1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. छत्तीसगढ़ के रायपुर में 9 से 19 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन, बढ़े कोरोना के नए मामले

छत्तीसगढ़ के रायपुर में 9 से 19 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन, बढ़े कोरोना के नए मामले

कोरोना वायरस के बढ़ते नए मामलों की देखते हुए छत्तीसगढ़ के रायपुर में 9 से 19 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन लागू करने का फैसला लिया गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: April 07, 2021 17:46 IST
Raipur,Raipur complete lockdown,Raipur lockdown,Raipur lockdown from 9 to 19 April,Raipur  Corona ca- India TV Hindi
Image Source : PTI Raipur complete lockdown from 9 to 19 April Corona cases छत्तीसगढ़ के रायपुर में 9 से 19 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन, बढ़े कोरोना के नए मामले

रायपुर: कोरोना वायरस के बढ़ते नए मामलों की देखते हुए छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 10 दिन का लॉकडाउन लगने वाला है। यह लॉकडाउन 9 अप्रैल की शाम 6 बजे से 19 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक रहेगा। इस दौरान रायपुर जिले की सभी सीमाएं पूरे तरीके से सील रहेंगी। सिर्फ मेडिकल दुकानों को निर्धारित समय में खोलने की अनुमति होगी।

मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी कर सकेंगे। सभी धार्मिक, सांस्कृतिक और पर्यटन स्थल आम जनता के लिए बंद रहेंगे। संपूर्ण जिले की शराब की दुकानें बंद रहेंगी। सभी प्रकार की सभा, जुलूस और सामाजिक, धार्मिक तथा राजनीतिक आयोजनों पर प्रतिबंध रहेगा।

पेट्रोल पंप सिर्फ सरकारी वाहनों,एटीएम कैश वैन, अस्पताल मेडिकल इमरजेंसी से संबंधित निजी वाहन और अति आवश्यक कार्य में लिप्त वाहनों को ही पेट्रोल दे सकेंगे। इनके अलावा बाकि सभी के लिए पेट्रोल की सुविधा बंद रहेगी। दूध पार्लर वालों को सुबह में 6 बजे से 8 बजे तक और शाम में 5 से 6:30 बजे तक ही दूध बांटने की अनुमति रहेगी।

न्यूजपेपर बांटने वालों के लिए भी समय तय किया गया है। एलपीजी गैस सिलेंडर की एजेंसी केवल टेलीफोनिक या ऑनलाइन आर्डर ले सकेंगी। औद्योगिक संस्थाएं और निर्माण इकाइयां अपने कैंपस के भीतर ही मजदूरों को रखकर आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योगों का संचालन और निर्माण कार्य करेंगे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि अस्पताल प्रबंधन बीमारी की गंभीरता के आधार पर मरीजों को अस्पताल में बिस्तर उपलब्ध कराएं। राज्य में जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने बताया कि सीएम ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह कोरोना संक्रमण की गंभीरता के हिसाब से मरीजों को अस्पतालों में बिस्तर उपलब्ध कराएं न कि सिफारिश या दबाव में।

बघेल ने कहा कि मरीजों को किसी सिफारिश या दबाव के आधार पर बिस्तर नहीं उपलब्ध कराएं जाए जिससे केवल जरूरतमंद मरीजों को ही बिस्तर उपलब्ध हो सकेंगे और अनावश्यक रूप से कोई बिस्तर नहीं ले सकेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कोविड टीकाकरण तेजी से हो रहा है और कोरोना संक्रमण जांच की संख्या भी लगातार बढ़ाई जा रही है। उन्होंने कहा, ‘‘राज्य में संक्रमण की दर और रोज हो रही मौतें चिंताजनक है।’’ उन्होंने लोगों से अपील की कि वे अनावश्यक रूप से घरों से न निकलें और कोविड दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करें।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में मंगलवार को कोविड-19 के 9,921 नये मामले सामने आए। इसके साथ ही, राज्य संक्रमितों की कुल संख्या बढ़ कर 3,86,269 हो गई। राज्य में पहली बार एक दिन में इतनी संख्या में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आए थे। 

मंगलवार को 65 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई। इस बीच, राज्य में कोरोना वायरस संक्रमित 53 और मरीजों की मौत हो गई है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X