ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सुमित अंतिल को 6 करोड़, कथूनिया को 4 करोड़ रूपए पुरस्कार देगी हरियाणा सरकार

सुमित अंतिल को 6 करोड़, कथूनिया को 4 करोड़ रूपए पुरस्कार देगी हरियाणा सरकार

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि सुमित अंतिल ने स्वर्ण पदक जीतकर हरियाणा ही नहीं बल्कि पूरे देश का दिल जीता है। उन्होंने कहा कि योगेश कथूनिया ने भी प्रदेश के साथ देश का नाम रोशन किया है।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 30, 2021 22:19 IST
सुमित अंतिल को 6 करोड़, कथूनिया को 4 करोड़ रूपए पुरस्कार देगी हरियाणा सरकार - India TV Hindi
Image Source : INDIA TV सुमित अंतिल को 6 करोड़, कथूनिया को 4 करोड़ रूपए पुरस्कार देगी हरियाणा सरकार 

नयी दिल्ली/चंडीगढ: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सोमवार को तोक्यो पैरालम्पिक में विश्व रिकॉर्ड के साथ भालाफेंक में स्वर्ण पदक जीतने वाले सुमित अंतिल को छह करोड़ रूपये और रजत पदक जीतने वाले चक्काफेंक खिलाड़ी योगेश कथूनिया को चार करोड़ रूपये पुरस्कार देने की घोषणा की। एक बयान के अनुसार, हरियाणा सरकार दोनों को सरकारी नौकरी भी देगी। मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा कि अंतिल ने स्वर्ण पदक जीतकर हरियाणा ही नहीं बल्कि पूरे देश का दिल जीता है। उन्होंने कहा कि कथूनिया ने भी प्रदेश के साथ देश का नाम रोशन किया है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने अंतिल से कहा: आपकी जीत युवाओं को प्रेरित करेगी 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वर्ण जीतने के बाद अंतिल से फोन पर बात करके कहा था कि उनके प्रदर्शन से युवाओं को प्रेरणा मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तोक्यो पैरालंपिक में स्वर्ण पदक जीतने पर भाला फेंक खिलाड़ी सुमित अंतिल को बधाई दी और कहा कि उनका ऐतिहासिक प्रदर्शन युवाओं को प्रेरित करेगा। अंतिल ने सोमवार को पुरूषों की एफ64 स्पर्धा में विश्व रिकार्ड तोड़ते हुए स्वर्ण पदक जीता। हरियाणा के सोनीपत के 23 साल के सुमित ने अपने पांचवें प्रयास में 68.55 मीटर दूर तक भाला फेंका जो एक नया विश्व रिकार्ड है। 

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, 'हमारे खिलाड़ियों का पैरालंपिक में शानदार प्रदर्शन जारी है। देश को सुमित अंतिल के रिकार्ड तोर्ड प्रदर्शन पर गर्व है। प्रतिष्ठित स्वर्ण पदक जीतने पर उन्हें बधाई और भविष्य के लिए ढेर सारी शुभकामनाएं।' बाद में प्रधानमंत्री ने अंतिल से फोन पर बात की और उन्हें ढेर सारी बधाई दी। अधिकारियों के मुताबिक प्रधानमंत्री ने अंतिल से कहा, 'आपने देश का नाम रौशन किया है।' उन्होंने अंतिल की खेल भावना की भी सराहना की और कहा कि देश के युवा उनसे प्रेरित होंगे। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि अंतिल ने अपने शानदार प्रदर्शन से अपने पूरे परिवार को भी गौरवान्वित किया है। अंतिल ने वर्ष 2015 में एक मोटरबाइक दुर्घटना में अपना बायां पैर घुटने के नीचे से गंवा दिया था। दुर्घटना के बाद उनके बायें पैर को घुटने के नीचे से काटना पड़ा। इस दुर्घटना से पहले वह पहलवान थे। एफ64 स्पर्धा में एक पैर गंवा चुके एथलीट कृत्रिम अंग (पैर) के साथ खड़े होकर हिस्सा लेते हैं।

पैरालंपिक में भाला फेंक स्पर्धा में सुमित अंतिल का ऐतिहासिक प्रदर्शन गर्व की बात: राष्ट्रपति 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को तोक्यो पैरालंपिक में भाला फेंक स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने के लिए सुमित अंतिल को बधाई देते हुए कहा कि उनका ऐतिहासिक प्रदर्शन देश के लिए बहुत गर्व का क्षण है। भाला फेंक खिलाड़ी सुमित अंतिल ने सोमवार को यहां पुरुषों की एफ64 स्पर्धा में कई बार विश्व रिकार्ड तोड़ते हुए भारत को पैरालंपिक में दूसरा स्वर्ण पदक दिलाकर खेलों में शानदार पदार्पण किया।

राष्ट्रपति कोविंद ने ट्वीट किया, 'पैरालंपिक में भाला फेंक स्पर्धा में सुमित अंतिल का ऐतिहासिक प्रदर्शन देश के लिए बहुत गर्व का क्षण है। स्वर्ण पदक जीतने और नया विश्व रिकॉर्ड बनाने पर बधाई। मंच पर राष्ट्रगान सुनने के लिए हर भारतीय उत्सुक है। आप एक सच्चे चैंपियन हैं।' निशानेबाज अवनि लेखरा ने सुबह महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्टैंडिंग एसएच1 स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता था। 

elections-2022