भाग निकलने में सफल रहा।

Bhasha Bhasha
Updated on: January 15, 2020 20:03 IST
Security personnel- India TV Hindi
Image Source : PTI Security personnel

जम्मू: जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले में बुधवार को सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ के दौरान हिजबुल मुजाहिदीन के एक शीर्ष आतंकवादी को मार गिराया जबकि उसका एक साथी भाग निकलने में सफल रहा। जम्मू क्षेत्र के जनसंपर्क अधिकारी (रक्षा) लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने बताया कि जिले के गोंडाना इलाके में सेना और पुलिस के जवानों की संयुक्त टीम की आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ हुयी। अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा बलों को इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी मिली थी। 

A++ श्रेणी का आतंकवादी था हारून

डोडा-किश्तवाड़-रामबन रेंज के पुलिस उप महानिरीक्षक सुजीत कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन का सदस्य हारून वानी मारा गया, जो ए ++ श्रेणी का आतंकवादी था। वह जिले के गट्टा इलाके का रहने वाला था। उन्होंने कहा कि एक अन्य आतंकवादी बर्फीले क्षेत्रों की ओर भाग गया और उसे पकड़ने के लिए अभियान जारी है। कुमार ने कहा कि एक एके-47 राइफल, तीन मैगजीन, 73 कारतूस, एक चीनी ग्रेनेड और एक रेडियो सेट बरामद किए गए हैं। 

हिजबुल मुजाहिदीन का जिला कमांडर था हारून 

डोडा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुमताज अहमद ने बताया कि संयुक्त टीमों ने कल रात तलाशी अभियान शुरू किया था और बुधवार सुबह आठ बजे वे वांछित आतंकवादी को मार गिराने में सफल रहे। हारून हिजबुल मुजाहिदीन का जिला कमांडर था। अधिकारियों ने बताया कि इंजीनियर गुलाम अब्बास वानी का पुत्र हारून पहली बार सुर्खियों में तब आया था जब एक एके-47 राइफल के साथ उसकी तस्वीर सितंबर 2018 में सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी और वह प्रतिबंधित संगठन में शामिल हुआ था। 

कभी होनहार छात्र था हारून!

हारून डोडा के गुलाम अब्बास वानी के आठ बच्चों में से एक था। अधिकारियों के अनुसार वानी के सभी बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त हैं। हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल होने से पहले हारून ने कटरा विश्वविद्यालय से एमबीए पूरा किया और एक निजी कंपनी में काम कर रहा था। उसके रिश्तेदारों के अनुसार, वह एक होनहार छात्र था।

सोमवार को भी मारे गए दो आतंकी 

इससे पहले सोमवार को भी सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर में दो अलग-अलग जगहों पर एनकाउंटर में दो आतंकियों को ढेर किया था। बडगाम में हुए एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया था। सुरक्षाबलों ने आतंकी के पास से हथियार और गोलाबारूद बरामद भी किया था। केंद्रीय कश्मीर के बडगाम जिले के छतरगाम इलाके में हुआ ये एनकाउंटर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ का ज्वाइंट ऑपरेशन था।

वहीं, सोमवार को दूसरा एनकाउंटर जम्मू-कश्मीर के ही पुलवामा में हुआ था। यहां भी सुरक्षाबलों के एक आतंकवादी को मार गिराया। इस आतंकी के पास से भी हथियार और गोलाबारूद बरामद किया। इस तरह से सोमवार को दो अलग-अलग जगहों पर दो ही आतंकियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया। जबकि इससे पहले रविवार को सुरक्षाबलों ने कश्मीर में तीन आतंकियों को ढेर किया था।

रविवार को तीन आतंकी किए ढेर

रविवार को पुलवामा जिले के त्राल में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के तीन “सर्वाधिक वांछित” आतंकवादी मारे गए। पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि आतंकवादी-सीर गांव के उमर फयाज लोन उर्फ “हमद खान”, मंदूरा के फैजान हामिद और मोनघामा के आदिल बशीर मीर उर्फ “अबु दुजाना”- आतंक अपराधों में उनकी मिलीभगत के लिए वांछित थे। इन अपराधों में सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर हमले और आम नागरिकों पर अत्याचार शामिल हैं। 

उन्होंने कहा था कि तीनों प्रतिबंधित हिज्बुल मुजाहिदीन आतंकवादी संगठन के साथ संबद्ध थे और पुलिस एवं सुरक्षा बलों के संयुक्त घेराव एवं तलाश अभियान के दौरान उन्हें पकड़ा गया था। त्राल के गुजर बस्ती गुलशनपोरा में उनकी मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद यह अभियान शुरू किया गया था। प्रवक्ता ने कहा था कि तलाश के दौरान, आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोली चला दी, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हुई। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X