1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. Guru Purima 2019: इस कारण मनाई जाती है गुरु पूर्णिमा, इन्हें माना जाता है ब्रह्मांड का पहला गुरु

Guru Purima 2019: इस कारण मनाई जाती है गुरु पूर्णिमा, इन्हें माना जाता है ब्रह्मांड का पहला गुरु

Guru Purima 2019: आषाढ़ पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा का पर्व मनाया जाता है। इस दिन का बहुत ही अधिक महत्व होता है। जानें पहले गुरु के बारें में।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: July 15, 2019 17:58 IST
Guru Purima 2019- India TV Hindi
Guru Purima 2019

Guru Purima 2019: आषाढ़ पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा का पर्व मनाया जाता है। इस दिन का बहुत ही अधिक महत्व होता है। कहते हैं गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) से लेकर अगले चार महीने अध्ययन के लिये बड़े ही उपयुक्त माने जाते हैं। साधु-संत भी इस दौरान एक स्थान पर रहकर। इस बार गुरु पूर्णिमा 16 जुलाई, मंगलवार को पड़ रही है।  हिंदू धर्म के अनुसार इसे गुरु को देवता के सामान माना जाता है। गुरु में हमेशा ब्रह्मा, विष्णु और महेश मानकर पूजा की जाती है।

गुरु पूर्णिमा मनाने का कारण

वेद व्यास को पूरी मनुष्य जगत का गुरु माना जाता है। जिन्होंने वेद, उपनिषद और पुराणों को प्रणयन किया है। महर्षि वेदव्यास का जन्म भी आषाढ़ पूर्णिमा को लगभग 3000 वर्ष पूर्व हुआ था। जिसके कारण ही हर साल गुरु पूर्णिमा के तौर में इसे मनाया जाता है। इस दिन उनके द्वारा रचित ग्रथों और इनकी तस्वीर की पूजा-अर्चना की जाती है।

सबसे पहले गुरु
पुरुणों के अनुसार, भगवान शिव ही पहले गुरु माने जाते है। शनि और परशुराम के साथ उनके 5 और शिष्य थे। जो आगे चलकर सात महर्षि के नाम से जाने जाते है। जिन्होंने शिव के ज्ञान को आगे तक पहुचांया। शिव जी ही थे जिन्होंने धरती में सभ्यता और धर्म को लेकर प्रचार किया। जिसके कारण ही उन्हें आदिगुरु के नाम से पुकारा जाता है।

ये भी पढ़ें-

Chandra grahan 2019: साल 2019 का आखिरी चंद्र ग्रहण है बेहद खास, जानें भारत में किस समय दिखेगा ग्रहण

Chandra Grahan 2019: चंद्र ग्रहण के समय बिल्कुल भी न करें ये काम, वर्ना होगा अशुभ

Chandra Grahan 2019: चंद्रग्रहण के 9 घंटे पहले लगेगा सूतक, सूतक काल में बंद रहेंगे चार धाम के कपाट

 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment
X