Friday, April 19, 2024
Advertisement

NIA ने दो फरार बांग्लादेशियों को दबोचा, कर्नाटक में छिपे हुए थे, अब तक 14 गिरफ्तार

NIA ने बीते साल नवंबर महीने में राष्ट्रव्यापी छापेमारी के बाद एक रैकेट का भंडाफोड़ किया था। एनआईए ने जांच के दौरान पाया कि हलदर और इदरीस भारत-बांग्लादेश सीमा पर बेनापोल के माध्यम से अवैध रूप से भारत में घुस आए थे।

Reported By : T Raghavan Edited By : Subhash Kumar Updated on: February 23, 2024 19:38 IST
NIA की बड़ी कार्रवाई।- India TV Hindi
Image Source : ANI NIA की बड़ी कार्रवाई।

बांग्लादेश के रास्ते भारत में मानव तस्करी से जुड़े लोगों पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी NIA की कार्रवाई लगातार जारी है। एनआईए ने बांग्लादेश मानव तस्करी मामले में दो फरार बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों आरोपी बीते कई दिनों से फरार थे और एनआईए द्वारा इन्हें पकड़ने के लिए बड़े स्तर पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा था। आखिरकार NIA ने इन दोनों फरार बांग्लादेशियों को कर्नाटक से गिरफ्तार किया है। आइए जानते हैं पूरा मामला।

अब तक 14 बांग्लादेशी गिरफ्तार

NIA ने जानकारी दी है कि बड़े पैमाने पर की गई तलाशी के बाद भगोड़े मोहम्मद साजिद हलदर और इदरीस को कर्नाटक से गिरफ्तार किया गया है। दोनों भाग रहे थे, और कर्नाटक के आंतरिक सुरक्षा प्रभाग की सहायता से गुरुवार रात को उनका पता लगाया गया और उन्हें पकड़ लिया गया। इसके साथ ही इस मामले कुल गिरफ्तारियों की संख्या 14 हो गई है।

अवैध रूप से भारत में घुस बांग्लादेशी

दरअसल, NIA ने बीते साल नवंबर महीने में राष्ट्रव्यापी छापेमारी के बाद एक रैकेट का भंडाफोड़ किया था। एनआईए ने जांच के दौरान पाया कि हलदर और इदरीस भारत-बांग्लादेश सीमा पर बेनापोल के माध्यम से अवैध रूप से भारत में घुस आए थे। हलदर ने बेंगलुरु के राम मूर्ति नगर में के चनासंद्रा में इकाई की स्थापना की भी थी और अपने कार्यों में अन्य बांग्लादेशी नागरिकों को नियुक्त किया था। इदरीस ने 20 से अधिक बांग्लादेशी परिवारों के लिए जमीन पट्टे पर ली थी और तंबू लगाए थे, जिनके बारे में संदेह था कि उनके द्वारा तस्करी की गई थी। इन विवरणों की पुष्टि के लिए जांच जारी है।

भारत में दिलाते थे अवैध एंट्री

NIA ने कर्नाटक स्थित कुछ व्यक्तियों के असम, त्रिपुरा और सीमा पार के देशों में मददगारों और तस्करों के साथ संबंध होने के बारे में विश्वसनीय जानकारी मिलने के बाद 7 नवंबर 2023 को मामला दर्ज किया था। आरोपियों को पीड़ितों को फर्जी आधार कार्ड उपलब्ध कराने में भी शामिल पाया गया था। भारत-बांग्लादेश सीमा पर सक्रिय तस्करों पर NIA लगातार कार्रवाई जारी रखे हुए है। 

ये भी पढ़ें- भारत में चलने वाली बुलेट ट्रेन की स्पीड कितनी होगी, रेल मंत्री ने बताया कब तक हो जाएगी चालू


गांव की कम पढ़ी-लिखी और गरीब 12 महिलाओं के बैंक अकाउंट्स से करोड़ों का ट्रांजेक्शन, ED ने भेजा नोटिस

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement