ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. मध्य-प्रदेश
  4. मध्य प्रदेश में कोरोना के 1,640 नए मामले आए, जूनियर डॉक्टरों ने दी हड़ताल की चेतावनी

मध्य प्रदेश में कोरोना के 1,640 नए मामले आए, जूनियर डॉक्टरों ने दी हड़ताल की चेतावनी

मध्य प्रदेश में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,640 नये मामले सामने आए तथा 68 और लोगों की मौत हो गयी। प्रदेश में इस वायरस से संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 7,77,349 हो गयी है। 

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: May 29, 2021 22:55 IST
मध्य प्रदेश में कोरोना के 1,640 नए मामले आए, जूनियर डॉक्टरों ने दी हड़ताल की चेतावनी- India TV Hindi
Image Source : ANI मध्य प्रदेश में कोरोना के 1,640 नए मामले आए, जूनियर डॉक्टरों ने दी हड़ताल की चेतावनी

भोपाल। मध्य प्रदेश में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,640 नये मामले सामने आए तथा 68 और लोगों की मौत हो गयी। प्रदेश में इस वायरस से संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 7,77,349 हो गयी है। वहीं, कोविड-19 से मृतक संख्या 7,959 हो गयी है। मध्य प्रदेश स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में शनिवार को कोविड-19 के 504 नये मामले इंदौर में आये, जबकि भोपाल में 324 एवं जबलपुर में 94 नये मामले आये। अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में कुल 7,77,349 संक्रमितों में से अब तक 7,38,491 मरीज स्वस्थ हो गये हैं और 30,899 मरीजों का इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटे में 4,995 रोगी स्वस्थ हुए हैं।

कोविड-19: जूनियर डॉक्टरों ने दी हड़ताल की चेतावनी

मध्य प्रदेश के लगभग 3,000 जूनियर डॉक्टरों ने राज्य सरकार से उनके और उनके परिवार के लिए मुफ्त इलाज और अन्य मांगे पूरी न होने पर हड़ताल (strike) पर जाने की चेतावनी दी है। एमपी जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अरविंद मीणा ने शनिवार को कहा, ‘‘अगर हमारी मांगे नहीं मानी जाती हैं तो जूनियर डॉक्टर सोमवार को काम नहीं करेंगे और मंगलवार से कोविड-19 की ड्यूटी बंद कर देंगे।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी मांग है कि कोविड-19 के रोगियों की सेवा करने वाले जूनियर डॉक्टर यदि संक्रमित होते हैं तो उनके लिये अलग-अलग क्षेत्रों में बिस्तर आरक्षित हों तथा ऐसे डॉक्टरों और उनके परिजनों का इलाज भी मुफ्त होना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि इसके साथ ही जूनियर डॉक्टरों के वेतन में वृद्धि किये जाने की आवश्यकता है। 

उन्होंने बताया कि प्रदेश के छह मेडिकल कॉलेजों के करीब तीन हजार जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन के सदस्य हैं। मीणा ने बताया, ‘‘हमने छह मई को विरोध किया था। लेकिन मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मांगों को पूरा करने का आश्वासन देने पर कुछ घंटों बाद ही काम शुरू कर दिया था।’’ उन्होंने दावा किया कि प्रदेश सरकार ने 23 दिन पहले मांगे पूरी करने का आश्वासन दिया था लेकिन उसके बाद से इस मामले में अब तक कुछ नहीं हुआ। 

elections-2022