1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. अरुणाचल प्रदेश के लापता युवक को चीनी सैनिकों ने भारतीय सेना को सौंपा, रिजिजू ने दी जानकारी

अरुणाचल प्रदेश के लापता युवक को चीनी सैनिकों ने भारतीय सेना को सौंपा, रिजिजू ने दी जानकारी

चीनी सैनिकों (पीएलए) ने अरुणाचल प्रदेश के युवक मिराम तारोन को आज अरुणाचल प्रदेश के वाचा दमाई में भारतीय सेना को सौंप दिया। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने ट्वीट करके ये जानकारी दी है। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि चीनी पीएलए ने अरुणाचल प्रदेश के युवक मिराम तारोन को भारतीय सेना को सौंप दिया है। मेडिकल जांच सहित उचित प्रक्रियाओं का पालन किया जा रहा है।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 27, 2022 15:21 IST
अरुणाचल प्रदेश के लापता युवक को चीनी सैनिकों ने भारतीय सेना को सौंपा, रिजिजू ने दी जानकारी- India TV Hindi
Image Source : ANI अरुणाचल प्रदेश के लापता युवक को चीनी सैनिकों ने भारतीय सेना को सौंपा, रिजिजू ने दी जानकारी

Highlights

  • PLA ने अरुणाचल प्रदेश के युवक मिराम तारोन को भारतीय सेना को सौंप दिया है- रिजिजू
  • 'मेडिकल जांच सहित उचित प्रक्रियाओं का पालन किया जा रहा है'
  • लापता युवक को लेकर भारतीय सेना ने 19 जनवरी को चीन से किया था सम्पर्क

नयी दिल्ली: कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने गुरुवार को बताया कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने अरुणाचल प्रदेश के लापता युवक को भारतीय सेना को सौंप दिया है। अरुणाचल प्रदेश के सियांग जिले से 19 वर्षीय मिराम तारोन 18 जनवरी को लापता हो गया था। मंत्री ने एक ट्वीट में बताया कि लड़के की चिकित्सकीय जांच सहित अन्य प्रक्रियाएं पूरी की जा रही हैं। कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने ट्वीट किया, ‘‘चीन के पीएलए ने अरुणाचल प्रदेश के मिराम तारोन को भारतीय सेना को सौंप दिया। चिकित्सकीय जांच सहित अन्य प्रक्रियाएं पूरी की जा रही हैं।’’

लोकसभा सांसद रिजिजू ने मंगलवार को बताया था कि चीन ने 20 जनवरी को भारतीय सेना को सूचित किया था कि उन्हें अपनी ओर एक लड़का मिला है और उसकी पहचान की पुष्टि के लिए और जानकारी मांगी थी। रिजिजू ने सोशल मीडिया पर एक बयान में कहा था, ‘‘पहचान की पुष्टि करने में चीन की मदद के लिए, भारतीय सेना ने उनके साथ उसका व्यक्तिगत विवरण और तस्वीर साझा की है। चीन के जवाब का इंतजार है।’’

बयान में कहा गया था, ‘‘ कुछ लोगों ने बताया है कि चीन के पीएलए ने उसे हिरासत में लिया है।’’ रिजिजू ने कहा था कि युवक के वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के करीब एक क्षेत्र से लापता होने के बाद भारतीय सेना ने तुरंत 19 जनवरी को चीन से सम्पर्क किया। उसके गलती से चीन के क्षेत्र में दाखिल होने या पीएलए के उसको हिरासत में लेने पर उसका पता लगाने तथा उसकी वापसी के लिए सहयोग मांगा। मंत्री ने कहा कि चीन ने आश्वासन दिया था कि वे उसकी तलाश करेंगे और स्थापित नियमों के तहत उसे वापस सौंप देंगे।

erussia-ukraine-news