1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Exclusive: गुजरात में 100 से ज्यादा हिंदू आदिवासियों का कराया गया धर्मान्तरण, 4 आरोपी गिरफ्तार

Exclusive: गुजरात में 100 से ज्यादा हिंदू आदिवासियों का कराया गया धर्मान्तरण, 4 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने नौ लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज किया है। इनमें से चार लोगों- अब्दुल अजीज पटेल (अजित छगन पटेल), यूसुफ जीवण पटेल (महेंद्र जीवण वसावा), अय्युब बरकत पटेल (रमण बरकत वसावा) और इब्राहिम पूना पटेल (जितु पूना वसावा) को गिरफ्तार भी किया गया है।

Nirnay Kapoor Nirnay Kapoor @nirnaykapoor
Updated on: November 18, 2021 0:04 IST
Exclusive: गुजरात में 100 से ज्यादा हिंदू आदिवासियों का कराया गया धर्मान्तरण, 4 आरोपी गिरफ्तार- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Exclusive: गुजरात में 100 से ज्यादा हिंदू आदिवासियों का कराया गया धर्मान्तरण, 4 आरोपी गिरफ्तार

Highlights

  • भरूच के कांकरिया गांव का मामला
  • 37 आदिवासी परिवारों का धर्म परिवर्तन कराया गया
  • धर्म परिवर्तन के लिए विदेश से आता था पैसा

भरूच (गुजरात): गुजरात में बड़े पैमाने पर गरीब आदियावसियों का धर्म परिवर्तन कराने वाले रैकेट का पर्दाफाश हुआ है। गरीब आदिवासियों को पैसे, मकान और शादी का लालच देकर इस्लाम कबूल करवाया जा रहा था। भरूच जिले के जिस कांकरिया गांव में कुछ साल पहले तक एक भी मुसलमान नहीं था, अब वहां सौ से ज्यादा लोगों ने इस्लाम कबूल कर लिया है। 37 आदिवासी परिवारों का धर्म परिवर्तन करा दिया गया है। अब गांव में मस्जिद बन रही है और कब्रिस्तान भी बन गया है।

आदिवासियों का धर्म परिवर्तन कराने का सिलसिला कई सालों से चल रहा था। अब मामला इसलिए सामने आया क्योंकि एक ऐसे व्यक्ति ने शिकायत की, जिसने खुद इस्लाम कबूल किया था। इस व्यक्ति की शिकायत के बाद पुलिस ने नौ लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज किया है। इनमें से चार लोगों- अब्दुल अजीज पटेल (अजित छगन पटेल), यूसुफ जीवण पटेल (महेंद्र जीवण वसावा), अय्युब बरकत पटेल (रमण बरकत वसावा) और इब्राहिम पूना पटेल (जितु पूना वसावा) को गिरफ्तार भी किया गया है।

पहले एक फैमिली को कनवर्ट किया गया, फिर धीरे-धीरे ब्रेनवॉश करके 37 परिवारों को इस्लाम कबूल कराया गया। प्रवीण बसावा वो शख्स है, जो पहले धर्म परिवर्तन के बाद सलमान बन गया था। प्रवीण ने ही पुलिस से शिकायत की है, जिसके बाद यह मामला सामने आया। प्रवीण ने बताया कि गरीब गांव वालों को पैसे, पक्के मकान और इस्लाम कबूल करने पर दूसरी शादी कराने का भी वादा किया जाता है। प्रवीण ने बताया कि धर्म परिवर्तन के नाम पर विदेश से पैसा आता है लेकिन ज्यादातर पैसा बिचौलिए हड़प लेते हैं। 

प्रवीण का कहना है कि गरीब आदिवासियों से बड़े-बड़े वादे किए जाते हैं। लेकिन, एक बार कलमा पढ़ लिया तो फिर हजार, पांच सौ रुपये और थोड़ा सा अनाज देकर भगा दिया जाता है। जो बातें प्रवीण वसावा ने बताई, उसे गांव के सरपंच ने भी कनफर्म किया। कांकरिया गांव के सरपंच ने बताया कि काफी वक्त से उनके गांव में लालच देकर धर्म परिवर्तन करवाने वाला गैंग एक्टिव है। लेकिन चूंकि पहले कोई शख्स सामने आता नहीं था इसलिए पुलिस कार्रवाई नहीं पाती थी।

पुलिस ने जब इस मामले की जांच शुरू की तो चौंकाने वाली बाते सामने आईं। पता चला कि धर्म परिवर्तन के खेल का मास्टरमाइंड लंदन में रहने वाला हाजी अब्दुल फेफडावाला है। पुलिस ने बताया कि हाजी अब्दुल ब्रिटेन में मजलिस-ए-अल फलह नाम का ट्रस्ट चलाता है और इसी की आड़ में वो धर्म परिवर्तन के लिए पैसों का बंदोबस्त करता है। पुलिस को इस बात के सबूत मिले हैं कि धर्म परिवर्तन के लिए साठ करोड़ रुपये से ज्यादा का फंड विदेश से आया है।

bigg boss 15